UP Excise Liquor Rate List : शराब खरीदते वक्त अगर आप से भी लिए जा रहे प्रिंट से अधिक रेट तो ऐसे सिखाएं सबक

UP Excise Liquor Rate List : शराब खरीदते वक्त अगर आप से भी लिए जा रहे प्रिंट से अधिक रेट तो ऐसे सिखाएं सबक

Rahul Chauhan | Publish: Sep, 07 2018 02:15:14 PM (IST) | Updated: Sep, 07 2018 06:46:44 PM (IST) Noida, Uttar Pradesh, India

UP Excise Liquor Rate List : लोगों का आरोप है कि कई ठेकों पर शराब व बीयर पर प्रिंट रेट से अधिक दाम वसूले जा रहे हैं। वहीं इसका विरोध करने पर बदतमिजी भी की जाती है।

नोएडा। प्रदेश में नई Excise policy लागू होने के बाद से शराब की दुकान को कई तरह के बदलाव किए गए। जैसे कि अब शराब की दुकानों की खुलने और बंद होने की टाइमिंग में बदलाव किया गया है। इसके साथ ही इस बार लक्की ड्रॉ के माध्यम से शराब की दुकानों का वितरण किया गया। जबकि पहले ज्यादातर दुकानें बड़े-बड़े कारोबारियों के पास ही हुआ करती थी।

यह भी पढ़ें : शराब की दुकान की टाइमिंग में हुआ बदलाव, जानिए कितने बजे खुलेंगी और होंगी बंद

वहीं अब गौतमबुद्घ नगर जिले में पिछले कुछ समय से लगातार शराब की दुकानों पर ओवर रेटिंग लेने की शिकायतें आ रही हैं। लोगों का आरोप है कि कई ठेकों पर शराब व बीयर पर Print Rate से अधिक दाम वसूले जा रहे हैं। वहीं इसका विरोध करने पर बदतमिजी भी की जाती है।

यह भी पढ़ें : एनसीआर के इस बड़े मॉल में अचानक गिर पड़ा छज्‍जा और फिर...- देखें वीडियो

लोगों का कहना है कि कई ठेकों पर 10 से 20 रुपये प्रति बोतल अधिक लिए जाते हैं। वहीं रात 10 बजे के बाद भी शटर बंद करके दुकानदार अधिक कीमत पर शराब बेच रहे हैं। हालांकि आबकारी अधिकारियों का कहना है कि इस तरह कि शिकायत मिलने पर तुंरत कार्रवाई की जाती है। साथ ही समय-समय पर जिले की सभी शराब की दुकानों का निरिक्षण भी किया जाता है।

यह भी पढ़ें : दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल लोकसभा चुनाव में यूपी की इस सीट से भरेंगे हुंकार

इस दौरान किसी तरह की लापरवाही मिलने पर जुर्माना भी किया जाता है। अगर आपके साथ भी कभी ऐसा हुआ है कि आपसे शराब या बीयर पर ओवररेट लिया गया तो आप शराब की दुकान के संचलाक को सबक सिखा सकते हैं। इसके लिए आपको UP Excise department को सूचना देनी पड़ेगी। वहीं विभाग की मानें तो शिकायत मिलने पर दुकानदारों के खिलाफ कार्रवाई की जाती है और 10 बजे के बाद यदि कोई शराब बेचता है तो उस पर जुर्माना भी लगाया जाता है।

यह भी पढ़ें : रहस्यमय बीमारी से दो सगी बहनों की मौत, परिवार में कोहराम, स्वास्थ्य विभाग में मचा हड़कंप

विभाग द्वारा बताया गया है कि अगस्त माह में 7 लाख रुपये का जुर्माना वसूला जा चुका है। जिला आबकारी अधिकारी राकेश कुमार सिंह का कहना है कि विभाग द्वारा लगातार औचक निरिक्षण कर कार्रवाई की जाती है। यदि कहीं ओवर रेटिंग की जाती है तो लोग हमसे संपर्क कर सकते हैं। सभी शराब की दुकानों पर आबकारी विभाग ने शिकायत नंबर लिखने के निर्देश भी दिए हुए हैं।

इन नंबरों पर करें शिकायत

9717569515

7007793811

Ad Block is Banned