हैदराबाद एनकाउंटर : सो नहीं पाईं ज्वाला गट्‌टा, भीड़तंत्र नहीं, न्याय और संविधान में विश्वास रखने की अपील की

हैदराबाद एनकाउंटर पर जहां कुछ लोग जश्न मना रहे हैं। वहीं ज्वाला गट्‌टा ने काफी संयमित बयान दिया है। वह भीड़तंत्र पर न्यायतंत्र और संविधान में विश्वास जताने की अपील कर रही हैं।

By: Mazkoor

Updated: 08 Dec 2019, 06:41 PM IST

नई दिल्ली : दिशा हत्याकांड और बलात्कार के आरोपियों का शुक्रवार की भोर में हैदराबाद पुलिस ने एनकाउंटर कर दिया था। इस एनकाउंटर पर देशभर से जबरदस्त प्रतिक्रिया आई। कई लोगों ने खुशियां जताई तो कई लोगों ने इसे देश के कानून का मजाक बताया। इस मामले में खेल जगत भी बंटा दिखा। हैदराबाद की बैडमिंटन स्टार सायना नेहवाल ने पुलिस की तारीफ में कसीदे काढ़े तो एनकाउंटर पर सवाल उठाते हुए ज्वाला गुट्टा ने पूछा था कि क्या इससे भविष्य में होने वाले दुष्कर्म बंद हो जाएंगे। लेकिन अब बहुत ज्यादा लोगों द्वारा भीड़तंत्र के ऊपर न्यायतंत्र और संविधान में विश्वास जताए जाने पर राहत महसूस कर रही हैं।

संविधान में लोगों को विश्वास जताते देख आश्वस्त हुईं गट्‌टा

हैदराबाद एनकाउंटर पर शनिवार को एक और ट्वीट करते हुए ज्वाला गट्टा ने लिखा कि एनकाउंटर की खबर के बाद कुछ जगहों पर लोग जिस तरह से जश्न मना रहे थे, यह देखकर वह इतनी परेशान और निराश थीं कि वह सो भी नहीं पाई। लेकिन अब यह देखकर वह अब काफी राहत महसूस कर रही हैं कि बहुत अधिक संख्या में लोगों ने भी वैसा ही कंसर्न दिखाया, जैसा उन्होंने जताया था। उन्हें उम्मीद है कि हम सभी एक साथ खड़े होंगे और अपने न्यायतंत्र और संविधान में विश्वास बनाए रखेंगे।

 

शुक्रवार को भी ट्वीट कर एनकाउंटर पर उठाया था सवाल

ज्वाला गट्‌टा ने हैदराबाद एनकाउंटर के बाद ट्विटर पर लिखा था कि क्या इससे भविष्य में बलात्कारी रुक जाएंगे। इसके आगे रसूखदार आरोपियों की तरफ इशारा करते हुए उन्होंने लिखा कि और एक अहम सवाल यह भी है कि क्या बिना यह देखे कि समाज में उनकी क्या स्थिति है, सभी बलात्कारियों के साथ इसी तरह का बर्ताव किया जाएगा।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned