शुभ मुहूर्त पर यूपी में प्रत्याशियों की घोषणा करेगी भाजपा, खरमास ने लगाया ब्रेक

शुभ मुहूर्त पर यूपी में प्रत्याशियों की घोषणा करेगी भाजपा, खरमास ने लगाया ब्रेक
BJP candidate list

चर्चा है कि पंडितों के बताए दिन पर ही पार्टी जारी करेगी पहली लिस्ट

नोएडा: बसपा अब तक 200 सीटों पर अपने प्रत्याशियों की घोषणा कर चुकी है। समाजवादी पार्टी के दोनों गुटों ने भी अपनी लिस्ट पहले ही जारी कर दी थी। अब इंतजार है भाजपा के प्रत्याशियों की घोषणा है। चर्चा है कि भारतीय जनता पार्टी अपने प्रत्याशियों की घोषणा के लिए शुभ मुहूर्त का इंतजार कर रही है। अब वो समय आने ही वाला है। लेकिन इसके लिए अभी करना होगा कम से कम मकर संक्रांति तक का इंतजार।

सामने आ चुकी है शुभ तारीख

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनावों के लिए भाजपा प्रत्याशियों की पहली सूची मकर संक्रांति के बाद जारी की जाएगी। 14 जनवरी तक खरमास चलने के कारण भाजपा शुभ मुहूर्त का इंतजार कर रही है। उत्तर प्रदेश भाजपा के मुताबिक 16 जनवरी को पार्टी के संसदीय बोर्ड की बैठक होगी। जिसके बाद प्रत्याशियों की घोषणा शुरु हो जाएगी। वेस्ट यूपी के पार्टी प्रवक्ता आलोक सिसौदिया का कहना है कि 14 तारीख को प्रत्याशियों की घोषणा कर दी जाएगी। ये तारीख 15 और 16 भी हो सकती है। उन्होंने कहा कि अब पार्टी और प्रत्याशियों के पास वक्त काफी कम बचा है। ऐसे में सूची में ज्यादा देर करने में कोई फायदा नहीं है।

250 प्रत्याशियों की सूची आएगी सामने

पहले चरण में करीब 250 प्रत्याशियों के नामों की घोषणा होने के आसार है। इसमें मुख्य रूप से पश्चिमी उत्तर प्रदेश के 15 जिलों में होने वाले पहले चरण के चुनावों के लिए प्रत्याशी घोषित किए जाएंगे। दूसरे चरण के प्रत्याशियों की घोषणा भी साथ ही कर दी जाएगी। आलोक सिसौदिया के अनुसार बाकी चरणों के प्रत्याशियों की घोषणा करने पर भी विचार किया जा रहा है। ताकि प्रत्याशियों को थोड़ा वक्त मिल सके। उन्होंने बताया कि पहले और दूसरे चरण के प्रत्याशियों के पास 20 दिन का ही समय रहेगा। पार्टी चाहती है कि बाकी प्रत्याशियों के पास करीब एक महीने का तो वक्त मिले।

बनारस के पंडितों ने निकाला है मुहूर्त

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संसदीय जिला वाराणसी है। जो सैकड़ों सालों से अपनी ज्योतिषीय गणना और भविष्यवाणियों के लिए प्रसिद्ध रहा है। बताते हैं कि यहां के कुछ जाने-माने पंडितों की सलाह पार्टी के वरिष्ठ नेता हमेशा से लेते रहे हैं। कहा जा रहा है कि वहां के कुछ ज्योतिषीयों ने सुझाव दिया है कि खरमास होने के चलते भाजपा को मकर संक्रांति तक रुकना चाहिए। खरमास में कोई शुभ कार्य नहीं किया जाता।

क्या है खरमास

दरअसल हिन्दू धर्म के अनुसार इस समय खरमास चल रहा है और इस समय कोई शुभ कार्य करना ठीक नहीं माना जाता. हिन्दू रीति-रिवाजों के अनुसार कोई भी शुभ कार्य मकरसंक्रांति के बाद ही किया जाता है जब भगवान सूर्य उत्तरायण हो जाते हैं, जानकारी के अनुसार भाजपा अपनी लिस्ट इसी कारण से टाल रही है और इसे मकरसंक्रांति के बाद जारी कर देगी.
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned