scriptWhat policies should be made for poverty alleviation? | आपकी बात, गरीबी उन्मूलन के लिए किस तरह की सरकारी नीतियां होनी चाहिए ? | Patrika News

आपकी बात, गरीबी उन्मूलन के लिए किस तरह की सरकारी नीतियां होनी चाहिए ?

पत्रिकायन में सवाल पूछा गया था। पाठकों की मिलीजुली प्रतिक्रियाएं आईं, पेश हैं चुनिंदा प्रतिक्रियाएं।

Published: November 02, 2021 05:03:54 pm

बढ़ानी होगी आय
गरीबी उन्मूलन के लिए लोगों की आय बढ़ानी होगी। गरीबी उन्मूलन और सामाजिक सुरक्षा योजनाओं को सही सोच के साथ लागू किया जाना चाहिए। कई देशों में गरीबी को कम करने के लिए सशर्त नकद हस्तांतरण को एक प्रभावी साधन के रूप में प्रस्तावित किया गया है। हालांकि पूर्ण लाभ पाने के लिए गुणवत्तापूर्ण शिक्षा, स्वास्थ्य और पोषण प्रदान करने में सक्षम सामाजिक बुनियादी ढांचे के निर्माण की आवश्यकता है। यूटिलिटी, विद्युतीकरण, आवास, ट्रांसपोर्टेशन सुविधाओं के विकास पर भी ध्यान देने की आवश्यकता है। कृषि क्षेत्र में सुधार भी जरूरी हंै, ताकि मानसून पर निर्भरता कम हो। निर्माण क्षेत्र को बढ़ावा मिले तथा ग्रामीण विकास पर ध्यान दिया जाए। सार्वजनिक स्वास्थ्य, शिक्षा पर अधिक निवेश की जरूरत है। गुणात्मक शिक्षा, कौशल विकास पर ध्यान केंद्रित करने के साथ ही रोजगार के अवसर के अवसर बढ़ाने की आवश्यकता है।
-राकेश देवडे़, देवास
........................
आपकी बात, गरीबी उन्मूलन के लिए किस तरह की सरकारी नीतियां होनी चाहिए ?
आपकी बात, गरीबी उन्मूलन के लिए किस तरह की सरकारी नीतियां होनी चाहिए ?
प्राथमिकता का निर्धारण किया जाए
गरीबी उन्मूलन के लिए बनाई गई योजनाओं में उन परिवारों का चयन प्राथमिकता से किया जाए, जिनके अधिकतम दो संतान हों। द्वितीय वरीयता में वे दंपती लिए जाएं, जिनके दो से अधिक सन्तान हों, लेकिन परिवार कल्याण के स्थाई विकल्प का चयन कर चुके हों। साथ ही यह भी सुनिश्चित किया जाए कि लाभान्वित परिवार अपने बच्चों को स्कूल भेजेंगे। सरकार यह भी सुनिश्चित करे कि आवास लाभार्थी सिर्फ खुद के लिए ही आवासीय का उपयोग करेंगे। किसी भी स्थिति मे घर किराए पर देने, विक्रय या हस्तांतरित करने का हक नहीं हो। गरीबी उन्मूलन के लिए शिक्षा को प्राथमिक स्तर से ही रोजगारोन्मुखी बनाना होगा, ताकि अल्प शिक्षित भी स्वरोजगार का सृजन कर गरीबी के दलदल से बाहर निकल सके।
-बाल कृष्ण जाजू, जयपुर
......................
आर्थिक विषमता कम की जाए
यह बात सही है कि देश में पहले के मुकाबले समृद्धि आई है, लेकिन इसके साथ आर्थिक विषमता भी बढ़ी है। अमीर तो ज्यादा अमीर हो ही रहे हैं, लेकिन गरीब और गरीब भी हो रहे हैं। गरीबी को कम करने के लिए आर्थिक विषमता को कम करना जरूरी है। अमीर और गरीब की खाई कम करने के प्रयास समय रहते करने होंगे।
-साजिद अली, इंदौर
................
लघु एवं छोटे उद्योगों को बढ़ावा दिया जाए
लघु एवं छोटे उद्योगों को बढ़ावा देने के साथ बेरोजगारों को रोजगार उपलब्ध करवाए जाएं। जो लोग गरीब हैं, उनकी वास्तविकता जानकर उनको सरकारी योजनाओं का फायदा दिया जाए।
-बिहारी लाल बालान, लक्ष्मणगढ, सीकर
......................
गरीबोन्मुखी नीतियां बनाई जाए
जो भी नीति बनाई जाए, उसमें गरीबों का ध्यान रखा जाए। वर्तमान में नीतियां धनाढ्य वर्ग को ध्यान में रखकर बनाई जाती हैं, जो सरासर गलत है। गरीबों की पहचान के बाद उनके लिए मुफ्त राशन, किराए में छूट, रोजगार आदि की व्यवस्था के लिए नीतियां बनाई जाएं।
-अक्षय कुमार मोदी, सादुलपुर, चूरू
.....................
मिले उचित काम, उचित दाम
श्रमिकों के लिए भरपूर रोजगार के अवसर हों और श्रम का मूल्यांकन न्यायसंगत हो तो उनका जीवन स्तर ऊंचा होगा। गरीबों को नि:शुल्क स्वास्थ, शिक्षा जैसी सुविधाएं मुहैया करवाई जाए। अमीरों द्वारा श्रमिकों के शोषण से गरीबी उत्पन्न होती है।
-मुकेश भटनागर, वैशालीनगर, भिलाई
......................
बदलनी होगी सोच
गरीबों को गरीबी के दलदल से निकालने के लिए ऐसी सरकारी योजनाएं बनानी चाहिए, जिससे आर्थिक विषमता कम हो। अमीरों को ज्यादा अमीर और गरीबों को ज्यादा गरीब बनाने वाली सोच को दरकिनार रखना होगा। गरीबी मिटाने के प्रयासों मे तेजी लाई जाए, तभी गरीबी का उन्मूलन किया जा सकता है।
-नरेश कानूनगो, बैंगलूरू, कर्नाटक.
..................
भेदभाव खत्म करना होगा
लैंगिक और जातिगत भेदभाव को मिटाना होगा। समाज में ऐसी कई कुप्रथाएं और कुरीतियां प्रचलित हैं, जिनकी वजह से गरीब कमजोर रह जाता है। इन सामाजिक बंदिशों को खत्म करना होगा। प्राथमिक स्तर की शिक्षा के जैसे उच्च स्तरीय शिक्षा में भी प्रतिभावान और आर्थिक तौर पर कमजोर विद्यार्थियों को निशुल्क शिक्षा और अवसरों में अग्रणी स्थान मिले। सरकारी विद्यालयों की शिक्षा का स्तर उठाना होगा, इससे गरीब और आर्थिक रूप से कमजोर तबके के लोग भी अपने बच्चों को बेहतर शिक्षा दिलवा पाएंगे।
-अंकित शर्मा, जयपुर
.....................
युवाओं को बनाएं स्वावलंबी
सरकारी नीतियां ऐसी हों, जो गरीबी, अज्ञानता, बीमारी एवं अवसरों के अभाव का शिकार हैं, उनके आंसू पौंछ सकें। समाज में व्याप्त असमानताओं को दूर करने और ग्रामीण विकास के लिए आवंटित धन की बंदरबांट रोकने की जरूरत है। विभिन्न लघु उद्योगों में प्रशिक्षण कर युवा वर्ग को स्वावलंबी बनाने पर ध्यान देना चाहिए।
-शिवजी लाल मीना, जयपुर
.....................
जरूरी है मेहनत का उचित दाम
हर हाथ को काम और काम के बदले उचित दाम मिलना चाहिए। बेरोजगार युवाओं को उनकी शारीरिक व शिक्षा की क्षमता के हिसाब से स्थानीय स्तर पर रोजगार उपलब्ध कराना चाहिए।
-माधव सिंह, श्रीमाधोपुर, सीकर

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Cash Limit in Bank: बैंक में ज्यादा पैसा रखें या नहीं, जानिए क्या हो सकती है दिक्कततत्काल पैसों की जरुरत है? तो जानिए वो 25 बैंक जो दे रहे हैं सबसे सस्ता Personal LoanNew Maruti Alto का इंटीरियर होगा बेहद ख़ास, एडवांस फीचर्स और शानदार माइलेज के साथ होगी लॉन्चVIDEO: राजस्थान में 24 घंटे के भीतर बारिश का दौर शुरू, शनिवार को 16 जिलों में बारिश, 5 में ओलावृष्टिश्री गणेश से जुड़ा उपाय : जो बनाता है धन लाभ का योग! बस ये एक कार्य करेगा आपकी रुकावटें दूर और दिलाएगा सफलता!प्रदेश में कल से छाएगा घना कोहरा और शीतलहर-जारी हुआ येलो अलर्टइन 4 राशि की लड़कियां अपने पति की किस्मत जगाने वाली मानी जाती हैंToyoto Innova से लेकर Maruti Brezza तक, CNG अवतार में आ रही है ये 7 मशहूर गाड़ियां, जानिए कब होंगी लॉन्च

बड़ी खबरें

Assembly Election 2022: चुनाव आयोग का फैसला, रैली-रोड शो पर जारी रहेगी पाबंदीगोवा में बीजेपी को एक और झटका, पूर्व सीएम लक्ष्मीकांत पारसेकर ने भी दिया इस्तीफाUP चुनाव में PM Modi से क्यों नाराज़ हो रहे हैं बिहार मुख्यमंत्री नितीश कुमारसुरक्षा एजेंसियों की भुज में बड़ी कार्यवाही, 18 लाख के नकली नोटों के साथ डेढ़ किलो सोने के बिस्किट किए बरामदUP Assembly Elections 2022 : टिकट कटा तो बदली निष्ठा, कोई खोल रहा अपने नेता की पोल तो कोई दे रहा मरने की धमकीAssembly Election 2022: मोबाइल में डाउनलोड करना चाहते हैं Voter iD Card, स्टेप बाय स्टेप फॉलो ये प्रोसेसCorona Update: कोरोना की बेकाबू रफ्तार के बीच राहत की खबर, हर दिन 5 हजार से अधिक मरीज हो रहे ठीकUP Election 2022 : कोविड अस्पताल के निरीक्षण के बहाने सीएम योगी ने भाजपा नेताओं को दिया जीत का मंत्र
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.