पहली बार वर्चुअल माध्यम से राष्ट्रपति के हाथों खिलाड़ी लेंगे सम्मान, राष्ट्रपति भवन में नहीं आयोजित होगा समारोह

भारतीय खेल इतिहास में पहली बार है, जब खेल का सबसे बड़ा पुरस्कार राजीव गांधी खेल रत्न पांच खिलाड़ियों को दिया जा रहा है।

नई दिल्ली : 29 अगस्त को हॉकी के जादूगर ध्यानचंद का जन्मदिन है। इस दिन को भारत में खेल दिवस के रूप में मनाया जाता है और राष्ट्रपति इसी दिन देश के पुरस्कार विजेता खिलाड़ी और खेल कोचों को लंबे समय से राष्ट्रपति भवन में सम्मानित करते आ रहे हैं। लेकिन इस बार राष्ट्रीय खेल पुरस्कार विजेता खिलाड़ियों को राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद पहली बार वर्चुअल माध्यम से सम्मान देंगे। कोविड-19 महामारी के कारण इस बार राष्ट्रपति भवन में खेल सम्मान समारोह आयोजित नहीं किए जा रहे हैं। राष्ट्रीय खेल पुरस्कारों के इतिहास में पहली बार राष्ट्रपति भवन से वचुर्अल समारोह के जरिये ये पुरस्कार प्रदान करेंगे।

इतने खिलाड़ियों को मिलेगा पुरस्कार

इस साल पांच खिलाड़ी राजीव गांधी खेल रत्न, 27 अर्जुन पुरस्कार, 13 कोचों को द्रोणाचार्य पुरस्कार और 15 खिलाड़ियों को आजीवन उपलब्धि के लिए ध्यानचंद पुरस्कार दिया जाएगा। इसके अलावा आठ लोगों को तेनजिंग नोर्गे राष्ट्रीय साहस पुरस्कार, पांच संस्थानों को राष्ट्रीय खेल प्रोत्साहन पुरस्कार के साथ पंजाब यूनिवर्सिटी, चंडीगढ़ को मौलाना अबुल कलाम आजाद (माका) ट्रॉफी प्रदान की जाएगी।

इन पांचों खिलाड़ियों को मिलेगा राजीव गांधी खेल रत्न अवॉर्ड

खेल पुरस्कार समिति ने क्रिकेटर रोहित शर्मा, महिला पहलवान विनेश फोगाट, महिला टेबल टेनिस खिलाड़ी मनिका बत्रा, महिला हॉकी टीम की कप्तान रानी रामपाल और पैरालंपिक खिलाड़ी मरियप्पन थंगाबेलू को राजीव गांधी खेल रत्न अवॉर्ड मिलेगा। इसनमें से क्रिकेटर रोहित शर्मा ने आईसीसी एकदिवसीय विश्व कप 2019 (ICC ODI World Cup) में शानदार प्रदर्शन किया था। उन्होंने 648 रन बनाए थे। वहीं विनेश इकलौती भारतीय महिला पहलवान हैं, जिन्होंने अब तक टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympic) के लिए क्वालिफाई किया है। विनेश 2019 विश्व कुश्ती चैंपियनशिप (World Wrestling Championship) की रजत पदक विेजेता और एशियन गेम्स में स्वर्ण जीत चुकी हैं। वहीं महिला टेबल टेनिस खिलाड़ी मानिका 2018 में गोल्ड कोस्ट कॉमनवेल्थ गेम्स (Commonwealth Games) में दो स्वर्ण पदक अपने नाम किया था। इसी साल आयोजित एशियन गेम्स (Asian Games) में भी कांस्य पदक जीता था। बत्रा को अभी टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालिफाई करना है। पैरालंपिक खिलाड़ी मरियप्पन विश्व पैरा एथलेटिक्स चैंपियनशिप (World Athletics) में कांस्य पदक जीतकर अगले साल होने वाले टोक्यो पैरालंपिक खेलों (Tokyo Paralympic) के लिए क्वालिफाई कर चुकी हैं, जबकि रानी की अगुवाई में ही भारतीय महिला हॉकी टीम ने पिछले साल ही टोक्यो ओलंपिक के लिए क्वालिफाई कर लिया था।

पहली बार पांच खिलाड़ियों को मिलेगा खेल रत्न

भारतीय खेल इतिहास में पहली बार है, जब खेल का सबसे बड़ा पुरस्कार राजीव गांधी खेल रत्न पांच खिलाड़ियों को दिया जा रहा है। इससे पहले रियो ओलम्पिक 2016 के बाद चार खिलाड़ियों को खेल रत्न अवॉर्ड मिला था। ये चार थे- रजत पदक विजेता बैडमिंटन खिलाड़ी पीवी सिंधु, कांस्य विजेता महिला पहलवान साक्षी मलिक, चौथे स्थान पर रही जिम्नास्ट दीपा कमार्कर और निशानेबाज जीतू राय।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned