scripttravellog : Deogarh is a beautiful place for tourists | ट्रैवलॉग अपनी दुनिया : देवगढ़ में नौ सौ कुएं, आठ सौ बावडिय़ां | Patrika News

ट्रैवलॉग अपनी दुनिया : देवगढ़ में नौ सौ कुएं, आठ सौ बावडिय़ां

पहाड़ों से घिरी एक सुरम्य घाटी का नाम ही देवगढ़ है। कटोरे के आकार की यह घाटी प्रकृति ने इस प्रकार रची है, जैसे चुन-चुन कर पहाड़ों को इस घाटी की सुरक्षा के लिए नियुक्त किया गया हो।

नई दिल्ली

Published: July 29, 2021 11:14:30 am

कायनात काजी

(लेखिका फोटोग्राफर, ब्लॉगर और स्टोरीटेलर हैं)

देवगढ़ मध्यप्रदेश के छिंदवाड़ा जिले में स्थित है। यह सतपुड़ा पर्वत मालाओं की सुरम्य घाटी में बसा हुआ है। छिंदवाड़ा से 40 किलोमीटर की दूरी पर स्थित यह स्थान जंगलों के भीतर किसी छुपे खजाने जैसा है। जब शहर की चकाचौंध को पीछे छोड़ते हुए जंगल में प्रवेश करते हैं, तो नजारे किसी चित्रकार की अनुपम रचना की तरह लगते हैं। मिट्टी से लेकर वनस्पति और आकाश के रंग भी गहरे होने लगते हैं। उमरा नाला को पार कर जब पहाड़ों के घाट उतरने की बारी आती है, तब तक कोई कल्पना भी नहीं कर सकता कि दूर क्षितिज तक फैले इन जंगलों के भीतर एक घाटी भी हो सकती है, जहां कभी एक वैभवपूर्ण नगर होता था।

ट्रैवलॉग अपनी दुनिया : देवगढ़ में नौ सौ कुएं, आठ सौ बावडिय़ां
ट्रैवलॉग अपनी दुनिया : देवगढ़ में नौ सौ कुएं, आठ सौ बावडिय़ां

पहाड़ों से घिरी एक सुरम्य घाटी का नाम ही देवगढ़ है। कटोरे के आकार की यह घाटी प्रकृति ने इस प्रकार रची है, जैसे चुन-चुन कर पहाड़ों को इस घाटी की सुरक्षा के लिए नियुक्त किया गया हो। देवगढ़ के उत्तर में स्थित पहाड़ खैरगोंडी के नाम से जाना जाता है। दक्षिण में नाई घुण्डी पहाड़ स्थित है, इसी से जुड़ा दाईं ओर डोरली पहाड़ दूर से किसी दीवार सा दिखाई देता है। उसके आगे पश्चिम दिशा में कोसा बड़ीचुई खदान पहाड़ी है, जिसके दामन में देव झिरी नदी बहती है। इस पहाड़ के विपरीत दिशा यानी पश्चिम में देवगढ़ घाटी पहाड़ मौजूद है, जिसके दामन में देव नदी बहा करती है। यह नदी आगे जाकर कन्हन नदी में मिलती है।

इस अनोखी भौगोलिक स्थिति को देख मन आश्चर्य से भर जाता है। जैसे किसी बड़े वास्तुकार ने बड़ी सोच समझ के साथ इस स्थान को गढ़ा होगा। इस स्थान को प्रकृति ने कुछ इस प्रकार गढ़ा है कि कितनी ही वर्षा क्यों न हो, देवगढ़ में रहने वाले लोगों को कभी बाढ़ का सामना नहीं करना पड़ेगा। इस स्थान पर अतिरिक्त जल निकासी का पुख्ता इंतजाम दो नदियों द्वारा किया जा चुका है। यहां पहाड़ों की परतों के बीचों बीच एक पहाड़ है, जिस पर देवगढ़ का किला बना है। इस किले की खासियत है कि बाहर से देखने पर किला दिखाई ही नहीं देता है। यह किला किसी पुस्तक के समान है, जो धीरे-धीरे पन्नों की तरह खुलता है। नीचे विजयगढ़ से देखने पर भी यह किला नजर नहीं आता। सिर्फ पहाड़ की चोटी पर हवा में लहराती मां चंडी की पताका ही दिखाई देती है, जबकि किले से नीचे देखने पर पूरा विजयगढ़ नजर आता है।

देवगढ़ के दामन में फैली हैं सोलहवीं शताब्दी की बावडिय़ां, जो कि पहले गुमनामी में थीं। हाल ही में इन बावडिय़ों का जीर्णोद्धार किया गया है। देवगढ़ का जलनिधि से बड़ा पुराना रिश्ता है। यह कहानियों किस्सों का स्थान है। यहां के बारे में जनमानस में यह बात प्रचलित है- '900 कुएं, 800 बावडिय़ां'। इसका कोई लिखित प्रमाण नहीं है, लेकिन यहां का हर आदमी इसे सच मानता है। देवगढ़ के जंगलों में मिट्टी, पेड़ों, झाडिय़ों से दबे ये कुएं और बावडिय़ां वास्तव में अस्तित्व में हैं। देवगढ़ में जगह-जगह मिली इन बावडिय़ों को देख कर अंदाजा लगाना मुश्किल है कि इन बावडिय़ों का निर्माण करते हुए उस समय के लोगों की सोच क्या रही होगी। देवगढ़ के आस-पास का जंगल सतपुड़ा के घने जंगलों का हिस्सा है। यहां इको-टूरिज्म की अपार संभावना है। इस जगह में ऐसा जादुई आकर्षण है कि जो यहां एक बार आ जाता है, यहीं का होकर रह जाता है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

धन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोगशाहरुख खान को अपना बेटा मानने वाले दिलीप कुमार की 6800 करोड़ की संपत्ति पर अब इस शख्स का हैं अधिकारजब 57 की उम्र में सनी देओल ने मचाई सनसनी, 38 साल छोटी एक्ट्रेस के साथ किए थे बोल्ड सीनMaruti Alto हुई टॉप 5 की लिस्ट से बाहर! इस कार पर देश ने दिखाया भरोसा, कम कीमत में देती है 32Km का माइलेज़UP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्यअब वायरल फ्लू का रूप लेने लगा कोरोना, रिकवरी के दिन भी घटेइन 12 जिलों में पड़ने वाल...कोहरा, जारी हुआ यलो अलर्ट2022 का पहला ग्रहण 4 राशि वालों की जिंदगी में लाएगा बड़े बदलाव
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.