Asian Games: 28 सालों के गौरव को ईरान ने किया चकनाचूर, पहली बार स्वर्ण पदक से चूकी भारतीय कबड्डी टीम

Asian Games: 28 सालों के गौरव को ईरान ने किया चकनाचूर, पहली बार स्वर्ण पदक से चूकी भारतीय कबड्डी टीम

Prabhanshu Ranjan | Publish: Aug, 23 2018 06:09:22 PM (IST) | Updated: Aug, 23 2018 06:24:23 PM (IST) अन्य खेल

एशियन गेम्स में भारत की पुरुष कबड्डी टीम को हराते हुए ईरान ने फाइनल में प्रवेश कर लिया है। इस हार के साथ ही भारत का सबसे बड़ा अभिमान भी टूट गया।

नई दिल्ली। एशियन गेम्स 2018 में आज भारतीय पुरुष कबड्डी टीम को बड़ा झटका लगा। सात बार की चैंपियन भारतीय कबड्डी टीम सेमीफाइनल में ईरान के हाथों हार गई। ईरान और भारत के बीच कांटे की टक्कर देखने को मिली। लेकिन भारतीय टीम दूसरे राउंड में अपने लयहीन दिखी। ईरान ने भारत को 27-18 के अंतर से करारी मात देते हुए फाइनल का टिकट पक्का कर लिया है।

टूट गया भारत का सबसे बड़ा अभियान-
ईरान के हाथों मिली इस हार के साथ ही एशियन गेम्स में भारत का सबसे बड़ा अभिमान भी टूट गया। बताते चले कि भारतीय कबड्डी टीम एशियन गेम्स में हर बार की स्वर्ण पदक विजेता थी। पिछले 28 सालों से कायम भारत की इस बादशाहत को ईरान पहले भी चुनौती देता आया था। लेकिन हर बार ईरान को मुंह की खानी पड़ती थी। हालांकि इस बार भारत को कबड्डी में अप्रत्याशित हार मिली।

कप्तान अजय ठाकुर हुए चोटिल-
ईरान औऱ भारत के बीच हुए इस हाईप्रोफाइल मुकाबले में भारतीय कप्तान अजय ठाकुर चोटिल भी हो गए। मुकाबले के दौरान ही उनके आंखों के पास से खून निकल आया। जिसके कारण उन्हें मैच को बीच में ही छोड़ना पड़ा। लेकिन अंत में पूरी टीम के आउट होने के बाद अजय भी रेड मारने आए। लेकिन उनका यह प्रयास भी असफल रहा।

यह हार है बहुत बड़ी-
एशियाई खेलों में कबड्डी एकमात्र ऐसा खेल था, जिसमें भारत का स्वर्ण पदक हमेशा सुनिश्चित माना जाता था। लेकिन इस बार ईरान ने भारत को शर्मनाक पराजय का घूंट पिला दिया। भारत को ग्रुप मैच में भी कोरिया से हार का सामना करना पड़ा था और सेमीफाइनल में उसे ईरान से शिकस्त मिल गयी।

अब बेटियों से है उम्मीद-

पुरुष टीम की हार के बाद अब कबड्डी में भारतीय महिला टीम से स्वर्ण पदक उम्मीद है। भारतीय महिला टीम फाइनल में पहु्ंच चुकी है। जहां उसका सामना ईरान से होना है। यदि भारतीय महिला टीम फाइनल में जीतने में सफल होती है, तो वह स्वर्ण पदकों की हैट्रिक लगाएगी। बताते चले कि ग्वांग्झू 2010 और इंचियोन 2014 एशियाई खेलों में भी भारत की महिला कबड्डी टीम ने स्वर्ण पदक पर कब्जा जमाया था।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned