सुपरटेक बिल्डर पर ज्यादा चार्ज वसूलने का आरोप, लोगों ने किया प्रदर्शन

अतिरिक्त चार्ज को लेकर केपटाउन के बायर्स ने किया प्रदर्शन, बिल्डर पर ज्यादा क्लब चार्ज वसूलने का आरोप,
बीबीए का हवाला देकर बिल्डर वसूल रहा चार्ज

By: lokesh verma

Published: 10 Dec 2017, 11:04 AM IST

नोएडा । बिल्डर की ओर से ज्यादा चार्ज वसूलने का आरोप लगाते हुए सुपरटेक केपटाउन के लोगों ने शनिवार को सेक्टर 74 में जमकर प्रदर्शन किया। इस दौरान लोगों ने बिल्डर की मनमानी और जबरदस्ती थोपे गए क्लब चार्ज के विरोध में प्रदर्शन किया। बायर्स को दो गुटों में तोड़ने के लिए बिल्डर जिम, खेल और स्विमिंग पूल प्रयोग करने वाले लोगों पर क्लब चार्ज अनिवार्य कर दिया है। जबकि बिल्डर पहले से ही मेंटेनेंस चार्ज ले रहा है। जिसको लेकर अपना विरोध जताया।

लोगों के क्या हैं आरोप ?
लोगों ने आरोप लगाया कि उनकी रजिस्ट्री सुपर एरिया पर हुई है। जिसमें कॉमन एरिया का पार्क क्लब स्विमिंग पूल आदि सब उसी में आते हैं। इसलिए अतिरिक्त क्लब चार्ज का कोई मतलब नहीं बनता । इसके लिए सोसायटी के लोग तैयार नहीं है। बिल्डर मेंटेनेंस चार्ज के अलावा किसी भी व्यक्तिगत फंक्शन के लिए हॉल चार्ज और गेस्ट रूम का भी चार्ज करता है। जिससे ऐसी और अन्य सुविधाओं के कारण हॉल चार्ज महंगा है। इसके अलावा बिल्डर ने स्थाई रूप से क्लब में आर्थिक गतिविधियां जैसे दुकान, प्ले स्कूल और कॉफी हाउस भी खुलवाया है। जिसके लिए भी लोगों से ही इलेक्ट्रिसिटी का खर्च लिया जा रहा है। जिससे ये साफ होता है कि बिल्डर क्लब के नाम पर पूरे रेसिडेंट से क्लब चार्ज मेंटेनेंस के नाम पर वसूली कर रहा है।

बिल्डर के खिलाफ एक जुट हुए लोग
सोसायटी के लोग अब अतिरिक्त एक भी पैसा बिल्डर को देने के लिए तैयार नहीं है और इसी को लेकर लोगों ने प्रदर्शन किया जिसमें बड़ी संख्या में महिलाएं भी मौजूद रहीं। बता दे कि प्रदर्शन सोसाइटी के मुख्य गेट पास मेंटेनेंस ऑफिस , सेल्स ऑफिस के साथ पूरे परिसर में किया गया। प्रदर्शन के दौरान बायर्स ने बताया कि बिल्डर बीबीए का हवाला देता है। जिसके एग्रीमेंट में यह लिखा है कि वह क्लब के लिए एक्स्ट्रा पैसा ले सकता है, इसी क्लाज का वह दुरुपयोग कर क्लब के नाम पर मनमानी करना चाह रहा है । सोसायटी के लोग एकजुट हैं कि किसी भी हाल में क्लब चार्ज नहीं दिया जाएगा और अगर बिल्डर नहीं माना तो कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

Show More
lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned