रिलायंस फाउंडेशन जूनियर एनबीए प्रोग्राम में हिस्सा लेंगे 45 लाख युवा

रिलायंस फाउंडेशन जूनियर एनबीए प्रोग्राम में हिस्सा लेंगे 45 लाख युवा

Kuldeep Panwar | Publish: Dec, 07 2017 03:42:40 PM (IST) अन्य खेल

यह युवा प्रतिभाओं के लिए शुरू की गई एक बॉस्केटबॉल पहल है, जो भारतीय लड़कों एवं लड़कियों की जिंदगी पर बॉस्केटबॉल खेल के सकारात्मक प्रभाव को लागू करेगी

नई दिल्ली। नेशनल बॉस्केटबॉल एसोसिएशन (एनबीए) ने गुरुवार को रिलायंस फाउंडेशन जूनियर एनबीए प्रोग्राम की वापसी की घोषणा की। यह युवा प्रतिभाओं के लिए शुरू की गई एक बॉस्केटबॉल पहल है, जो भारतीय लड़कों एवं लड़कियों की जिंदगी पर बॉस्केटबॉल खेल के सकारात्मक प्रभाव को लागू करती है। भारत में लगातार पांचवें वर्ष रिलायंस फाउंडेशन जूनियर एनबीए प्रोग्राम की वापसी हो रही है। इस विस्तारित कार्यक्रम की शुरुआत अगले साल मार्च में होगी और देश भर के 34 शहरों में 45 लाख से अधिक युवा और 4,500 शारीरिक शिक्षा प्रशिक्षक एवं कोचों के इसमें भागीदार बनाने की उम्मीद है।

शहरों में बॉस्केटबॉल की उपस्थिति को बढ़ेगी
यह कार्यक्रम पिछले पांच वर्षों के इतिहास में सबसे बड़ा है। यह युवाओं को एक स्वस्थ, सक्रिय जीवनशैली अपनाने के लिये प्रेरित करने पर ध्यान केंद्रित करता है। इसके लिये बॉस्केटबॉल को 4,500 प्रतिभागी स्कूलों के शारीरिक शिक्षा पाठ्यक्रम में शामिल किया जा रहा है। रिलायंस फाउंडेशन के एक प्रवक्ता ने कहा, "अधिक शहरों में बॉस्केटबॉल की उपस्थिति को बढ़ाने और एनबीए के साथ हमारी साझेदारी के माध्यम से युवाओं के बीच जीवन कौशल विकसित करते हुए हमें बेहद खुशी हो रही है। रिलायंस फाउंडेशन जूनियर एनबीए कार्यक्रम बच्चों को खेल के माध्यम से उनके पूर्ण विकास के हमारे लक्ष्य के अनुरूप है।

भारतीय एनबीए अकादमी लॉन्च
भारतीय नेशनल बॉस्केटबॉल एसोसिएशन के उपाध्यक्ष और प्रबंधन निदेशक यानिक कोलाको ने कहा, "भारतीय एनबीए अकादमी के लॉन्च के बीच मुंबई और दिल्ली में एनबीए बॉस्केटबॉल स्कूलों का शुभारंभ और देश में अब तक के सबसे बड़े जूनियर एनबीए कार्यक्रम के साथ हमने सभी स्तरों पर युवा भारतीय लड़कों व लड़कियों के बीच बॉस्केटबॉल को विकसित करने पर अधिक ध्यान दिया है। रिलायंस फाउंडेशन खेल-कूद एवं साथ मिलकर काम करने और नेतृत्व तथा सम्मान सहित खेल के मूल्यों के शिक्षण के माध्यम से समग्र विकास की हमारी प्रतिबद्धता को साझा करता है।

Ad Block is Banned