मूसलाधार बारिश से हाईटेक सिटी नोएडा पानी-पानी, अगले 24 घंटे जारी रहेगा बारिश का दौर

नोएडा की प्राधिकरण की सीईओ ने 21 जुलाई को ट्वीट करके किया था जलभराव की समस्या दूर करने का दावा।

By: lokesh verma

Published: 21 Aug 2021, 12:42 PM IST

नोएडा. लंबे समय से जहां लोग उमस भरी गर्मी से परेशान थे, वहीं शुक्रवार देर रात नोएडा और ग़्रेटर नोएडा में हुई मूसलाधार बारिश ने जीवन को अस्त-व्यस्त कर दिया है। बारिश का सिलसिला रुक-रुककर अभी भी बदबस्तूर जारी है। मौसम विभाग ने रविवार तक बारिश का अलर्ट जारी किया है। वाहन चालकों को जहां जलभराव और जाम के कारण भारी दिकक्तों का सामना पड़ा। वहीं दो पहिया वालों के लिए भी यह जलभराव परेशानी का सबब बना हुआ है। जलभराव के कारण कई गाड़िया बंद हो गई। वहीं कई लोग अपनी गाड़ियों को धक्के मारते नजर आए, ताकि अपनी मंजिल तक पहुंच सकें।

ये नजारा यूपी के सबसे हाईटेक माने जाने नोएडा ग्रेटर नोएडा शहर का है। जहां एक रात की मूसलाधार बारिश से पूरे शहर में जलभराव हो गया। मूसलाधार बारिश और जलभराव के कारण गाड़िया खराब होने के चलते जगह-जगह खड़ी नजर आई। कई लोग अपनी गाड़ियों को धक्के मारते दिखे। बारिश के चलते सेक्टर-37, सेक्टर-19, डीएनडी ओवरलीफ, सेक्टर-34, सिटी सेंटर, सेंटर स्टेज मॉल के पास, सेक्टर-27 में जलभराव की स्थिति बन गई। जबकि सबसे ज्यादा परेशानी डीएनडी से दिल्ली जाने वाले ओवरलीफ पर हुई। वहां जल का जमाव होने से कई गाड़ियां खराब हो गईं। जो भी यहां से गाड़ी निकालने का प्रयास करता, उसकी गाड़ी बीच में ही खराब हो जाती।

यह भी पढ़ें- Weather: मौसम विभाग का ऑरेंज अलर्ट, रक्षाबंधन पर झमाझम बारिश के लिए रहें तैयार

वहीं सेक्टर-16 के बिजली घर में पानी भर जाने के कारण बिजली की सप्लाई कई सेक्टरों में रोकनी पड़ी है। इस बारिश ने नोएडा प्राधिकरण के दावों की पोल खोल के रख दी है। इनका दावा था कि इस बार नालों की सफाई होने के कारण नोएडा वासियों को वाटर लॉगिंग की समस्या से निजात मिल जाएगी, लेकिन एक रात की मूसलाधार बारिश ने प्राधिकरण के दावे की हकीकत सामने ला दी है।

प्राधिकरण सीईओ ने एक माह पहले किया था दावा

प्राधिकरण के दावों की पोल खोलती जलभराव की तस्वीरें दलित प्रेरणा स्थल के पास और सेक्टर-44 महामाया क्लोवर लीफ की हैं, जिसके बारे में नोएडा प्राधिकरण की सीईओ रितु माहेश्वरी ने 21 जुलाई को एक ट्वीट करके नोएडा वासियों को आश्वस्त किया था। उन्होंने कहा था कि दलित प्रेरणा स्थल के पास 74 लाख की लागत से निर्मित समरसेबल पंप और सेक्टर-44 महामाया क्लोवर लीफ के पास 49.98 लाख की लागत के कार्य से जलभराव की समस्या में कमी आई है। लेकिन, देर रात हुई मूसलाधार बारिश ने बारिश के चलते प्राधिकरण के दावों पर पानी फिर गया है। इन दोनों जगहों पर हुए भारी जलजमाव से लोग जूझते नजर आए।

यह भी पढ़ें- वेस्ट में एक दिन की बरसात से सड़कें जलमग्न, घरों तक में भरा पानी

lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned