मर्डर केस: सुशील कुमार की गिरफ्तारी पर फैंस बोले-सजा मिलनी ही चाहिए

कई फैंस को तो अब भी यकीन नहीं हो रहा कि भारत के लिए ओलिंपिक मेडल जीतने वाला रेसलर ऐसा जुर्म कर सकता है। हालांकि अब फैंस कह रहे हैं कि सुशील कुमार को सजा मिलनी चाहिए।

By: Mahendra Yadav

Updated: 23 May 2021, 12:12 PM IST

जूनियर पहलवान सागर धनखड़ की हत्या के मामले में फरार चल रहे ओलिंपिक मेडलिस्ट सुशील कुमार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। सुशील के साथ उसके एक साथी अजय को भी पुलिस ने पकड़ लिया है। मर्डर केस में फरार चल रहे सुशील पर पुलिस ने एक लाख रुपए का इनाम घोषित कर रखा था। बताया जा रहा है कि पुलिस ने सुशील और उसके साथी अजय को मुंडका के पास से गिरफ्तार किया। ये दोनों स्कूटी से कहीं जा रहे थे।

गिरफ्तारी के बाद फैंस ने दिए रिएक्शन
पहलवान सुशील कुमार की गिरफ्तारी के बाद फैंस सोशल मीडिया पर रिएक्शन दे रहे हैं। कई फैंस को तो अब भी यकीन नहीं हो रहा कि भारत के लिए ओलिंपिक मेडल जीतने वाला रेसलर ऐसा जुर्म कर सकता है। हालांकि अब फैंस कह रहे हैं कि सुशील कुमार को सजा मिलनी चाहिए। एक ट्विटर यूजर ने लिखा कि ये वाकई दुर्भाग्यशाली है और दुखी करने वाली घटना है। सुशील चैम्पियन रेसलर रहे और उनके एक गलत काम ने उन्हें सलाखों के पीछे पहुंचा दिया। एक झटके में ही सारी इज्जत और साख मिट्टी में मिल गई। सभी लोगों को इस घटना से सीखना चाहिए।

यह भी पढ़ें— मर्डर केस: पोस्टमार्टम रिपोर्ट में हुआ खुलासा, किन वजहों से हुई पहलवान सागर धनखड़ की मौत

sushil_kumar_2.png

सजा जरूर मिलनी चाहिए
एक अन्य ट्विटर यूजर ने रिएक्शन देते हुए लिखा कि आखिरकाकर सुशील कुमार पकड़ा गया। एक अन्य यूजर ने लिखा कि अगर सुशील ने अपराध किया तो उन्हें सजा जरूर मिलनी चाहिए। एक अन्य ट्विटर यूजर ने लिखा कि ओलिंपिक में मेडल जीतने वाले रेसलर से इस तरह के बर्ताव की अपेक्षा नहीं की जाती है। अब भी समझ नहीं पा रहा हूं कि सुशील जैसे बड़े खिलाड़ी ने ऐसा क्यों किया?

यह भी पढ़ें— मर्डर केस: पहलवान सुशील कुमार के खिलाफ लुकआउट नोटिस पर बोले कोच-कुश्ती की छवि खराब होगी

वीडियो फुटेज में दिखे थे मारपीट करते
सागर धनखड़ मर्डर केस में पुलिस के हाथ एक वीडियो फुटेज लगी थी। फॉरेंसिक साइंस लैब ने अपनी रिपोर्ट में मोबाइल की उस वीडियो फुटेज को सही ठहराया है, जिसमें सुशील अपने साथियों के साथ सागर की पिटाई करता दिख रहा है। इस घटना में एक आरोपी प्रिंस को पहले पुलिस ने पकड़ लिया था। उसके मोबाइल से एक वीडियो क्लिप मिली थी, जिसमें चार मई की रात सुशील एवं उसके साथी सागर से मारपीट करते नजर आ रहे थे। फॉरेंसिक साइंस लैब की रिपोर्ट में बताया गया कि घटना वाले दिन बनाया गया वीडियो प्रमाणिक है और इसके साथ कोई छेड़छाड़ नहीं की गई है।

Mahendra Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned