करोड़ाें देकर घर खरीदे, लेकिन रह नहीं सकते!

करोड़ाें देकर घर खरीदे, लेकिन रह नहीं सकते!

नोएडा के बाहरी इलाकों में अरबों रुपए का निवेश मकानों में किया गया है, लेकिन वहां निवास करना आसान नहीं

संदीप तोमर, नोएडा। नोएडा में करोड़ों के घर लेने के बाद भी लोग नहीं रह पा रहे हैं। बिल्डरों ने घर तो बना दिए लेकिन अब तक एरिया में न तो कोई सुविधा है न ही सिक्योरिटी का इंतजाम। अगर आप नोएडा एक्सटेंशन में घर लेने जा रहे हैं या वहां शिफ्ट करने जा रहे हैं तो आपके लिए वहां की अच्छी और बुरी बातों का पता होना चाहिए।

क्रीडई के अनुसार इस साल में करीब एक लाख लोग शिफ्ट करेंगे। साल के अंत तक यहां पर बिल्डर 50 हजार फ्लैट्स की पजेशन देना शुरू कर देंगे। रियल एस्टेट कंस्लटेंट सचिन गुप्ता का कहना है कि, एक अच्छी जगह के रूप में विकसित हो रहा है लेकिन वर्तमान में यहां पर रहना थोड़ा परेशानी भरा हो सकता है। लेकिन दो—तीन साल के बाद ये रहने के लिए शायद सबसे अच्छी जगह होगी।

रियल एस्टेट कंस्लटेंट प्रशांत नाथ का कहना है कि, अगर बिल्डर ने प्रोजेक्ट के सभी टॉवर्स का काम पूरा कर लिया है और अथॉरिटी से हर तरह से कंप्लीशन सर्टिफिकेट मिल चुका है तो आप शिफ्ट कर सकते हैं। अगर अभी प्रोजेक्ट के किसी भी टॉवर में काम जारी है तो ऐसी जगह पर पजेशन लेना सेफ नहीं है। ये हेल्थ और सिक्योरिटी के नजरिए से असुरक्षित होगा।

— सचिन बताते हैं कि, यहां पर डेली नीड के हिसाब से पानी की सप्लाई तो है लेकिन बिजली की परेशानी है।

— अभी इलाके में स्कूल और हास्पिटल जैसी सुविधाएं नदारद हैं। हालांकि गौर सिटी में एक स्कूल शुरू हो चुका है लेकिन इसके अलावा अभी कोई स्कूल इलाके में नहीं है। वहीं अच्छे अस्पताल की बात करें तो सबसे पास में सेक्टर 62 का फोर्सिट ही है।

— नोएडा एक्सटेंशन में घर खरीदने के बाद भी नोएडा में किराए पर रहने वाले विक्रांत कुमार का कहना है कि, वहां पर रोजाना की जरूरी चीजों की खरीददारी के लिए अभी कोई शॉपिंग कांप्लेक्स नहीं है। यहां तक कि अगर आपको एटीएम से पैसे निकालने हैं तो इसके लिए भी लंबी दौड़ लगानी पड़ेगी।

— अगर आपके पास अपनी कार है तो ठीक हैं क्योंकि अभी यहां पर पब्लिक ट्रांसपोर्ट शुरू नहीं हो सका है। यहां पर न तो कोई बस सर्विस है न ही मेट्रो। दिन के समय आपको कुछ दूर पैदल चलकर शेयररिंग आॅटो मिल सकते हैं।

— सड़कों की बात करें तो मेन रोड 60 और 130 मीटर की हैं। लेकिन अंदूरनी सड़कें खस्ताहाल हैं। सड़कों पर स्ट्रीट लाइट नहीं हैं।

— जो कपल जॉब पर जाते हैं उनके लिए सिक्यसोरिटी भी बड़ी समस्यसा है क्योंकि उन्हें अपना घर गार्ड के भरोसे छोड़ना पड़ेगा। वह आपके घर की कितनी रक्षा कर पाएगा ये बड़ा सवाल है।
Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned