आपकी बात, भाजपा शासित राज्यों में मुख्यमंत्री क्यों बदल रहे हैं?

पत्रिकायन में सवाल पूछा गया था। पाठकों की मिलीजुली प्रतिक्रियाएं आईं, पेश हैं चुनिंदा प्रतिक्रियाएं।

By: Gyan Chand Patni

Published: 14 Sep 2021, 05:04 PM IST

कम हो रहा है जनाधार
पिछले 6 माह में भाजपा ने अपने पांच मुख्यमंत्री बदले है। ताजा बदलाव गुजरात का है। इसके पहले असम, कर्नाटक, उत्तराखंड में मुख्यमंत्री बदले गए। असम के अलावा इन सभी राज्यों में जल्दी ही चुनाव होने वाले हैं। 2017 के चुनाव में गुजरात को मिली कम सीटों ने भाजपा को सतर्क कर दिया है। यदि अगले चुनाव में भाजपा को गुजरात में शिकस्त मिलती है, तो दिल्ली को बचाना भी मुश्किल हो जाएगा। मुख्यमंत्रियों को तेजी से बदलने का अर्थ यह भी है कि मुख्यमंत्रियों की राज्य में पकड़ ढीली है एवं जनाधार भी कम हो रहा है। इन कमियों को दुरुस्त करने के लिए भाजपा शासित राज्य में मुख्यमंत्री बदले जा रहे हैं।
-सतीश उपाध्याय, मनेंद्रगढ़ कोरिया, छत्तीसगढ़
...............................

मजबूती है लक्ष्य
मुख्यमंत्रियों के रूप में नए चेहरों को लाकर संभवत: भाजपा अपने आपको मजबूत करना चाहती है। समाज के अन्य वर्गों को भी इस धारा में शामिल करना उद्देश्य हो सकता है। भाजपा दूसरे नेताओं को भी खुश करने का प्रयत्न कर रही है, क्योंकि एक प्रभावी नेता की नाराजगी भी चुनाव में भारी पड़ती है। अन्य कारण यह हो सकता है कि लंबे समय तक एक अनुभवी मुख्यमंत्री आगे चलकर प्रधानमंत्री की दावेदारी पेश कर सकता है।
-एकता शर्मा, गरियाबंद, छत्तीसगढ़
.......................

बड़ा कद नहीं
जो नेता, मंत्री या सीएम अपने हर फैसले में केंद्रीय नेतृत्व की भूमिका को आगे करते हुए अपना कद छोटा बना ले, वह अपनी अलग और चमकदार इमेज कहां से गढ़ पाएगा? भाजपा खुद मानती है कि मोदी लहर पर सवार होकर देश की सत्ता उसके हाथों में आई है। भाजपा शासित राज्यों में उत्तर प्रदेश को छोड़कर सभी मुख्यमंत्रियों का खुद का बड़ा कद नहीं होने के कारण मुख्यमंत्री बदलना पड़ रहा है।
-विरेन्द्र टेलर, प्रतापगढ़
..............................

भाजपा की कार्यशैली
भाजपा वोट बैंक को लेकर बहुत संवेदनशील रही है। भाजपा नेतृत्व को यदि किसी भी भाजपा शासित राज्य में मुख्यमंत्री के प्रति विधायकों का और जनता का विश्वास कमजोर होता हुआ महसूस होता है, वह मुख्यमंत्री बदलने में देर नहीं करता। मनमुटाव रखने वाले मंत्रियों को अलग-थलग करके एक अविवादित नए चेहरे को पदासीन करना भाजपा की कार्यशैली रही है।
मुकेश भटनागर, वैशालीनगर, भिलाई
.....................................

ध्यान हटाने का प्रयास
नोटबंदी, जीएसटी, निजीकरण व कोरोना महामारी के कारण रोजगार कम हुए हैं और बेरोजगारी बढ़ी है। केंद्र की भाजपा सरकार आगामी चुनाव लाभ के लिए भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्री बदलकर रोजगार, महंगाई, निजीकरण जैसे गंभीर मुद्दों से जनता का ध्यान हटाना चाहती है।
-मदनलाल लम्बोरिया, भिरानी
...........................

चुनाव जीतना पहला लक्ष्य
असंतोष दिखाई देने पर कुछ ही महीनों के अंदर भाजपा शासित चार राज्यों में मुख्यमंत्रियों को बदला गया है। इन राज्यों में पार्टी में असंतोष को दबाने के लिए वहां नए मुख्यमंत्री पदस्थ करना मजबूरी बन गई थी। सभी राजनीतिक दलों को चुनाव जीतने के लिए सर्व सहमति वाले नेतृत्व की आवश्यकता होती है। भाजपा के दिग्गज नेता चाहते हैं कि आने वाले समय मे होने वाले चुनावों के परिणामों में पार्टी को कोई नुकसान ना झेलने पड़े।
-नरेश कानूनगो, बेंगलूरु, कर्नाटक
........................

स्पष्ट है संदेश
भाजपा के केंद्रीय नेतृत्व का संदेश स्पष्ट है। अभी यह बदलाव एंटी इनकंबेंसी पर काबू पाने के मकसद से किया जा रहा है। कोरोना काल में सही प्रबंधन नहीं होने के कारण सभी राज्य सरकारों की काफी किरकिरी हुई थी।
-जयंती लाल गोलछा, नगरी, छत्तीसगढ़
...................................

सतर्क है भाजपा
इसका एक कारण यह भी है कि चुनाव नजदीक है। भाजपा नहीं चाहती कि दूसरे दलों की तरह पार्टी की अंतर्कलह हार का कारण बने। इसलिए वह दूसरे जातिगत नेताओं को या फिर नए चेहरों को लाकर अपनी अलग भूमिका स्थापित कर रही है।
-दीपक गर्ग, रेलमगरा, राजसमंद
.........................

मिलेगा करारा जवाब
भाजपा का शीर्ष नेतृत्व अपनी पसंद के मुख्यमंत्री बनाने के चक्कर में राज्यों के मुख्यमंत्री बदल रहा है। इनका मकसद है, जनता को किस तरह गुमराह किया जाए। भाजपा ने आम जनता को बहुत ठग लिया। अब जनता समझ चुकी है। जनता करारा जवाब देगी।
हनुमान बांगड़ा, नागौर
.....................

खराब छवि के कारण
आगामी चुनावों को ध्यान में रखते हुए उन राज्यों के मुख्यमंत्री बदले गए हैं, जिनकी छवि अच्छी नहीं है। जिन राज्यों में विकास की गति नहीं बढ़ी, वहां भी बदलाव हुआ है। कोरोना काल में जिन भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने अपने उत्तरदायित्व का ठीक से निर्वहन नहीं किया, उनको हटा दिया गया।
-लता अग्रवाल ,चित्तौड़गढ़
...................

Gyan Chand Patni
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned