आपकी बात, अर्थव्यवस्था की मजबूती के लिए सरकार क्या करे?

पत्रिकायन में सवाल पूछा गया था। पाठकों की मिलीजुली प्रतिक्रिया आईं, पेश हैं चुनिंदा प्रतिक्रियाएं।

By: Gyan Chand Patni

Published: 24 Jan 2021, 06:37 PM IST

रोजगार बढ़ाने की जरूरत
अर्थव्यवस्था को मजबूती देने के लिए सरकार को नए रोजगार का सृजन करना चाहिए। अगर रोजगार बढ़ेगा तो स्वाभाविक रूप से अर्थव्यवस्था का पहिया भी तेजी से घूमेगा। डिजिटल क्रांति के रूप में एक ऐसा अवसर है, जिसे भुनाने पर भारत विश्व की सबसे बड़ी आर्थिक महाशक्ति बन सकता है
-शुभम वैष्णव, सवाई माधोपुर
...........................

गांवों पर ध्यान
'स्किल इंडिया' की तर्ज पर 'स्किल विलेज' का अभियान चलाया जाना चाहिए, ताकि हर गांव की खासियत और कुशलता के अनुसार स्किल का निर्माण किया जा सके। भारत की आत्मा गांवों में बसती है। इसलिए यह काम जरूरी है।
-महेंद्र राज सिंह चौहान, बांसवाड़ा
........................

सही कृषि नीति को प्राथमिकता
अर्थव्यवस्था की मजबूती के लिए सरकार कुछ बातों को प्राथमिकता दे। रोजगार के अवसर मुहैया कराए,, किसानों के जीवन स्तर में सुधार लाने के लिए प्रयास हों। सही कृषि नीति बनाए जाने पर ध्यान दिया जाए। मांग-आपूर्ति में संतुलन बनाए रखने के लिए औद्योगिक उत्पादन में बढ़ोतरी आवश्यक है।
-शिवजी लाल मीना, जयपुर
.............................

लघु एवं मध्यम श्रेणी के उद्योगों का बढ़ावा दिया जाए
अर्थव्यवस्था की मजबूती के लिए सरकार को लघु एवं मध्यम श्रेणी के उद्योगों को बढ़ावा देने के साथ-साथ निर्यात संवर्धन के प्रयासों को गंभीरता से लेना चाहिए। आत्मनिर्भर भारत अभियान अर्थव्यवस्था में मजबूती के लिए एक महत्त्वपूर्ण योगदान दे सकता है।
-रवि शर्मा, गंगापुर सिटी
...........................

कोविड के कारण अर्थव्यवस्था दबाव में
कोविड-19 महामारी के कारण पूरी वैश्विक अर्थव्यवस्था डगमगा गई है। ऐसे में भारत जैसे विकासशील देश को अर्थव्यवस्था को पुनर्जीवित करने के लिए बेरोजगारी, आर्थिक असमानता, महिलाओं की स्थिति, जातिगत भेदभाव जैसे मुद्दों को संबोधित करना आवश्यक है। इसके अलावा सरकार को न सिर्फ आपूर्ति पक्ष, बल्कि मांग पक्ष पर भी ध्यान देना होगा ।
-विकास प्रजापत, पाली
........................

मांग बढ़ाने की आवश्यकता
भारत की डांवाडोल हो रही अर्थव्यवस्था को संभालने के लिए विशेष प्रयासों की जरूरत है। प्रभावित वर्गों के लिए बजट में स्पेशल पैकेज की आवश्यकता है। सरकार को अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए मांग बढ़ाने पर ध्यान केंद्रित करने की आवश्यकता है। इसलिए बजट में कोई भी नया टैक्स न लगाया जाए।
-प्रवीण सैन, जोधपुर
.........................

शोध पर खर्च बढ़ाया जाए
सरकार को बजट में शोध कार्यों पर किए जाने वाले खर्च की राशि को बढ़ाना चाहिए, ताकि देश तकनीकी रूप से विकसित हो सके। अर्थव्यवस्था को मजबूत बनाने के लिए यह बेहद जरूरी है।
-सन्दीप पाजू, भिवानी, हरियाणा
.............................

स्वरोजगार को मिले प्रोत्साहन
अर्थव्यवस्था की मजबूती के लिए सरकार को छोटे उद्योगों और व्यवसायियों की आर्थिक मदद करनी चाहिए। साथ ही जो लोग छोटा या बड़ा व्यवसाय शुरू करना चाहते, तो उन्हें प्रोत्साहन देना चाहिए। इससे बाजार में गति आएगी और अर्थव्यवस्था मजबूत होगी।
-राजगुरु नरपत सिंह, नई दिल्ली
...........................

शोषणविहीन व्यवस्था जरूरी
जनसंख्या वृद्धि पर नियंत्रण, लघु एवं कुटीर उद्योगों को प्रोत्साहन देकर बेरोजगारी पर नियंत्रण, आर्थिक एवं सामाजिक असमानता की खाई को कम करना, देश में व्याप्त भ्रष्टाचार पर नियंत्रण एवं रोजगार उन्मुख शिक्षा का प्रसार कर अर्थव्यवस्था को मजबूत किया जा सकता है। एक ऐसी सामाजिक चेतना का विकास किया जाना चाहिए, जिसमें एक वर्ग दूसरे वर्ग का आर्थिक शोषण ना करें।
-नरेन्द्र कुमार शर्मा, जयपुर
...........................

स्वदेशी को बढ़ावा जरूरी
लघु उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए जो योजनाएं बनाई जाएं, वे सरकारी कागजों तक सीमित न रहकर धरातल पर उतारी जाएं। सरकार बड़े उद्योग स्थापित कर अपनी उत्पादक क्षमता बढ़ाए, जिससे हम वस्तुएं निर्यात कर सकें। जन-मानस भी अपना दायित्व समझते हुए भारत निर्मित वस्तुओं के उपयोग पर ज्यादा बल दे। इससे अर्थव्यवस्था में मजबूती आएगी।
-सरस्वती जैन, हुबली
......................

निकम्मेपन को बढ़ावा न दें
सरकार को किसी भी वर्ग को मुफ्त सेवा देना या सामग्री बांटना बंद करना चाहिए। इसकी बजाय सरकार ने ऐसे लोगों से कुछ काम लेना चाहिए, जिसके बदले उनकी मदद करनी चाहिए। कोई भी चीज मुफ्त में देना तो निकम्मेपन का बढ़ावा देना है।
-गजानंद बिरला, खरगोन, मध्य प्रदेश
................

कृषि ऋण पर ब्याज हो मामूली
कोविड का अर्थव्यवस्था पर बहुत बुरा प्रभाव पड़ा है। काम धंधे बंद हो गए, जिसके कारण काफी लोग बेरोजगार भी हो गए। भारत ही नहीं, बल्कि पूरे विश्व की अर्थव्यवस्था डगमगा रही है। अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के लिए सरकार को उद्योग धंधे खोलने के लिए ऋण देना चाहिए। साथ ही कृषि कार्यों के लिए दिए जाने वाले ऋण पर बहुत कम ब्याज लेना चाहिए।
-सुरेंद्र बिंदल, जयपुर
......................

मुफ्त न दिया जाए
अर्थव्यवस्था की मजबूती के लिए सरकार को मुफ्त या बहुत ही मामूली दामों पर सेवाएं या सामग्री देना बंद करना चाहिए। नाम मात्र की दर पर खाद्य सामग्री मिलने के कारण राशन का दुरुपयोग हो रहा है।
-सलोनी बोडाना, उज्जैन, मध्य प्रदेश

Gyan Chand Patni
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned