scriptTax will be imposed on air pollution in uttar pradesh | यूपी में वायु प्रदूषण फैलाने वालों की अब खैर नहीं, लागू हुआ नया नियम | Patrika News

यूपी में वायु प्रदूषण फैलाने वालों की अब खैर नहीं, लागू हुआ नया नियम

Air Pollution: देश के टॉप-8 प्रदूषित शहरों में शामिल वेस्ट यूपी के पांच शहरों में वायु प्रदूषण बेहद खतरनाक स्थिति में पहुंच गया है। इनमें हापुड़, मेरठ, मुजफ्फरनगर, गाजियाबाद और ग्रेटर नोएडा शामिल हैं।

नोएडा

Published: June 14, 2022 08:43:21 am

उत्तर प्रदेश के गौतमबुद्ध नगर समेत आसपास के कई इलाकों में वायु प्रदूषण तेजी से फैल रहा है। पिछले दिनों भी शहर में हवा की गुणवत्ता बहुत खराब श्रेणी में दर्ज की गई है। वायु गुणवत्ता सबसे खराब वाले देश के टॉप आठ शहरों में पांच उत्तर प्रदेश के हैं। जहां वायु गुणवत्ता सूचकांक 300 से अधिक दर्ज किया गया है। इस कारण वाहनों से निकलता धुआं, सड़कों पर उड़ती धूल और निर्माण कार्य के चलते प्रदूषण लगातार बढ़ता जा रहा है। देश के टॉप-8 प्रदूषित शहरों में शामिल वेस्ट यूपी के पांच शहरों में वायु प्रदूषण बेहद खतरनाक स्थिति में पहुंच गया है। इनमें हापुड़, मेरठ, मुजफ्फरनगर, गाजियाबाद और ग्रेटर नोएडा शामिल हैं। वहीं राजधानी की बात करें तो यहां की स्थिति भी काफी चिंताजनक है। ऐसे में यहां पर एक नया नियम लागू होने जा रहा है, जिसके तहत अब वायु प्रदूषण फैलाने पर टैक्स देना होगा।
यूपी में वायु प्रदूषण फैलाने वालों की अब खैर नहीं, लागू हुआ नया नियम
यह भी पढ़ें

टि्वटर पर भी CM योगी का जलवा कायम, अखिलेश यादव समेत इन नेताओं को पछाड़कर पहुंचे इतने मिलियन पार

राजधानी में देना होगा टैक्स

दरअसल वायु प्रदूषण की दिन पर दिन खराब गुणवत्ता को देखते हुए नगर निगम ने शहर में हवा खराब करने वालों पर नया टैक्स लगाने का फैसला लिया है। यानी कि लखनऊ वासियों को अब वायु प्रदूषण फैलाने पर टैक्स देना होगा। इन नए टैक्स के लिए दरें अभी तय की जाएंगी। सोमवार को महापौर संयुक्ता भाटिया की अध्यक्षता में हुई नगर निगम सदन की बैठक में इसकी मंजूरी मिल गयी। अगले दो महीने के भीतर नए टैक्स लागू कर दिए जाएंगे। ऐसे में अब हवा को साफ रखना लोगों के लिए जरूरी होगा।
यह भी पढ़ें

जैसे को तैसा: दरोगा ने किया चालान, भड़के लाइनमैन ने पुलिस चौकी की काट दी बिजली

इनसे भी वसूला जाएगा टैक्स

आपको बता दें कि वायु प्रदूषण करने वाली संस्थानों, इकाइयों और अन्य पर भी शुल्क लगेगा। इसके लिए दरें जल्द तय होंगी। ईट भट्टों और वायु प्रदूषण करने वाली औद्योगिक इकाईयों से शुल्क वसूला जाएगा। डीजल से चलने वाले जनरेटर मशीनों पर शुल्क लिया जाएगा। निर्माण इकाईयों पर वायु प्रदूषण के लिए शुल्क देना होगा। कामर्शियल वाहनों पर वायु प्रदूषण शुल्क लागू होगा। इसके अलावा निर्माण सामाग्री बालू, मौरंग, व सीमेन्ट व्यावसायी, प्लास्टिंग उत्पादन इकाईयों आटो टेम्पो व ई रिक्शा से संचालन शुल्क और नगर निगम की 20 पार्किंग में वाहनों से शुल्क लिया जाएगा।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

BJP के नए संसदीय बोर्ड और चुनाव समिति का गठन, गडकरी व शिवराज की छुट्टी, देखिए कौन-कौन नेता शामिलकिडनैंपिग के आरोपी हैं बिहार के कानून मंत्री कार्तिकेय सिंह, सरेंडर वाले दिन ही ली शपथ, नीतीश बोले-मुझे जानकारी नहींदिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल ने लॉन्च किया ‘मेक इंडिया नंबर-1’ कैंपेन, पूछा - आजादी के 75 वर्ष बाद भी हम बाकी देशों से पीछे क्यों?सुप्रीम कोर्ट ने 'रेवड़ी कल्चर' के खिलाफ सभी पक्षों से मांगे सुझाव, 22 अगस्त तक दिया वक्तशिवमोगा तनाव पर कर्नाटक BJP नेता केएस ईश्वरप्पा का विवादित बयान- मुस्लिम यहां शांति से रहे या पाकिस्तान चले जाएंMumbai News: मुंबई में डेंगू, मलेरिया और Swine Flu का तांडव जारी, 7 महीने के भीतर स्वाइन फ्लू से 43 लोगों की मौतICC ने जारी किया '2023-27 FTP' का पूरा कार्यक्रम, देखिए टीम इंडिया का पूरा शेड्यूलकेरल कोर्टः यौन उत्पीड़न की शिकायत पहली नजर में नहीं टिकेगी, जब महिला ने 'यौन उत्तेजक' पोशाक पहनी हो
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.