ASIAN GAMES 2018: भारत के 7 स्वर्ण के साथ 36 पदक, जानिए पाकिस्तान ने कितने जीते

ASIAN GAMES 2018: भारत के 7 स्वर्ण के साथ 36 पदक, जानिए पाकिस्तान ने कितने जीते

Akashdeep Singh | Updated: 27 Aug 2018, 09:53:38 AM (IST) अन्य खेल

एशियाई खेल 2018 में भारत ने अभी तक 7 स्वर्ण, 10 रजत और 19 कांस्य पदक जीते हैं।

नई दिल्ली। एशियाई खेल 2018 में भारत का अभी तक का प्रदर्शन शानदार रहा है। यह भारत का एशियाई खेलों के इतिहास में सबसे बेहतर प्रदर्शन हो सकता है। भारत ने अभी तक 7 स्वर्ण, 10 रजत और 19 कांस्य पदक जीते हैं। आज 18वें एशियाई खेलों का नौवा दिन है और भारत को कई पदकों की उम्मीदें हैं। 18 अगस्त को शुरू हुआ खेलों का यह महाकुम्भ अभी 2 अगस्त तक चलेगा। एशियाई खेल, ओलम्पिक खेल और कामनवेल्थ खेल जैसे खेल के महाकुंभों में भारत के प्रदर्शन में जहां प्रतिदिन सुधार हो रहा है वहीं पड़ोसी मुल्क पाकिस्तान का अभी भी इन खेलों में प्रदर्शन काफी निराशजनक रहा है। आइये जानते हैं 18वें एशियाई खेलों में पाकिस्तान का प्रदर्शन।

 

18वें एशियाई खेलों में भारत का प्रदर्शन-
भारत ने 18 अगस्त को शुरू हुए इस एशियाई खेल में अभी तक 7 स्वर्ण, 10 रजत और 19 कांस्य पदक जीते हैं। सबसे अधिक पदक भारत के अभी तक शूटिंग से आए हैं। शूटिंग में भारत ने 2 स्वर्ण, 4 रजत और 3 कांस्य पदक जीते हैं। इसके बाद भारत ने कुश्ती में 2 स्वर्ण और 1 कांस्य पदक जीता है। एशियाई खेलों में एथलेटिक्स भारत का सबसे ज्यादा पदक दिलाने वाला खेल है, इसमें भारत ने अभी तक 1 स्वर्ण और 3 रजत पदक जीते हैं। नौकायन में भारत ने 1 स्वर्ण और दो कांस्य पदक जीते हैं। टेनिस में 1 स्वर्ण और दो कांस्य, घुड़सवारी में 2 रजत, कबड्डी में 1 रजत और 1 कांस्य, वुशु में 4 कांस्य, स्क्वाश में 3 कांस्य, ब्रिज में 2 कांस्य और 1 कांस्य सेपक टाकरा में।


18वें एशियाई खेलों में पाकिस्तान का प्रदर्शन-
पाकिस्तान ने अभी तक केवल 2 पदक जीते हैं, वह भी कांस्य। पाकिस्तान का 1 पदक पुरुषों के कबड्डी में आया वहीं दूसरा पदक महिलाओं की कराटे में 68 किलोग्राम प्रतिस्पर्धा में आया। पाकिस्तान के 286 खिलाड़ी 36 खेलों में हिस्सा ले रहे हैं। पाकिस्तान ने 2014 एशियाई खेलों में 1 स्वर्ण, 1 रजत और 3 कांस्य के साथ 5 पदक जीते थे। पिछले खेलों में वह 23वें स्थान पर रहा था।


नौवे दिन भारत की पदक उम्मीदें-
महिला बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल और पीवी सिंधु ने सिंगल्स स्पर्धा के सेमीफाइनल में जगह बना ली है। दोनों के पदक पक्के हैं, ऐसे में अगर दोनों अपने-अपने मुकाबले जीतती हैं तो वह फाइनल मुकाबले में एक दूसरे के खिलाफ भिड़ेंगी। 1982 एशियाई खेलों में सईद मोदी के कांस्य पदक के बाद इन खेलों की बैडमिंटन सिंगल्स स्पर्धा में यह पहला पदक होगा। इसके साथ ही भारत के इस एशियाई खेल के ध्वजवाहक नीरज चोपड़ा आज जेवलिन में पदक के लिए खेलेंगे, उनसे स्वर्ण पदक की उम्मीदें हैं।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned