scriptpaying the price of forgetting the idea that is Bharat | Patrika Opinion: 'भारत' को भूल जाने की कीमत | Patrika News

Patrika Opinion: 'भारत' को भूल जाने की कीमत

संप्रदाय चाहे कोई भी हो, उसके मठाधीशों की कुर्सी तभी तक टिकी रहती है जब तक उसके समुदाय को खतरा महसूस होता रहे।

Published: July 08, 2022 09:16:12 pm

भारत में धर्म कभी भी ऐसा मुद्दा नहीं रहा कि कोई उसके बारे में बात करने से डरे, साहित्यकार लिखने से परहेज करे और कलाकार कल्पना करना छोड़ दे। भारतीय संस्कृति ऐसी कालजयी कृतियों और कर्मों से भरी पड़ी है, जिन पर हम गर्व करते रहे हैं। पर पिछले कुछ सालों की घटनाएं हमें विचलित कर रही हैं। ताजा विवाद भारतीय मूल की कनाडाई फिल्म निर्माता-निर्देशक लीना मणिमेकलाई की डॉक्यूमेंट्री 'काली' के पोस्टर पर है, जिसमें मां काली की वेशभूषा वाली स्त्री का विवादित चित्रण किया गया है। इस पोस्टर ने पैगंबर मोहम्मद पर टिप्पणी से पैदा हुए विवाद की आग में घी डालने का काम किया है। रही-सही कसर राजनीति ने पूरी कर दी है। राजनेता वोट बैंक की सुविधा से प्रतिक्रियाएं देकर जनता को अलग-अलग ध्रुवों में बांटने के अपने चिर-परिचित जतन में तल्लीन हैं। किसी को इसकी परवाह नहीं कि हमारी 'सामाजिक दिशा' उसी तरफ क्यों घूम रही है जहां से 'धार्मिक-सांस्कृतिक परिष्कार' के बाद हम सदियों पहले आगे निकल चुके थे।

प्रतीकात्मक चित्र
प्रतीकात्मक चित्र
धर्म हमें परिष्कृत कर आगे बढ़ाता है, जबकि संप्रदाय ठहरने और बार-बार पीछे देखने के लिए मजबूर करता है। संप्रदाय चाहे कोई भी हो, उसके मठाधीशों की कुर्सी तभी तक टिकी रहती है जब तक उसके समुदाय को खतरा महसूस होता रहे। इसीलिए आधुनिक ईरान के संस्थापक अयातुल्ला खोमैनी ने 'सैटेनिक वर्सेज' लिखने के लिए जब 14 फरवरी 1989 को भारतीय मूल के ब्रिटिश लेखक सलमान रूश्दी का सिर कलम करने का फतवा जारी किया था तो हम भारतीय हक्के-बक्के रह गए थे। इस विवाद ने भारत में भी धर्म पर अकादमिक चर्चाओं व व्याख्यानों को धीरे-धीरे अभिव्यक्ति की आजादी के दायरे से बाहर कर दिया। ऐसा न करने पर पेरिस में फ्रांसीसी पत्रिका 'शार्ली एब्दो' के दफ्तर में हुआ कत्लेआम सबके सामने है।
'सैटेनिक वर्सेज' पर विवाद के तीन दशक बीत चुके हैं। पूरी दुनिया में कट्टरता बढ़ती जा रही है। देश में ताजा विवाद के चलते दो लोगों की जान जा चुकी है, जबकि सैकड़ों अन्य लोगों को सिर्फ इसलिए धमकियां मिल रही हैं कि उन्होंने विवादित टिप्पणी करने वाली भाजपा नेता की सोशल मीडिया पोस्ट को पसंद किया था। भारत ऐसा कभी नहीं था। इसलिए अब भारतीय संस्कृति को कलंकित करने वालों को 'मानवता का शत्रु' करार देना जरूरी हो गया है। बिना किसी भेदभाव के केंद्र सरकार को ऐसा कानून बनाना चाहिए जिसकी छतरी सभी भारतीयों के लिए एक जैसी हो, सधे शब्दों में धर्म पर चर्चा करना गुनाह न हो और बौद्धिक चर्चाओं का जवाब हथियार से देने की कोई हिम्मत न करे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

JDU ने BJP से गठबंधन तोड़ने का किया ऐलान, RJD के साथ है प्लान तैयारBihar Political Crisis Live Updates: बिहार में जदयू और भाजपा का गठबंधन टूटा, सीएम आवास के पास सुरक्षा की कड़ी व्यवस्थाबिहारः जदयू और भाजपा के बीच तकरार की वो पांच वजहें, जिससे टूटने के कगार पर पहुंची नीतीश कुमार सरकारMaharashtra Cabinet Expansion Live Updates: महाराष्ट्र कैबिनेट का शपथ ग्रहण समारोह खत्म, शिवसेना और बीजेपी के 18 विधायकों ने ली शपथकेजरीवाल का दावा- राष्ट्रीय पार्टी बनने से एक कदम दूर है AAP, किसी पार्टी को कैसे मिलता है राष्ट्रीय दल का दर्जा?ताइवान का चीन समेत दुनिया को संदेश: चीन के सैन्य अभ्यास के तुरंत बाद ताइवान ने भी शुरू की Live Fire Artillery Drill, बज गए युद्ध के नगाड़ेकांग्रेस के स्टार प्रचारक मिर्ची बाबा रेप के केस में गिरफ्तार, भाजपा नेताओं से भी संबंधब्रिटेन के पीएम उम्मीदवार Rishi Sunak ने शेयर की पत्नी अक्षता के साथ अपनी लव लाइव
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.