scriptphasing out of mig 21 need to be hastened | Patrika Opinion: मिग-21 को बेड़े से हटाने में तेजी लानी होगी | Patrika News

Patrika Opinion: मिग-21 को बेड़े से हटाने में तेजी लानी होगी

सेना ने युद्धक विमान के साथ-साथ दोनों पायलटों को खो दिया। मिग-21 से जुड़े हादसों की ऐसी दर्दनाक कहानियां हर बार इस युद्धक विमान की प्रासंगिकता पर सवाल खड़े करती हैं।

Published: July 31, 2022 10:09:53 pm

एक दौर में भारतीय वायुसेना की रीढ़ रहे मिग-21 युद्धक विमान को रक्षा बेड़े से हटाने की प्रक्रिया में तेजी लाने की मांग फिर उठने लगी है। बड़ी वजह यह है कि मिग-21 युद्धक विमान एक के बाद एक हादसों का शिकार हो रहे हैं। बाड़मेर के उत्तरलाई एयरबेस से प्रशिक्षण उड़ान भरने वाले विमान में गुरुवार को खराबी आई तो उसके दोनों पायलटों को पैराशूट का इस्तेमाल करने का मौका ही नहीं मिला। सेना ने युद्धक विमान के साथ-साथ दोनों पायलटों को खो दिया। मिग-21 से जुड़े हादसों की ऐसी दर्दनाक कहानियां हर बार इस युद्धक विमान की प्रासंगिकता पर सवाल खड़े करती हैं।
प्रतीकात्मक चित्र
प्रतीकात्मक चित्र
इसमें कोई संदेह नहीं कि तत्कालीन सोवियत संघ की ओर से देश को उपलब्ध कराए गए मिग श्रेणी के इस विमान की 1971 के भारत-पाक युद्ध समेत कई आपात परिस्थितियों में अहम भूमिका रही है। यह भी सही है कि इस विमान को अपग्रेड कर उड़ान के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है। रक्षा मंत्रालय भी इस युद्धक विमान को चरणबद्ध रूप से अपने बेड़े से हटाने की तैयारी तो कर रहा है लेकिन हादसों की बढ़ती गिनती इस तैयारी में तेजी लाने की जरूरत बता रही है। लेकिन समय के साथ-साथ युद्ध क्षमता को और समृद्ध करने व अनुपयोगी साबित हो रहे विमानों को जल्द ही बेड़े से बाहर करने पर विचार जरूरी है। इसका कारण यह है कि शुरुआत से अब तक भारत 400 से ज्यादा मिग और 200 से ज्यादा पायलट खो चुका है। इनमें 44 पायलट तो पिछले पांच साल में ही जान गंवा चुके हैं। चिंताजनक तथ्य यह है कि अब तक के युद्धों में हमने इतने पायलट नहीं खोए हैं, जितनेे वे प्रशिक्षण उड़ानों के दौरान शहीद हुए हैं। हादसों की इतनी बड़ी संख्या के कारण ही मिग को कई विशेषज्ञ 'उड़ता ताबूत' तक की संज्ञा देते रहे हैं। ऐसे में इस विमान को हटाने में और देरी नहीं होनी चाहिए। हमने देखा है कि भारत की फ्रांस से रफाल विमान लेने की योजना को भी अंजाम तक पहुंचने में दस साल से अधिक समय लग गया। फ्रांस से सभी 36 रफाल हाल ही में भारत को मिल पाए हैं।
इसी तरह देश की ही हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड से 83 सुपरसोनिक तेजस विमान हासिल करने के 2007 के 48 हजार करोड़ के अनुबंध को इस साल फरवरी में अंतिम रूप मिला है। सारे विमान मिलने में अभी काफी समय लगेगा। हमें विमानों के विस्थापन की ठोस नीति बनानी होगी। ताकि हमारे रक्षा बेड़े की हर चुनौती का सामना करने की ताकत बनी रहे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

नीतीश कुमार ने कहा, 'BJP ने हमेशा किया अपमानित, की कमजोर करने की कोशिश'JDU ने BJP से गठबंधन तोड़ने का किया ऐलान, RJD के साथ है प्लान तैयारBihar Political Crisis Live Updates: नीतीश कुमार- बीजेपी ने हमेशा अपमानित किया, थोड़ी देर में तेजस्वी संग पहुंचेंगे राजभवनGoogle: अमरीका के गूगल स्थित डेटा सेंटर में बड़ा हादसा,आग लगने से तीन कर्मचारी झुलसे, सेवाएँ बाधित होने की आशंकाकेजरीवाल का दावा- राष्ट्रीय पार्टी बनने से एक कदम दूर है AAP, किसी पार्टी को कैसे मिलता है राष्ट्रीय दल का दर्जा?40 साल के सियासी सफर में 17 साल से सत्ता में नीतीश कुमार, लेकिन पुराने सहयोगियों को कई बार दे चुके हैं दगाBJP के मंत्रियों के इस्तीफे पर सभी ने साधी चुप्पी, क्या खेल है अभी बाकी, या फिर पलट सकता है पासाताइवान का चीन समेत दुनिया को संदेश: चीन के सैन्य अभ्यास के तुरंत बाद ताइवान ने भी शुरू की Live Fire Artillery Drill, बज गए युद्ध के नगाड़े
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.