scriptbreak the back of those who support terror | Patrika Opinion: आतंक को प्रश्रय देने वालों की कमर तोड़ें | Patrika News

Patrika Opinion: आतंक को प्रश्रय देने वालों की कमर तोड़ें

Published: Sep 28, 2022 10:45:40 pm

Submitted by:

Patrika Desk

बड़ी चुनौती यह भी है कि जिन संगठनों पर प्रतिबंध लगाया गया है, वे किसी नए संगठन से न जुड़ जाएं। पिछला अनुभव भी ऐसा ही है। ऐसे संगठन प्रतिबंध के बाद नई शक्ल लेकर वापस आते रहे हैं।

प्रतीकात्मक चित्र
प्रतीकात्मक चित्र
देश में पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआइ) और उसके आठ सहयोगी संगठनों पर पांच साल के लिए प्रतिबंध लगा दिया गया है। केंद्र सरकार ने यह कदम एनआइए की प्रारंभिक जांच के बाद उठाया है। प्रतिबंध से पहले एनआइए ने देश भर में इस संगठन केदफ्तरों पर छापे मारे। उसके दफ्तरों को सील कर दिया गया है। इन संगठनों पर आतंकी कनेक्शन और देश विरोधी गतिविधियां चलाने के आरोप हैं। सरकार ने माना है कि इन संगठनों की गतिविधियां देश की आंतरिक सुरक्षा के लिए खतरा हैं। जांच में इन संगठनों के भी आतंकी कनेक्शनमिले हैं।
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.