scriptShould India pay special attention to drone technology? | आपकी बात, क्या भारत को ड्रोन तकनीक पर खास ध्यान देना चाहिए? | Patrika News

आपकी बात, क्या भारत को ड्रोन तकनीक पर खास ध्यान देना चाहिए?

पत्रिकायन में सवाल पूछा गया था। पाठकों की मिलीजुली प्रतिक्रियाएं आईं, पेश हैं चुनिंदा प्रतिक्रियाएं।

Published: May 12, 2022 04:20:13 pm

आपकी बात, क्या भारत को ड्रोन तकनीक पर खास ध्यान देना चाहिए? पत्रिकायन में सवाल पूछा गया था। पाठकों की मिलीजुली प्रतिक्रियाएं आईं, पेश हैं चुनिंदा प्रतिक्रियाएं।

.........................

उपयोगी है ड्रोन तकनीक
आधुनिक हथियारों की दौड़ में ड्रोन ने अपनी विशिष्ट पहचान बनाई है। इस छोटे से हवाई हथियार ने विश्व जगत में सभी नामवर देशों को अपनी तरफ आकर्षित किया है। ड्रोन तकनीक, बेहद कारगर साबित हो रही है। ड्रोन आसानी से संचालित होने के साथ, दुश्मन की सरहद में जाकर अपने टारगेट पर सटीक निशाना साधने में सक्षम होते हैं। भारत को अपनी सैन्य शक्ति को बढ़ाने के लिए ड्रोन तकनीक पर ध्यान देकर, इसे अपना प्रमुख हथियार बनाना होगा। ड्रोन के निर्माण में तेजी लानी होगी। अत्याधुनिक ड्रोन सिस्टम पर अनुसंधान करके इस्तेमाल करने के प्रयास तेज करने होंगे। मानव रहित हवाई हमलों का छोटा कारगर हथियार ड्रोन भारत देश के लिए बहुत ही उपयोगी साबित होगा।
-प्रदीप कुमार छाजेड़, तिंवरी,जोधपुर
............................
स्वदेशी तकनीक पर रहे ध्यान
ड्रोन तकनीक का उपयोग सुरक्षा से लेकर मौसम विज्ञान, आपदा प्रबंधन, सर्वेक्षण, खेती किसानी, सामान पहुंचाने और फोटोग्राफी में भरपूर हो रहा है। ड्रोन की उपयोगिता को देखते हुए ही केन्द्र सरकार ने नई ड्रोन नीति का ऐलान किया है। भारत घरेलू मोर्चे पर अनुसंधान और विकास पर खर्च कर अपनी ड्रोन क्षमता बढ़ाने के प्रयास कर रहा है। भविष्य मे मानव रहित युद्धों की संभावनाओं से इंकार नहीं किया जा सकता है। इनके मद्देनजर भारत को बड़े पैमाने पर स्वदेशी और स्वनिर्मित ड्रोन तकनीक को प्रोत्साहित करना होगा।
-नरेश कानूनगो, देवास, मध्यप्रदेश
..............
आपकी बात, क्या भारत को ड्रोन तकनीक पर खास ध्यान देना चाहिए?
आपकी बात, क्या भारत को ड्रोन तकनीक पर खास ध्यान देना चाहिए?
विशेष कार्य योजना की जरूरत
केंद्र सरकार को देश में ड्रोन तकनीक को बढ़ावा देने के लिए विशेष कार्य योजना तैयार करनी चाहिए। देश के सभी महत्वपूर्ण स्थानों जैसे-एयरपोर्ट, रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड और गली मोहल्लों में ड्रोन तकनीक के इस्तेमाल करने की अनुमति दी जानी चाहिए। इससे सभी सुरक्षित रहेंगे।
-आलोक वालिम्बे, बिलासपुर, छत्तीसगढ़
..................
ड्रोन तकनीक में पिछडऩा घातक
भविष्य के युद्धों में अब ड्रोन तकनीक की महत्त्वपूर्ण भूमिका होगी। पाकिस्तान ने ड्रोन तकनीक से पंजाब में हथियार गिराए। पाकिस्तान और चीन इस तकनीक मेें भारत से आगे निकल चुके हैं। पाकिस्तान और चाइना ने इनके युद्ध परीक्षण भी कर लिए हैं। ड्रोन तकनीक में बिछडऩा भारत के लिए घातक साबित हो सकता है।
-माधव सिंह, श्रीमाधोपुर, सीकर
..................
रक्षा के साथ दूसरे कामों भी ड्रोन का इस्तेमाल
भारत को वर्तमान वैश्विक परिदृश्य को ध्यान मे रखते हुए ड्रोन के निर्माण और शोध पर ध्यान देना होगा। ड्रोन तकनीक का उपयोग रक्षा ही नहीं हैल्थ केयर, कृषि, खनन के साथ निगरानी के कार्य में प्रभावशाली तरीके से हो सकता है। ड्रोन तकनीक पर खास ध्यान देने की जरूरत है, क्योंकि हाल के कुछ वर्षों देश की पश्चिमी सीमा पर ड्रोन से हथियार, गोला- बारूद और ड्रग्स गिराने जैसी गतिविधियां नजर आई हैं।
-अशोक कुमार शर्मा, झोटवाड़ा, जयपुर
............
नई तकनीक की उपेक्षा ठीक नहीं
आधुनिक नवाचारों को अपनाया जाना प्रत्येक देश के लिए आवश्यक हो जाता है। जब दूसरे देश किसी तकनीक का प्रयोग कर रहे हों, तो भारत कैसे उससे अछूता रह सकता है। ये जरूरी नहीं है कि हर तकनीक का इस्तेमाल विध्वंसक कार्यों में और जासूसी में ही किया जाए। आत्मरक्षा और विकासात्मक कार्यों के लिए भी आधुनिक तकनीकों को अपनाया जाता है। इसलिए भारत को ड्रोन तकनीक पर खास ध्यान देने की जरूरत है।
रजनी वर्मा, श्रीगंगानगर
....................
ठोस कदम उठाए
ड्रोन तकनीक में आगे बढऩे के लिए हमें ठोस कदम उठाने की आवश्यकता है। ऐसी तकनीक पर ध्यान देना होगा, जो रक्षा शिक्षा चिकित्सा के क्षेत्र में अग्रणी भूमिका निभा सके, ताकि हमें विश्व के अन्य देशों की ओर मुंह नहीं देखना पड़े।
-प्रहलाद यादव, महू, म.प्र.
............
इजरायल से सीख लें
आंतरिक और बाहरी आक्रमणों, उपद्रव और घुसपैठ को रोकने के लिए तथा खुफिया जानकारी प्राप्त करने के लिए हमें भी इजराइल की तरह आत्मनिर्भर बनना चाहिए। महंगे ड्रोन आयात करने की अपेक्षा हमें सस्ते ड्रोन बनाने चाहिए । डीआरडीओ और इसरो में निवेश बढ़ाया जाए। युवा वैज्ञानिकों को अनुसंधान के लिए प्रोत्साहन दिया जाए।
-एकता शर्मा
................
सरकार दे ध्यान
भारत में ड्रोन तकनीक को सशक्त और मजबूत बनाने की आवश्यकता है। इसलिए सरकार को इस तरफ ध्यान देना ही होगा।
संदीप छीपा, दौसा
........

दुश्मन देश के ड्रोनों से सावधानी जरूरी
विश्व के ज्यादातर देश ड्रोन तकनीक पर ध्यान दे रहे हैं। भारत भी ड्रोन तकनीक को लेकर गंभीर है। साथ ही दुश्मन देश के ड्रोनों को नष्ट करने पर भी ध्यान देना होगा।
-अजिता शर्मा, उदयपुर

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

सीएम Yogi का बड़ा ऐलान, हर परिवार के एक सदस्य को मिलेगी सरकारी नौकरीचंडीमंदिर वेस्टर्न कमांड लाए गए श्योक नदी हादसे में बचे 19 सैनिकआय से अधिक संपत्ति मामले में हरियाणा के पूर्व CM ओमप्रकाश चौटाला को 4 साल की जेल, 50 लाख रुपए जुर्माना31 मई को सत्ता के 8 साल पूरा होने पर पीएम मोदी शिमला में करेंगे रोड शो, किसानों को करेंगे संबोधितराहुल गांधी ने बीजेपी पर साधा निशाना, कहा - 'नेहरू ने लोकतंत्र की जड़ों को किया मजबूत, 8 वर्षों में भाजपा ने किया कमजोर'Renault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चIPL 2022, RR vs RCB Qualifier 2: राजस्थान ने बैंगलोर को 7 विकेट से हराया, दूसरी बार IPL फाइनल में बनाई जगहपूर्व विधायक पीसी जार्ज को बड़ी राहत, हेट स्पीच के मामले में केरल हाईकोर्ट ने इस शर्त पर दी जमानत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.