सिंघम बनी यूपी पुलिस: पिछले 15 दिनों में वेस्ट यूपी में हुई 26 मुठभेड़, 2 खूंखार बदमाश मारे गए, 41 गए जेल के अंदर

amit sharma

Publish: Sep, 16 2017 03:07:47 (IST)

Noida, Uttar Pradesh, India
सिंघम बनी यूपी पुलिस: पिछले 15 दिनों में वेस्ट यूपी में हुई 26 मुठभेड़, 2 खूंखार बदमाश मारे गए, 41 गए जेल के अंदर

अपराधियों को एक-एक कर ठिकाने लगा रही पुलिस, अपराध मुक्त प्रदेश का सपना होगा साकार

नोएडा. उत्तर प्रदेश पुलिस ने पूरे राज्य में बदमाशों की नाक में दम कर दिया है. पुलिस लगातार एक के बाद एक मुठभेड़ कर रही है जिससे राज्य के अपराधियों में पुलिस का खौफ बढ़ता जा रहा है. हालत ये है कि सिर्फ पिछले 15  दिनों में ही वेस्ट यूपी में 26 मुठभेड़ हुई है जिसमें दो बड़े बदमाशों को पुलिस ने मार गिराया है और 41 अपराधियों को पुलिस ने गिरफ्तार करने में सफलता पायी है.

 

सिर्फ सितंबर माह में ही मुज़फ्फरनगर में पुलिस ने पांच बड़े एनकाउंटर किये हैं जिसमें नदीम जैसे खूंखार अपराधी को मार गिराना और फुरकान जैसे बड़े अपराधी को गिरफ्तार कर लेना पुलिस की ख़ास उपलब्धियों में शामिल रहा. सहारनपुर में इस बीच दो बड़ी मुठभेड़ हुई. एक मुठभेड़ में पुलिस ने 12 हजार के इनामी बदमाश शमशाद को मार गिराया तो दूसरी मुठभेड़ में टीपू नाम का बदमाश गिरफ्तार हुआ. पश्चिम में अपराध के लिए कुख्यात मेरठ में पिछले पंद्रह दिनों के बीच चार बड़ी मुठभेड़ हुई है जिसमें छह अपराधियों को पुलिस ने धर दबोचा है जबकि 3 अपराधी बच निकलने में कामयाब रहे. शामली में सबसे ज्यादा 7 मुठभेड़ हुई है जिसमें 1 बदमाश मारा गया है जबकि 17 को गिरफ्तार किया गया है. गाज़ियाबाद पुलिस ने भी इन दिनों में चार मुठभेड़ को अंजाम दिया है और इसमें कई ईनामी अपराधियों को गिरफ्तार किया है. सम्भल में भी एक मुठभेड़ हुई जिसमें एक बड़ा अपराधी गिरफ्तार किया गया. बिजनौर में एक मुठभेड़ हुई जिसमें एक बदमाश को गिरफ्तार करने में पुलिस कामयाब रही जबकि दो बदमाश फरार हो गए थे.

 

मुज़फ्फरनगर 15 दिन में 5 एनकाउंटर

 

मुज़फ्फरनगर में अब बदमाशों का खौफ नहीं है| पिछले 15 दिन में यहां पांच बड़े एनकाउंटर हो चुके हैं. पुलिस की गोली लगातार बदमाशों पर हल्ला बोल रही है| मुज़फ्फरनगर पुलिस ने एनकाउंटर का जो सिलसिला शुरू किया है उससे बदमाशों के होश फाख्ता हो चुके है. लगभग 60 दिनों से पुलिस का 'बदमाश पकड़ो अभियान' जारी है.
वही बदमाशों में भी पुलिस के खौफ का आलम साफ तौर पर पर देखा जा रहा है और पुलिस भी फुल कॉन्फिडेंस में नजर आ रही है. डंडा फटकार कर चुप बैठने के लिए कुख्यात रही पुलिस अब धड़ाधड़ अपराधियों को ठोंक रही है. वह उनके साथ मुठभेड़ कर रही है. मुठभेड़ों का आलम यह है कि बीते 60 दिन में पुलिस ने दर्जन भर एनकाउंटर किये और दो इनामी बदमाशों को मार गिराया. जबकि कई बदमाशों को घायल कर गिरफ्तार किया गया है.

 

फुरकान का एनकाउंटर था बड़ा मामला

 

मुज़फ्फरनगर के बुढ़ाना कोतवाली क्षेत्र के मंदवाडा रोड पर पुलिस चेकिंग अभियान के दौरान बाईक सवार तीन बदमाशों से पुलिस की मुठभेड़ उस समय हो गई जब पुलिस ने चेकिंग के दौरान बदमाशों को रोकना चाहा तो बाईक सवार बदमाशों ने पुलिस पर फायरिंग कर दी। पुलिस की जवाबी फ़ायरिंग में एक बदमाश फुरकान गोली लगने से घायल हो गया। बाकि दो बदमाश अँधेरे का फायदा उठाकर गन्ने के खेत में घुस गए। पुलिस ने घंटो तक ईख के खेत की घेराबंदी कर बदमाशों की तलाश की लेकिन दोनों बदमाश भागने में कामयाब हो गए। घायल बदमाश फुरकान को पुलिस ने गंभीर हालत में उपचार के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया।


नदीम की मौत बड़ी सफलता

 

जनपद मुज़फ्फरनगर के बड़े बदमाश नदीम को एक मुठभेड़ में घेर लेना और उसे मार गिराना पुलिस के लिए बड़ी सफलता मानी जा रही है. गत नौ सितंबर की तारीख को 15 हज़ार के इनामी बदमाश नदीम और पुलिस टीम के साथ मुठभेड़ हो गयी. इस मुठभेड़ में दोनों ओर से हुई जबदस्त फायरिंग में एक बदमाश ढेर हो गया जबकि इस घटना में एक पुलिस कर्मी भी बदमाशो की गोली से घायल हुआ। मृत बदमाश का नाम नदीम बताया गया. जो पिछले दो दिन पहले थाना नई मंडी पुलिस ने गिरफ्तार किया था और थाने से कोर्ट ले जाते समय पुलिस कर्मियों की आँखों में मिर्च पाउडर पुलिस फरार हो गया था. पुलिस को इसकी तभी से इसकी तलाश थी.

 

12 हजार का इनामी मोबिन गिरफ्तार

 

दस सितंबर को खतौली कोतवाली क्षेत्र में एक और बारह हज़ार के ईनामी बदमाश को मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार किया गया है। पुलिस के अनुसार पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हुई जिसमें बारह हज़ार के ईनामी बदमाश मोबिन गोली लगने से घायल हो गया जिसे इलाज के लिए खतौली के सीएचसी में भर्ती कराया गया।


12 हज़ारी मुठभेड़ में घायल

 

बारह सितंबर को मुज़फ्फरनगर पुलिस का 50 दिन में ये दसवां एनकाउंटर है जिसमे से दो बदमाश दुनिया से अलविदा हो गए हैं जबकि आठ इनामी बदमाश पुलिस की गोली का शिकार होकर जेल की हवा खाने को मजबूर हैं| मुज़फ्फरनगर की खतौली पुलिस ने देर शाम नावला रोड पर मुखबिर की सुचना पर लूट की घटना को अंजाम देने जा रहे दो बदमाशो को रुकने का इशारा किया पुलिस को सामने देख बाइक सवार बदमाशों ने पुलिस पर फायरिंग कर दी| अपने ऊपर बदमाशों द्वारा फायरिंग होते देख पुलिस ने भी जावाबी फायरिंग कर दी जिसमे एक बदमाश के पैर में गोली जा लगी|


मुठभेड़ में 5 हजारी घायल

15 सितंबर को मुजफ्फरनगर में एक बार फिर से पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हो गई। जिसमे 5,000 का इनामी बदमाश शोएब मुजफ्फरनगर पुलिस का शिकार बना। मुठभेड़ में ईनामी बदमश शोएब गोली लगने से घायल हुआ है। जबकि उसका साथी बदमाश भागने में कामयाब हुआ।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned