होटल में ठहरे युवक-युवती से मारपीट करने और 70 हजार रिश्वत लेने का वीडियो वायरल होने पर तीन पुलिसकर्मी सस्पेंड

ग्रेटर नोएडा के थाना बीटा-2 क्षेत्र स्थित एक होटल में ठहरे युवक-युवती के साथ पुलिसकर्मियों ने रिश्वत के लिए की थी मारपीट।

By: lokesh verma

Published: 19 Sep 2021, 01:11 PM IST

नोएडा. त्योहारों पर आतंकी हमले के इनपुट के बाद जिला गौतम बुद्ध नगर में हाई अलर्ट घोषित किया गया है। इसके लिए सड़कों से लेकर मॉल और होटलों की सघन जांच की जा रही है, लेकिन कुछ पुलिसकर्मी इसकी आड़ में उगाही करने में लगे हैं। ऐसी ही एक घटना ग्रेटर नोएडा के थाना बीटा-2 क्षेत्र में स्थित एक होटल में हुई। जहां होटल में ठहरे हुए युवक-युवती के साथ मारपीट करने और उनसे और होटल संचालक से रिश्वत लेने के आरोप पर पुलिस कमिश्नर आलोक सिंह ने तीन पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया है। यह कार्रवाई रिश्वत लेते हुए पुलिसकर्मियों के वीडियो के वायरल होने के बाद की गई है।

दरअसल, सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहे वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि किस प्रकार पुलिसकर्मी संचालक को धमका रहे हैं और रिश्वत ले रहे हैं। इस वायरल वीडियो को अधिकारियों ने गंभीरता से लिया और इसकी जांच एसीपी जोन-3 को सौंपी गई। अब जांच के बाद तीन पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया गया है। अपर पुलिस उपायुक्त विशाल पांडे ने बताया कि थाना बीटा-दो क्षेत्र के एक होटल में बुधवार को एक युवक-युवती आ कर ठहरे थे। इसी बीच एक पुलिसकर्मी वहां पर गया और युवक-युवती के रुकने की जानकारी हासिल कर उसने अपने अन्य पुलिसकर्मी साथियों को मौके पर बुला लिया। वे लोग होटल संचालक और युवक-युवती को लेकर परी चौक पुलिस चौकी पहुंचे।

यह भी पढ़ें- AIMIM पार्षद हत्याकांड में सपा नेता को पुलिस ने हिरासत में लिया तो बेटे ने गोली मारकर किया सुसाइड

अपर उपायुक्त ने बताया कि चौकी में युवक और युवती के परिजनों को भी बुलाया गया और उन्हें छोड़ने के एवज में परिजनों तथा होटल संचालक से 70 हजार रुपये रिश्वत के तौर पर लिए गए। उन्होंने बताया कि सोशल मीडिया पर घटना का वीडियो वायरल होने के बाद असिस्टेंट पुलिस कमिश्नर प्रवीण कुमार को इसकी जांच सौंपी गई। उन्होंने बताया कि एसीपी की रिपोर्ट के आधार पर पुलिस कमिश्नर ने इस मामले में सख्त कार्रवाई करते हुए हेड कॉन्स्टेबल राजेंद्र सिंह, कॉन्स्टेबल सचिन बालियान और कॉन्स्टेबल अंकित कुमार को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया। इनके खिलाफ विभागीय कार्रवाई भी की जा रही है।

यह भी पढ़ें- पूर्व मंत्री और विधायक समेत 25 लोगों को असलहा मामले में जारी हुआ नोटिस, तीन दिन में लाइसेंस निरस्त करने का आदेश

lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned