अकाउंटेंट ने इस तरह से उड़ा लिए कंपनी के एक करोड़ रुपये, बैलेंस देखकर अधिकारी के उड़े होश

नोएडा सेक्‍टर एक स्थित भारत स्टार्स सर्विसेज कंपनी के अकाउंटेंट ने पत्नी के अकाउंट में ट्रांसफर किए 50 लाख रुपये, फरीदाबाद में एक घर भी खरीदा

By: sharad asthana

Published: 12 Nov 2017, 10:45 AM IST

नोएडा। एक करोड़ की धोखाधड़ी के आरोप में पुलिस ने कंपनी के अकाउंटेंट को गिरफ्तार किया है। आरोपी ने कंपनी के खाते से करीब 50 लाख रुपए अपनी पत्नी के खाते में ट्रांसफर किए थे। कंपनी की शिकायत पर कोतवाली सेक्टर 20 पुलिस ने आरोपी अकाउंटेंट को शुक्रवार को ऑफिस से गिरफ्तार कर लिया।

अप्रैल से नवंबर के बीच लगातार की धोखाधड़ी

सेक्टर-एक स्थित भारत स्टार्स सर्विसेज के वरिष्ठ प्रबंधक मनीष द्वारा पुलिस को दी गई शिकायत में कहा गया है कि उन्होंने अप्रैल 2017 में कंपनी का अकाउंट चेक किया तो ये गड़बड़ी पकड़ी गई। इस संबंध में उन्होंने अकाउंटेंट हर्ष देव ठाकुर से कई बार पूछा लेकिन उन्होंने स्पष्‍ट जवाब नहीं दिया। कंपनी 25 अप्रैल 2017 से 6 नवंबर 2017 तक लगातार हर्ष देव ठाकुर से खातों में 50 लाख रुपए से ज्यादा की गड़बड़ी का हिसाब मांगती रही। आठ नवंबर को ऑफिस आने पर भी हर्ष ठाकुर से इस संबंध में पूछा गया तो उन्होंने अपना जुर्म कबूल लिया। आरोपी सेक्टर-15 में परिवार के साथ रहता है।

 

जाली हस्ताक्षर कर किया पैसा ट्रांसफर

हर्ष देव ठाकुर ने कंपनी के अधिकारियों को बताया कि उसने कंपनी के खातों से जाली हस्ताक्षर कर अपने और अपनी पत्नी सीमा रानी के बैंक खातों में रकम ट्रांसफर की है। हर्ष ठाकुर ने कंपनी को इस संबंध में अपना लिखित बयान भी दे दिया। इसी के आधार पर मनीष चांडक ने आठ नवंबर को कोतवाली सेक्टर 20 में एफआईआर दर्ज कराई थी।

 

फरीदाबाद में खरीदा 50 लाख रुपए का घर

सेक्टर-20 थानाप्रभारी अनिल शाही ने बताया कि जांच में पुलिस को पता चला कि आरोपी अकाउंटेंट ने कंपनी के खातों से एक करोड़ रुपए की हेराफेरी कर अपने और अपनी पत्नी के तीन बैंक खातों में रकम ट्रांसफर कर ली थी। ये खाते विजय बैंक हौज खास दिल्ली, एक्सिस बैंक सेक्टर-44 और एसबीआई बैंक बल्लभगढ़ हरियाणा में हैं। पूछताछ में आरोपी ने बताया कि उसने धोखाधड़ी की रकम से फरीदाबाद में 50 लाख रुपए कीमत का एक घर भी ले लिया है। पुलिस के अनुसार, केस में हर्ष ठाकुर की पत्नी सीमा रानी को भी आरोपी बनाया गया है। आरोपी द्वारा धोखाधड़ी की रकम से खरीदे गए घर की नीलामी कर वसूली की जाएगी।

sharad asthana
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned