रिंगिंग बेल्स ने आॅफलाइन बुकिंग से कमाए करोड़ों, स्मार्टफोन का पता नहीं

रिंगिंग बेल्स ने आॅफलाइन बुकिंग से कमाए करोड़ों, स्मार्टफोन का पता नहीं
freedom 251

sandeep tomar | Publish: Dec, 08 2016 02:32:00 PM (IST) Noida, Uttar Pradesh, India

आज भी बुकिंग कराने वाले हाथों में पर्ची लिए स्मार्टफोन का इंतजार कर रहे हैं

नितिन शर्मा, नोएडा। रिंगिंग बेल्स कंपनी ने आॅनलाइन 30 लाख आैर आॅफलाइन चार लाख फोन बुक कराने का दावा किया था। आॅफलाइन बुकिंग के समय कंपनी ने फोन के 251 रुपये पहले ही वसूल लिये थे। साथ ही सभी को 30 जून 2016 तक मोबाइल डिलीवर करने का दावा किया था, लेकिन अपने वादे के आठ माह बीतने के बाद भी कंपनी किसी को फोन डिलीवर नहीं कर सकी है।

आॅफलाइन मोबाइल बेच कमाए 10 करोड़

कंपनी अधिकारियों ने दावा किया था कि तीन दिन में आॅफलाइन चार लाख फ्रीडम 251 की बुकिंग की गर्इ थी। आॅफलाइन बुकिंग में उपभोक्ता से सिर्फ 251 रुपये के साथ ही एक आईडी ली गई थी। इसके बदले उन्हें एक पर्ची और तारीख दी गई थी। आॅफलाइन मोबाइल बुक करने वाले डिस्ट्रीब्यूटर्स ने उपभोक्ता को 30 जून से पहले मोबाइल देने का आश्वासन दिया था। लेकिन अभी तक किसी भी उपभोक्ता को मोबाइल नहीं मिल सका।

लगा मोबाइल मिलेगा, लेकिन अब आस टूटी

251 रुपये देकर अाॅफलाइन रिंगिंग बेल्स का फ्रीडम 251 बुक कराने वाली उपभोक्ता नेहा शर्मा कहती है कि उन्हें लगा था कि टाटा की नैनो कार की तरह ही इस कंपनी ने सबसे सस्ता स्मार्ट फोन मार्केट में उतारा है। थोड़ा समय ही सही लेकिन मिल जाएगा, लेकिन अब दस माह बीतने के बाद भी मोबाइल नहीं मिला है। एेसे में खुद ठगा सा महसूस होता है। मोबाइल मिलने की आस भी छूट गर्इ है।

न कंपनी का पता न ही नंबर


251 रुपये लेकर कंपनी की आेर से एक पर्ची दी गर्इ थी, लेकिन इसमें न तो कोर्इ कंपनी का कोर्इ पता दिया गया है। न ही कोर्इ कान्टेक्ट नंबर दिया गया है। एेसे में किस से आैर कहां संपर्क करें। इसका भी पता नहीं है।
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned