scriptPatrika Opinion: Virat Kohli deserved farewell with respect | Patrika Opinion: सम्मान के साथ विदाई के हकदार थे विराट कोहली | Patrika News

Patrika Opinion: सम्मान के साथ विदाई के हकदार थे विराट कोहली

Patrika Opinion: इसे विडम्बना कहा जाएगा कि भारत के सबसे कामयाब टेस्ट कप्तान विराट कोहली को एक टेस्ट सीरीज के बाद इस फॉर्मेट की कप्तानी छोडऩे की घोषणा करनी पड़ी। विराट कोहली की उपलब्धियों को देखते हुए वह शानदार और सम्मानजनक विदाई के हकदार थे। बीसीसीआइ से तनातनी के कारण वह इससे वंचित रहे। मैदान में भले आप बड़े धुरंधर क्यों न हो, सत्ता से टकराव महंगा साबित होता है, कोहली की इस घोषणा से यह फिर साबित हो गया।

Updated: January 17, 2022 12:33:17 pm

Virat Kohli deserved farewell with respect : हर कहानी का कोई न कोई अंत होता है। इस लिहाज से भारतीय क्रिकेट में विराट कोहली की कप्तानी के युग का अंत भी एक सच्चाई है। अफसोस की बात यह है कि कप्तानी की यह कहानी कड़वे प्रसंगों के साथ खत्म हुई। विराट कोहली और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआइ) में कड़वाहट की शुरुआत भारतीय टीम के दक्षिण अफ्रीका दौरे से पहले हो गई थी। विराट के टी-20 फॉर्मेट की कप्तानी छोडऩे के फैसले से भन्ना कर बीसीसीआइ ने उन्हें अंतरराष्ट्रीय एक दिवसीय की कप्तानी से हटा दिया था।

सुलह के बजाय बीसीसीआइ प्रमुख सौरव गांगुली ने उनके खिलाफ जो आक्रामक रुख अपना रखा था, उसको लेकर लग रहा था कि विराट कोहली की टेस्ट कप्तानी से भी छुट्टी की जा सकती है। बीसीसीआइ को यह मौका देने के बजाय कोहली ने खुद सोशल मीडिया पर टेस्ट कप्तानी छोडऩे की घोषणा कर दी। मैदान में भले आप बड़े धुरंधर क्यों न हो, सत्ता से टकराव महंगा साबित होता है, कोहली की इस घोषणा से यह फिर साबित हो गया।

यह भी पढ़ें

राजनीति से गायब क्यों है साफ हवा का मुद्दा

विराट कोहली ने जब टी-20 की कप्तानी से हटने का फैसला किया था, उसी समय अगर बीसीसीआइ ने मान-मनुहार कर मामले को संभाला होता, तो कहानी इस अप्रिय मोड़ तक नहीं पहुंचती। हालांकि सौरव गांगुली का कहना है कि टी-20 की कप्तानी छोडऩे पर उन्होंने कोहली को फैसले पर पुनर्विचार की सलाह दी थी। कोहली राजी नहीं हुए तो बोर्ड को मजबूरन उन्हें एक दिवसीय की कप्तानी से हटाना पड़ा।

लेकिन कोहली का कहना है कि उन्हें किसी ने फैसले पर पुनर्विचार की सलाह नहीं दी और एक दिवसीय की कप्तानी से हटाने का फैसला भी अचानक बताया गया। जिसकी कप्तानी ने भारतीय क्रिकेट में नए जोश का सूत्रपात किया हो और देश को गर्व के कई पल दिए हों, उसके साथ ऐसा बर्ताव बीसीसीआइ की कार्यप्रणाली पर कई सवाल खड़े करता है।

सौरव गांगुली खुद कप्तान रह चुके हैं। वह कोहली की भावनाओं, अपेक्षाओं आकांक्षाओं को बेहतर समझ सकते थे, लेकिन उन्होंने भी वही उपेक्षापूर्ण रुख अपनाया, जिसके लिए बोर्ड के दूसरे पदाधिकारियों की आलोचना होती रही है।

इसे भी विडम्बना कहा जाएगा कि भारत के सबसे कामयाब टेस्ट कप्तान विराट कोहली को एक टेस्ट सीरीज के बाद इस फॉर्मेट की कप्तानी छोडऩे की घोषणा करनी पड़ी। विराट कोहली की उपलब्धियों को देखते हुए वह शानदार और सम्मानजनक विदाई के हकदार थे। बीसीसीआइ से तनातनी के कारण वह इससे वंचित रहे। उम्मीद की जानी चाहिए कि मैदान में उनकी पारी बदस्तूर जारी रहेगी। बल्ले से वह आज भी कमाल कर दिखाने का दम-खम रखते हैं।

यह भी पढ़ें

भ्रष्टाचार व छुआछूत सबसे बड़ा दंश

सम्मान के साथ विदाई के हकदार थे कोहलीविराट
सम्मान के साथ विदाई के हकदार थे विराट कोहली

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

यहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतियूपी में घर बनवाना हुआ आसान, सस्ती हुई सीमेंट, स्टील के दाम भी धड़ामName Astrology: पिता के लिए भाग्यशाली होती हैं इन नाम की लड़कियां, कहलाती हैं 'पापा की परी'इन 4 राशियों के लड़के अपनी लाइफ पार्टनर को रखते हैं बेहद खुश, Best Husband होते हैं साबितजून में इन 4 राशि वालों के करियर को मिलेगी नई दिशा, प्रमोशन और तरक्की के जबरदस्त आसारमस्तमौला होते हैं इन 4 बर्थ डेट वाले लोग, खुलकर जीते हैं अपनी जिंदगी, धन की नहीं होती कमी1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्ससंयुक्त राष्ट्र की चेतावनी: दुनिया के पास बचा सिर्फ 70 दिन का गेहूं, भारत पर दुनिया की नजर

बड़ी खबरें

आंध्र प्रदेश में जिले का नाम बदलने पर हिंसा, मंत्री का घर जलाया, कई घायलसेना का 'मिनी डिफेंस एक्सपो' कोलकाता में 6 से 9 जुलाई के बीचGujrat कांग्रेस के वरिष्ठ नेता का विवादित बयान, बोले- मंदिर की ईंटों पर कुत्ते करते हैं पेशाबRajya Sabha Election 2022: राजस्थान से मुस्लिम-आदिवासी नेता को उतार सकती है कांग्रेसIPL 2022, Qualifier 1 RR vs GT: पावर प्ले में गुजरात ने बनाए 1 विकेट के नुकसान पर 64 रन'तुम्हारे कदम से मेरी आँखों में आँसू आ गए', सिंगला के खिलाफ भगवंत मान के एक्शन पर बोले केजरीवालसमलैंगिकता पर बोले CM नीतीश कुमार- 'लड़का-लड़का शादी कर लेंगे तो कोई पैदा कैसे होगा'नवजोत सिंह सिद्धू को जेल में मिलेगा स्पेशल खाना, कोर्ट ने दी अनुमति
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.