हे प्रभु! इन्हें माफ करना

हे प्रभु! इन्हें माफ करना
Nawazuddin Siddiqui

Shankar Sharma | Publish: Oct, 09 2016 11:57:00 PM (IST) विचार

जब से हमने सुना है कि रामलीला में अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी को 'मारीच' का पार्ट निबाहने से कुछ 'सैनिकों' ने रोक लिया तब से हम प्रभु राम और माता जानकी से यही प्रार्थना कर रहे हैं- हे प्रभु। इन्हें माफ करना क्योंकि ये नहीं जानते कि ये क्या कर रहे हैं

व्यंग्य राही की कलम से
जब से हमने सुना है कि रामलीला में अभिनेता नवाजुद्दीन सिद्दीकी को 'मारीच' का पार्ट निबाहने से कुछ 'सैनिकों' ने रोक लिया तब से हम प्रभु राम और माता जानकी से यही प्रार्थना कर रहे हैं- हे प्रभु। इन्हें माफ करना क्योंकि ये नहीं जानते कि ये क्या कर रहे हैं। क्षमा करें यह पूरा माफीनामा हमने क्राइस्ट के अमर वाक्य को चोरी करके बनाया है। लेकिन इसीलिए आप हमें चोर करार नहीं दे सकते कि हमारा मानना है कि यह लाइन्स यीशू ने सिर्फ अपने उन 'हत्यारों' के लिए नहीं कही थी, जिन्होंने उसे क्रूस पर चढ़ाया वरन उनके लिए भी कही थी जो यीशू के मरने के दो हजार साल बाद धर्म के नाम पर किसी को गोली से उड़ा देते हैं और किसी को एक महान विरासत नाटक में अभिनय करने से रोक देते हैं।

नवाज की सिर्फ यह गलती थी कि उन्होंने रामलीला में काम करने की अपनी बचपन की तमन्ना को पूरी करना चाहा। अभिनय के क्षेत्र में काम करने वाले शतप्रतिशत लोग यही कहते हैं कि उन्हें एक्टिंग करने का शौक 'रामलीला' देखकर ही चढ़ा। हमारा मानना है कि रामलीला किसी एक धर्म की बपौती नहीं है।

रामलीला तो इस देश के करोड़ों लोगों की जीवनशैली है। राम किसी खास समुदाय के ही आदर्श नहीं हैं। राम से तो कोई भी सीख ले सकता है। 'रामलीला' आज भी हमारे देश के कस्बों के सोशल फैब्रिक्स का ऐसा ताना-बाना बुनती है जो हमारे संस्कृति को सतरंगी बना देता है। पता नहीं क्यों हमारे 'क्रांति वीर' एक मूर्खतापूर्ण उत्साह में सामाजिक ताने-बाने को नष्ट-भ्रष्ट करने में जुटे हैं। अरे ओ धर्म के लड़ाकों!

हे को इस देश की मिलीजुली संस्कृति और सभ्यता में पलीता लगाने में जुटे हो। हमें ध्यान है कि हमारी नानी बचपन में हमें ताजिए के नीचे से निकालती थी इसलिए कि हमें लम्बी उम्र मिले। अच्छा है नानी मर गई वरना नवाज का किस्सा सुन वह हमें दस गाली देती और उसका बस चलता तो इस समय को ही आग लगा देती।



अगली कहानी
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned