एशियाई बॉक्सिंग चैम्पियनशिप : पंघल ने ओलंपिक स्वर्ण विजेता को किया बाहर, भारत के 4 पदक पक्के

एशियाई बॉक्सिंग चैम्पियनशिप : पंघल ने ओलंपिक स्वर्ण विजेता को किया बाहर, भारत के 4 पदक पक्के

Mazkoor Alam | Publish: Apr, 22 2019 10:44:19 PM (IST) | Updated: Apr, 22 2019 10:44:20 PM (IST) अन्य खेल

  • भारत के चार बॉक्सर पहुंचे सेमीफाइनल में
  • तीन पुरुष और एक महिला बॉक्सर को मिली जीत
  • तीन भारतीयों को करना पड़ा हार का सामना

नई दिल्ली : एशियाई बॉक्सिंग चैम्पियनशिप में भारत का शानदार सफर जारी है। सोमवार को भारत चार बॉक्सरों ने सेमीफाइनल में पहुंचकर भारत के लिए चार पदक पक्के कर दिए हैं।

अमित ने हराया ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता को
52 किग्रा भार वर्ग में अमित पंघल ने सोमवार को मौजूदा ओलम्पिक स्वर्ण पदक विजेता हसनबाय दुस्मातोव को हरा कर शान से सेमीफाइनल में प्रवेश किया। वह 2018 एशियाई खेलों के 49 किग्रा वर्ग में भी इन्हें हराया था। यह उनकी दुस्मातोव पर लगातार दूसरी जीत है। चैम्पियनशिप की शुरू से ही हर भारतीय की नजर इस भिड़ंत पर थी। ओलंपिक स्वर्ण पदक विजेता दुस्मातोव दो बार एशियाई चैम्पियनशिप में भी सोने पर हाथ साफ कर चुके हैं और विश्व चैम्पियनशिप में भी रजत पदक जीत चुके हैं।
इन दोनों के बीच यह चौथी भिड़ंत थी। पंघल ने सोमवार को दुस्मातोव को 4-1 से हराया। दुस्मातोव ने 2017 में इस टूर्नामेंट में कांस्य पदक जीता था। मैच के बाद अमित ने खुशी जाहिर करते हुए कहा कि उन्होंने कोचों के साथ मिलकर जो रणनीति बनाई थी, वह काम आई। अब वह स्वर्ण जीतने की कोशिश करेंगे।

कविंदर जीते तो दीपक को मिला वॉक ओवर
एक और मुकाबले में 56 किग्रा वर्ग में कविंदर सिंह बिष्ट ने 2017 के विश्व चैम्पियन कैरात येरालीयेव को 3-2 से हरा कर सेमीफाइनल में जगह बना ली।
इसके अलावा 49 किग्रा वर्ग में दीपक को अफगानिस्तान के बॉक्सर रामिश रहमानी के चोटिल होने के कारण वॉकओवर मिल गया। इस तरह वह भी सेमीफाइनल में पहुंच गए।
पुरुष वर्ग में भारत के रोहित टोकस 64 किग्रा भारवर्ग में हार कर हो गए हैं। उन्हें मंगोलिया के चिनजोरिंग बातारसुक ने 3-2 से हराया।

महिला वर्ग में सोनिया को मिली जीत
महिला वर्ग में सोनिया चहल ने कोरिया की जो सोन ह्वा को 3-2 से हराकर सेमीफाइनल में प्रवेश किया। ह्वा पर सोनिया की यह लगातार दूसरी जीत है। ह्वा को उन्होंने पिछले साल विश्व चैम्पियनशिप के सेमीफाइनल में हराया था। 2018 में अपने घर में विश्व चैम्पियनशिप का रजत पदक अपने नाम करने वाली सोनिया की नजर अब स्वर्ण पदक पर है।

लवलीना और सीमा हारीं
2018 विश्व चैम्पियनशिप में कांस्य पदक जीतने वाली लवलीना बोर्गोहेन (69 किग्रा) को सेमीफाइनल में मौजूदा विश्व चैम्पियन चेन नेन चिन के हाथों 0-5 से हार मिली। बीते साल विश्व चैम्पियनशिप के सेमीफाइनल में भी उन्हें इसी ताइवानी मुक्केबाज ने हराया था।
81 किग्रा भारवर्ग में सीमा पूनिया को भी हार का सामना करना पड़ा। उन्हें तीन बार की विश्व चैम्पियन चीन की जियाओली यांग ने 0-5 से हराया।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned