अब छात्राएं खुद करेंगी अपनी सुरक्षा सिखाएंगी मनचलाें काे सबक, दी जाएगी विशेष ट्रेनिंग

  • मिशन शक्ति के तहत दिया गया प्रशिक्षण
  • नाेएडा में छात्राओं ने सीखे करांटे

By: shivmani tyagi

Published: 05 Mar 2021, 11:06 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क

नाेएडा. मनचलाें की अब खैर नहीं हाेगी। लड़कियां खुद उन्हे सबक सिखाएंगी। इसके लिए नाेएडा में छात्राओं काे मिशन शक्ति अभियान के कराटे प्रशिक्षण दिया गया है।

यूपी के सर्राफ ने दिल्ली में खुलेआम लहराई चाेरी की पिस्टल, जानिए फिर क्या हुआ

महिला सशक्तिकरण स्वास्थ्य सुरक्षा और स्वावलंबन के लिए विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। मिशन शक्ति के विशेष अभियान के तहत पुलिस कमिश्नरेट गौतम बुद्ध नगर ने लड़कियों को आत्मरक्षा के लिए नि:शुल्क कराटे प्रशिक्षण दिलाने का अभियान शुरू किया गया है। चार दिवसीय आत्मरक्षा कैप्सूल कार्यक्रम के तहत चार सरकारी विद्यालय की 400 छात्राओं को प्रशिक्षण दिया जाएगा।

नहीं मिला नशा ताे मुक्ति केन्द्र की दीवार ताेड़कर फरार हाे गए आधा दर्जन युवक, रातभर पुराने अड्डों पर तलाशती रही पुलिस

नोएडा के सेक्टर-21ए स्थित नोएडा स्टेडियम में डीसीपी महिला सुरक्षा वृंदा शुक्ला ने प्रशिक्षण शिविर का शुभारंभ किया। शिविर में छात्राओं को उनकी सुरक्षा के प्रति जागरूक किया गया ।डीसीपी वृंदा शुक्ला ने बताया कि हौंसला ही अपनी सुरक्षा का पहला मूल मंत्र है। इसलिए शिविर में छात्राओं को सेल्फ डिफेंस, किक पंच, हेड ब्लाक, फेस ब्लाक, फाइट का प्रशिक्षण दिया जाएगा। पहले दिन प्रशिक्षण शिविर में करीब 30 छात्राओं ने हिस्सा लिया। एसीपी अंकिता शर्मा ने बताया कि आज के सामाजिक परिवेश में बढ़ते अपराध व महिलाओं को शारीरिक रूप से कमजोर समझ उन पर किए जा रहे अत्याचार को देखते हुए आत्मरक्षा के गुर सीखने बहुत जरूरी हैं। शिविर के दौरान प्रतिदिन छात्राओं को आत्मरक्षा से जुड़ी के साथ महिला हेल्पलाइन के बारे में बताया जाएगा।

कॉलेज से लाैट रही महिला प्रोफेसर से दिनदहाड़े बदमाशों ने की लूट और देखते रहे लाेग

कराटे ट्रेनर क्योशी बाल कृष्ण ने छात्राओं को बताया कि विपरीत परिस्थितियों में अपनी पहली मददगार छात्राएं खुद हैं, उसके बाद दूसरा कोई। इसलिए उन्हें अपने बचाव के नियम बताए गए। समझाया गया कि हाथ से पकड़ने पर पीछे से पकड़ने पर अपना बचाव खुद कैसे किया जाए ताकि वह स्वयं की रक्षा की जा सके। एसीपी ने बताया कि कार्यक्रम सफल होने के बाद इसे थाना स्तर पर लागू किया जाएगा। प्रत्येक थानों की टीम द्वारा अपने-अपने क्षेत्र में छात्राओं को आत्मरक्षा का प्रशिक्षण दिया जाएगा।

shivmani tyagi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned