scriptUP Election 2022 Noida Vidhansabha Pankaj Singh and Pankhuri Pathak | Noida में सर्वण और ग्रामीण वोट निर्णायक: MLA पंकज सिंह के साथ BJP की प्रतिष्ठा दांव पर, कांग्रेस की पंखुड़ी के साथ कितने ब्राह्मण | Patrika News

Noida में सर्वण और ग्रामीण वोट निर्णायक: MLA पंकज सिंह के साथ BJP की प्रतिष्ठा दांव पर, कांग्रेस की पंखुड़ी के साथ कितने ब्राह्मण

Uttar Pradesh में विधानसभा चुनाव का पहला फेज प्रत्याशियों के मैदान में उतरने के बाद बड़ा चुनावी अखाड़ा बन चुका है। ऐसे में पत्रिका आपको बता रहा है नोएडा विधानसभा की स्थिति.

नोएडा

Updated: January 24, 2022 05:19:22 pm

UP Elections 2022 के पहले फेज की वोटिंग के लिए चुनाव प्रचार चरम पर है। नोएडा विधानसभा सीट पर रक्षामंत्री राजनाथ सिंह के बेटे पंकज सिंह की प्रतिष्ठा दांव पर लगी है। यहां पंखुड़ी पाठक कांग्रेस के टिकट पर पहली बार चुनाव मैदान में हैं। दोनों में मुकाबला कांटे का है। सपा गठबंधन प्रत्याशी और आप प्रत्याशी मिलकर इस सीट को चतुष्कोणीय मुकाबला बनाने की कोशिश में जुटे हैं। दिल्ली से सटी सीट होने की वजह से सभी की निगाहें इस विधानसभा पर है। इसलिए यह हॉट सीट बन गयी है।
Noida Vidhan Sabha Uttar Pradesh Elections 2022
Noida Vidhan Sabha Uttar Pradesh Elections 2022
Noida शहरी वोटरों का मूड बदल रहा

नोएडा विधानसभा सीट में यूं तो ज़्यादातर उत्तर प्रदेश के लोग ही रहते हैं, लेकिन दिल्ली का दबदबा यहां ज्यादा है। शहरी क्षेत्र में ज़्यादातर यूपी के पूर्वांचल से आकर नौकरी करने वाले लोग हैं। तो ग्रामीण इलाके में यहां के गांव के मूल निवासी। कोरोना की त्रासदी के बाद जिस तरह से नोएडा से पूर्वाचंल तक की लड़ाई शहरी लोगों ने लड़ी उसका असर पंकज सिंह पर पड़ेगा। पंखुड़ी पाठक इसको भुना रही हैं। जबकि दिल्ली के नजदीक होने के कारण यहां आम आदमी पार्टी का भी खासा प्रभाव देखने को मिल रहा है। इस वजह से भी पढ़े लिखे तबके का वोट एक मुश्त किसी प्रत्याशी को मिलेगा ऐसा दिखाई नहीं दे रहा है।
यह भी पढे : Mayawati ने Yogi Adityanath को याद दिलाया गोरखपुर का वो बंगला..

तीन बार से जीत रही है भाजपा

2017 के विधानसभा चुनावों में नोएडा सीट से जीतकर आए पंकज सिंह को कुल 1 लाख 62 हजार 417 वोट मिले थे। इस चुनाव में समाजवादी पार्टी के सुनील चौधरी दूसरे नंबर पर थे जिन्हें 58 हजार 401 वोट मिले थे। इसी तरह 2012 के आम चुनाव में इस सीट पर बीजेपी के डॉ. महेश शर्मा चुनाव जीते थे। महेश शर्मा 2 साल तक विधायक थे। फिर वह सांसद बन गए। आंकड़ों को देखें तो साफ है कि सीट भाजपा के कोर वोटरों की दिशा की ओर ही झुकती नजऱ आती है। जबकि सरकार की एंटी इनकमबेसी और आम आदमी का क्षेत्रीय दबाव जीत या हार के अंतर को काफी कम करेगा।
यह भी पढे : Mafia अतीक अहमद जेल से दे रहा अपनी बेगम को चुनावी मंत्र, ओवैसी के टिकट पर रणनीति की चर्चा

Noida के युवाओं में साफ छवि की ओर झुकाव

नोएडा सीट पर पंकज सिंह की साफ छवि और दोस्ताना व्यवहार युवाओं को आकर्षित कर रहा है। कैंप कार्यालयों में क्षेत्रीय लोगों की समस्याओंक को लेकर कुछ माह तक खूब भीड़ जुटती थी। लेकिन यह भीड़ वोट में तब्दील होगी अभी भविष्य के गर्त में है।
Noida में गंदे पानी और गुंडों की समस्या

योगी सरकार ने गुंडों और माफियाओं के लिए जो अभियान चलाया उसमें कई क्षेत्रीय माफिया नोएडा और गौतमबुद्ध नगर के शामिल थे। इनका पुलिस ने एनकाउंटर किया। इसका असर इस चुनाव में देखने को मिल रहा है। नोएडा की दूसरी बड़ी समस्या साफ पानी को लेकर है। नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट, इंटीग्रेटेड इंडस्ट्रियल टाउनशिप, फिल्म सिटी जैसी योजनाओं में हटाए गए किसान और क्षेत्रीय अन्य विस्थापितों की समस्याएं भी मुद्दा हैं।
BSP सुप्रीमो मायावती का गृह जनपद

नोएडा विधानसभा में ही बसपा सुप्रीमो मायावती का गृह जनपद भी आता है। लेकिन 2012 से आज तक बसपा को यहां जीत नहीं मिल सकी है। 2017 के चुनावों में भी बसपा के प्रत्याशी रविकान्त को तीसरे स्थान पर रहना पड़ा था। जबकि आरएलडी के प्रत्याशी को पंाचवा स्थान मिला था।
Noida में जातिगत आंकड़ा, मतदाताओं की संख्या

नोएडा सीट पर लगभग 6 लाख 90 हज़ार 231 वोटर हैं। ठाकुर, जाट और ब्राह़मण वोटर की संख्या काफी अधिक है। साल 2012 में नोएडा के परिसीमन होने के बाद से ही ठाकुर और ब्राह्मणों की संख्या में बढ़ोत्तरी होने के साथ जाट वोटों का दबदबा भी बढ़ा है। 2012 में परिसीमन के बाद पहली बार बीजेपी के डॉ. महेश शर्मा विधायक बने थे। 2014 में डॉ. महेश शर्मा के लोकसभा चुनाव जीतने के बाद सीट खाली हुई थी। उपचुनाव में भाजपा की विमला बाथम ने जीत दर्ज की थी।
Noida में चुनावी आंकड़े

पुरुष- 3,91,460

महिला- 2,98,764

Noida में जातिगत वोटर्स की अनुमानित संख्या

ब्राह्मण- 1.3 लाख

बनिया- 1.1 लाख

मुस्लिम- 70 हजार

यादव- 40 हजार
गुर्जर- 35 हजार

ठाकुर- 25 हजार

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

यहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतियूपी में घर बनवाना हुआ आसान, सस्ती हुई सीमेंट, स्टील के दाम भी धड़ामName Astrology: पिता के लिए भाग्यशाली होती हैं इन नाम की लड़कियां, कहलाती हैं 'पापा की परी'इन 4 राशियों के लड़के अपनी लाइफ पार्टनर को रखते हैं बेहद खुश, Best Husband होते हैं साबितजून में इन 4 राशि वालों के करियर को मिलेगी नई दिशा, प्रमोशन और तरक्की के जबरदस्त आसारमस्तमौला होते हैं इन 4 बर्थ डेट वाले लोग, खुलकर जीते हैं अपनी जिंदगी, धन की नहीं होती कमी1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्ससंयुक्त राष्ट्र की चेतावनी: दुनिया के पास बचा सिर्फ 70 दिन का गेहूं, भारत पर दुनिया की नजर

बड़ी खबरें

सेना का 'मिनी डिफेंस एक्सपो' कोलकाता में 6 से 9 जुलाई के बीचGujrat कांग्रेस के वरिष्ठ नेता का विवादित बयान, बोले- मंदिर की ईंटों पर कुत्ते करते हैं पेशाबRajya Sabha Election 2022: राजस्थान से मुस्लिम-आदिवासी नेता को उतार सकती है कांग्रेस'तुम्हारे कदम से मेरी आँखों में आँसू आ गए', सिंगला के खिलाफ भगवंत मान के एक्शन पर बोले केजरीवालसमलैंगिकता पर बोले CM नीतीश कुमार- 'लड़का-लड़का शादी कर लेंगे तो कोई पैदा कैसे होगा'Women's T20 Challenge: वेलोसिटी ने सुपरनोवास को 7 विकेट से हरायानवजोत सिंह सिद्धू को जेल में मिलेगा स्पेशल खाना, कोर्ट ने दी अनुमतिSSC घोटाले के बाद अब बंगाल में नर्सों की नियुक्ति में धांधली, विरोध प्रदर्शन के बीच पुलिस और स्टूडेंट्स में हुई झड़प
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.