scriptWill the Agneepath scheme be helpful for the country's army or not? | आपकी बात, अग्निपथ योजना देश की सेना के लिए मददगार होगी या नहीं? | Patrika News

आपकी बात, अग्निपथ योजना देश की सेना के लिए मददगार होगी या नहीं?

पत्रिकायन में सवाल पूछा गया था। पाठकों की मिलीजुली प्रतिक्रियाएं आईं, पेश हैं चुनिंदा प्रतिक्रियाएं।

Published: June 17, 2022 03:01:11 pm

युवाओं के भविष्य से खिलवाड़
सेना में भर्ती की अग्निपथ योजना लाकर नवयुवकों के भविष्य के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। यह समझना होगा कि सेना में दाखिला नौकरी और रोजगार का जरिया नहीं है। नौजवान अपने देश की रक्षा के लिए सेना में जाना चाहते हंै। सेना और सैनिक के बीच एक वादा होता है कि अगर सैनिक वीरगति को प्राप्त होता है तो उसके परिवार का पालन- पोषण सरकार करेगी। रोजगार देने के लिए 4 साल के लिए भर्ती की जाएगी। उसके बाद कुछ रकम देकर ये जवान बाहर कर दिए जाएंगे।
महेश, सक्सेना, भोपाल
.................
आपकी बात, अग्निपथ योजना देश की सेना के लिए मददगार होगी या नहीं?
आपकी बात, अग्निपथ योजना देश की सेना के लिए मददगार होगी या नहीं?
युवाओं को अनुशासित करेगी योजना
हमारी देश की सेना में अग्निपथ योजना के तहत 4 साल के लिए होने वाली भर्ती के बाद जो युवा सेना से निकल कर आएंगे, वे अपने साथ सेना का अनुशासन लेकर आएंगे। अनुशासित व्यक्ति सभी क्षेत्रों में अग्रणी रह सकता है। देश की सेना में ज्यादा से ज्यादा युवाओं को मौका मिलने से सेना की कार्य क्षमता का भी विस्तार होगा।
-शिवम अवस्थी, रायपुर छत्तीसगढ़
..............
सुनहरा भविष्य
अग्निपथ योजना से गांवों के कम उम्र बच्चों का मजदूरी करने के लिए शहरों की ओर पलायन में कमी आएगी। सेना में ट्रेनिंग से एक कर्मठ युवा पीढ़ी भारत में तैयार हो सकेगी। उनका सुनहरा भविष्य इंतजार कर रहा है। युवाओं को इसमें बढ़ चढ़कर हिस्सा लेना चाहिए।
अर्विना गहलोत, प्रयागराज
-----------------------------
हास्यास्पद है योजना
चार साल की नौकरी से पूरी जिंदगी का गुजारा तो नहीं हो सकता। इस योजना से तो भारत का युवा न इधर का रहेगा न उधर का। सरकारों को वोट हासिल करने के लिए ऐसी हास्यास्पद योजनाओं को लागू करने से बचना चाहिए। युवा वर्ग को दिग्भ्रमित न करके स्थायी रोजगार देने के प्रयास करने चाहिए।
-आशुतोष मोदी, सादुलपुर, चूरु
........
सेना को मिलेगा बल
अग्निपथ योजना राष्ट्र की सेना को और अधिक बल प्रदान करेगी, क्योंकि नवयुवकों को सेना का ही अंग बनकर पूरी निष्ठा के साथ सहयोग सेवा करने का एक महत्त्वपूर्ण अवसर मिलेगा। आवश्यकता है तो बस इस योजना को गम्भीरता के साथ समझने की।
अभय आचार्य , विदिशा मध्यप्रदेश
...............
दीर्घकालीन होंगे परिणाम
यह एक दीर्घकालीन नीति है जिसमें सेना अधिक से अधिक सैनिक तैयार कर रिजर्व के रूप में रख सकती है। इन्हें भविष्य में युद्ध होने पर सेना में पुन: भर्ती किया जा सकता है। इसमें श्रेष्ठ सैनिकों को स्थाई भी किया जाएगा, जिससे सेना की गुणवत्ता में सुधार होगा।
-अमन जांगिड़, अतरौली
-------------------
नेक इरादों को परखें
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार ने युवाओं के रोजगार के साथ-साथ सैनिक के रूप में देश सेवा करने एवं सेना में जवानों की कमी को पूरा करने के उद्देश्य से 'अग्निपथÓ योजना के रूप में अभिनव पहल की है। हर योजना अपने आप में परिपूर्ण नहीं होती, उसके पीछे के नेक इरादों को परखा जाना चाहिए। आज भारत में पुलिस जवानों की अपराधियों के साथ आमने-सामने की लड़ाई तथा आधुनिक हथियार चलाने की क्षमता सीमित है। ऐसे में सेना से निकले हुए ये जवान आमने-सामने की लड़ाई तथा आधुनिकतम हथियारों को चलाने में भी पारंगत रहेंगे। इससे पुलिस बल की कार्यक्षमता बढ़ेगी एवं अपराधियों पर नकेल कसने में मदद मिलेगी। सबसे महत्वपूर्ण फायदा 'अग्निपथ' के 'अग्निवीरों' से यह होगा कि देश में सशस्त्र युद्ध में निपुण युवाओं की बड़ी शक्ति तैयार हो जाएगी जो युद्ध या युद्ध जैसी स्थिति में देश की सुरक्षा के लिए मोर्चा संभालने में सक्षम होगी।
डॉ.अजिता शर्मा, उदयपुर
...............
भविष्य सुनिश्चित करना होगा
इस योजना के लाभ के लिए यह आवश्यक है कि इन अग्निवीरों के भविष्य को सुरक्षित करने की पुख्ता योजना का खाका खींचा जाए। यह सुनिश्चित किया जाए कि वे सेना के बाद किस सुरक्षा बल के अंग होंगे। इस योजना से लाभ यह होगा कि हमारा पुलिस तंत्र भी सेना के स्तर का हो जाएगा, जो आज आवश्यक लगता है। ऐसा होने पर आपदा में या आंदोलन के समय बार-बार सेना नही भेजनी पड़ेगी।
-गोपाल लाल पंचोली, शाहपुरा

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

Himachal Pradesh News: रामपुर के रनपु गांव में लैंडस्लाइड से एक महिला की मौत, 4 घायलMaharashtra Politics: चंद्रशेखर बावनकुले बने महाराष्ट्र बीजेपी के अध्यक्ष, आशीष शेलार को मिली मुंबई की कमानममता बनर्जी को बड़ा झटका, TMC के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पवन वर्मा ने पार्टी से दिया इस्तीफामाकपा विधायक ने दिया विवादित बयान, जम्मू-कश्मीर को बताया 'भारत अधिकृत जम्मू-कश्मीर'गुजरात चुनाव से पहले कांग्रेस का बड़ा ऐलान, सरकार बनी तो किसानों का तीन लाख तक का कर्ज होगा माफBJP का महागठबंधन पर बड़ा हमला, सांबित पात्रा बोले- नीतीश-तेजस्वी के साथ आते ही बिहार में जंगलराज शुरूबिहार कैबिनेट पर दिल्ली में मंथन, आज शाम सोनिया गांधी से मिलेंगे तेजस्वी यादव, 2024 के PM कैंडिडेट पर बोले नीतीश कुमारCoronavirus News Live Updates in India : राजस्थान में एक्टिव मरीज 4 हजार के पार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.