अमेरिका में ट्रंप के राष्‍ट्रपति बनते ही गायब हुआ बुलंदशहर का परमाणु वैज्ञानिक

अमेरिका में ट्रंप के राष्‍ट्रपति बनते ही गायब हुआ बुलंदशहर का परमाणु वैज्ञानिक
tarun

नस्‍लभेद और भ्रस्टाचार के खिलाफ उठाई थी आवाज, माता-पिता मोदी तक से लगा चुके हैं गुहार

बुलंदशहर। शिकारपुर क्षेत्र के रहने वाले परमाणु वैज्ञानिक तरुण कुमार भारद्धाज को नस्‍लभेद और भ्रस्टाचार के खिलाफ आवाज उठाना भारी पड़ गया। अमेरिका के टेक्सास मे उन्हीं के विभाग के लोगो ने फर्जी मामले मे पुलिस से उनको डिटेन करा दिया। अमेरिका मे सत्ता परिवर्तन हुआ और नस्‍लभेद के मामले बढ़े तभी से तरुण कुमार गायब हैं।

तरुण साल 2010 मे अमेरिका के टेक्सास मे के.एंड एम यूनिवर्सिटी मे बतौर परमाणु वैज्ञानिक नियुक्त हुए थे। तरुण अमेरिका के आंतरिक सुरक्षा के लिए कार्य करते थे। वो डेढ़ साल से नस्‍लभेद और संस्थान मे चल रहे भ्रस्टाचार का विरोध कर रहे थे, जिसके चलते उनके विभाग से उनको निष्काषित कर दिया गया। इसके बाद वो अदालत चले गए, जहां उनके पक्ष मे फैसला दिया गया और उनकी बहाली का भी आदेश अदालत ने दिया। मगर इसके बाद भी उनकी बहाली नहीं हो सकी। अमेरिका मे सत्ता परिवर्तन हुआ और डोनाल्‍ड ट्रंप राष्‍ट्रपति बने। इसके बाद नस्‍लभेद के मामले बढ़े तभी से तरुण पर अमेरिका से नोकरी छोड़ कर चले जाने का दबाव बनाया जाने लगा। जब तरुण ने नौकरी छोड़ कर जाने से मना कर दिया तो उसको गंभीर परिणाम भुगतने की धमकी मिल गई। इसके बाद से दिसंबर से तरुण हैरेसमेंट के मामले को लेकर अमेरिका पुलिस ने डिटेन किया हुआ है। तरुण कहां है, किस हालात मे है, यह बात किसी को नहीं पता।

tarun

किसी ने नहीं सुनी बुजुर्ग माता-पिता की आवाज


तरुण के बुजुर्ग माता-पिता को कुछ भी पता नहीं, अपने बेटे को रिहा कराने के लिए वे डीएम से लेकर पीएम नरेंद्र मोदी तक से गुहार लगा चुके हैं। मगर अभी तक उनकी आवाज किसी ने नहीं सुनी जिसके चलते एक तरफ भारत का एक होनहार सपूत अमेरिका मे फंसा हुआ है, तो वहीं भारत में बुजुर्ग माता पिता अपने बेटे को सुरक्षित वापिस भारत लाने के लिए दर-दर की ठोकरे खाते फिर रहे हैं।

बढ़ गए हैं नस्‍लभेद के मामले


भारतीय इंजीनयर श्रीनिवास का अमेरिका में कत्ल कर दिया गया, उनकी चिता की आग अभी ठीक से बुझी भी नहीं कि एक और भारतीय व्यापारी हर्निश पटेल की गोली मारकर हत्या कर दी गई। ट्रम्प सरकार बनने के बाद से अमेरिका मे नस्‍लभेद के मामलो मे अचानक बेतहाशा वृद्धि हो गई।

देश के नेताओं से खुश नहीं माता-पिता


तरुण ने अपने साथ हुए घटनाक्रम के दो वीडियो भी यूट्यूब पर अपलोड किए हुए हैं, जिसमें वो टेक्सास एएनएम यूनिवर्सिटी मे चल रहे भ्रस्टाचार के मामले का खुलासा करते नजर आ रहे हैं जबक‍ि दूसरे में अमेरिका पुलिसकर्मी उनको गंभीर परिणाम भुगत लेने की धमकी देता नजर आ रहा है। अपने होनहार बेटे को अमेरिका से सकुशल वापसी के लिए तरुण के बुजुर्ग माता-पिता डीएम से लेकर पीएम मोदी तक से चिट्ठी लिख कर मदद की गुहार लगा चुके हैं। मगर किसी ने भी उनकी आवाज नहीं सुनी जिसके चलते वे देश के नेताओं से खासे नाराज हैं।

क्‍या कहा डीएम ने


जिलाधिकारी आंजनेय कुमार सिंह ने बताया कि यह मामला कुछ महीनों पहले उनकी जानकारी में आया था। पीड़ित परिवार ने उन्हें दस्तावेज भी दिए थे। उन दस्तावेज को आधार पर कुछ और जानकारी मांगी गई थी, जिससे शासन स्तर पर इस बात को सही तरह से रखा जा सके। लेकिन तरूण के माता-पिता पूरी जानकारी नहीं दे सके।
Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned