नोएडा के राम बनाएंगे शिवाजी की 610 फुट ऊंची प्रतिमा

नोएडा के राम बनाएंगे शिवाजी की 610 फुट ऊंची प्रतिमा
ram v sutar

नोएडा के राम सुतार को मिल चुका है पदम विभूषण सम्मान

नोएडा। विश्व की सबसे ऊंची प्रतिमा भारत में बनने जा रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुंबई में छत्रपति शिवाजी की इस प्रतिमा का शिलान्यास किया। समुद्र के बीच में बनाई जाने वाली इस प्रतिमा को नोएडा के राम वी सुतार बनाएंगे। बता दें कि मूर्तिकार राम वी सुरात को अपनी कला के लिए पदम विभूषण से सम्मानित किया जा चुका है। मूर्ति के बेस के साथ कुल हाइट 610 फुट होगी।

ऐसे तय हुआ खाका

प्रतिमा का ​डिजाइन राज्य सरकार ने भी अप्रूव कर दिया है। प्रतिमा बनाने का काम 2017 में मार्च से शुरु किया जाएगा। तय लक्ष्य के अनुसार प्रतिमा का काम 19 फरवरी 2019 तक पूरा किया जाना है। अनुमान है कि इस प्रतिमा को बनाने में 3600 करोड़ रुपए का खर्च आएगा। प्रतिमा के सैंपल के लिए सुतार ने आधे—आधे फुट के छह पीस तैयार किए हैं। इन सैंपलों को सरकारी अधिकारियों ने देखा और इनमें से दो सैंपल को चुना गया। इसके बाद सुतार से दोनों सैंपलों की 25—25 फुट की दो प्रतिमा तैयार करने को कहा गया। दोनों प्रतिमाओं में से एक को फाइनल डिजाइन के लिए पास किया गया।

395 फुट की होगी प्रतिमा

राम सुतार के अनुसार शिवाजी की प्रतिमा की हाइट 395 फुट होगी। जबकि प्रतिमा के साथ बेस को भी जोड़ा जाए तो कुछ हाइट 610 फुट बैठती है। वहीं सरकार वल्लभ भाई पटेल की प्रतिमा की कुल हाइट 600 फुट है। यहां बता दें कि अगर बेस को अगल करके देखा जाए तो सरदार पटेल की प्रतिमा की हाइट शिवाजी की प्रतिमा से ज्यादा है। लेकिन इंटरनेशनल लेवल पर जब हाइट नापी जाती है तो प्रतिमा का बेस भी जोड़ा जाता है। इस हिसाब से ये दुनिया की सबसे ऊंची प्रतिमा होगी।

64 फुट लंबी होगी तलवार

खास बात है कि प्रतिमा में घोड़े की हाइट करीब 300 फुट की होगी। घोड़ा दो पैरों पर खड़ा होगा। घोड़े पर बैठे शिवाजी के हाथों में जो तलवार होगी उसकी लंबाई 64 फुट लंबी होगी। घोड़े के पेट के नीचे जो ढाल, झंडा, तलवार और पत्थर होंगे वह सब कंक्रीट का ढांचा होगा। प्रतिमा के भीतर छह लिफ्ट होंगी जोकि घोड़े के भीतर से होते हुए गुजरेंगी। प्रतिमा में कई सारी खिड़कियां भी होंगी। यहां से मुंबई का नरीमन प्वाइंट दिखेगा।

एक साथ दस हजार लोग

टूरिस्टों की सुविधा के लिए प्रतिमा के बेस में म्यूजियम, लाइब्रेरी, ऑडिटोरियम, फूड कोर्ट आदि की व्यवस्था की जाएगी। यहां आने वाले टूरिस्ट पूरा आनंद ले सकें इसका पूरा ध्यान रखा जाएगा। मुंबई आने वाले लोगों को इस प्रतिमा में काफी कुछ नया देखने को मिलेगा। प्रतिमा को अरब सागर में डेढ़ किलोमीटर भीतर 32 एकड़ में फैली चट्टान पर बनाया जाएगा। दस हजार लोग एक साथ यहां घूम सकते हैं। बता दें क‌ि गुजरात में भी सरदार पटेल का एक 182 मीटर ऊंचा स्मारक बन रहा है।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned