Para Asian: हरविंदर ने भारत को दिलाया सातवां स्वर्ण, इतिहास रचते हुए बने पहले भारतीय

पैरा एशियन गेम्स 2018 में बुधवार को भारतीय तीरंदाज हरविंदर सिंह ने देश के लिए सातवां स्वर्ण पदक हासिल किया। इस पदक के साथ ही भारत के कुल पदकों की संख्या 32 हो गई है।

By:

Updated: 10 Oct 2018, 04:18 PM IST

नई दिल्ली। पैरा एशियन गेम्स में बुधवार को भारतीय तीरंदाज हरविंदर सिंह ने देश को सातवां स्वर्ण पदक दिलाया। इस स्वर्णिम कामयाबी को हासिल करने वाले हरविंदर देश के पहले एथलीट बन गए। हरविंदर ने ये स्वर्ण पदक तीरंदाजी में हासिल किया। इनसे पहले भारत को तीरंदाजी में अबतक कभी भी स्वर्ण पदक नहीं मिल सका था। हरविंदर के पदक के साथ ही भारत के स्वर्णों की संख्या सात हो गई है। जबकि भारत के कुल पदकों की संख्या 34 हो गई है।

चीनी चुनौती को छोड़ा पीछे-
हरविंदर ने पैरा-एशियाई खेलों में बुधवार को पुरुषों के व्यक्तिगत रिकर्व ओपन-डब्ल्यू-2/एसटी स्पर्धा का स्वर्ण पदक हासिल किया। हरविंदर ने इस स्पर्धा के फाइनल में चीन के झाओ लिक्सू को 6-0 से मात दी। इस स्पर्धा का कांस्य पदक दक्षिण कोरिया के किम मिंसू ने जीता। उन्होंने अपने हमवतन एनए गियेओन को 6-4 से मात दी।

 

मोहम्मद यासेर ने दिलाया कांस्य-

हरविंदर के साथ-साथ बुधवार को भारतीय गोला फेंक एथलीट मोहम्मद यासेर ने कांस्य पदक हासिल किया। हालांकि, इस स्पर्धा में शामिल एक अन्य भारतीय एथलीट रोहित कुमार को असफलता हाथ लगी। पुरुषों की गोला फेंक स्पर्धा में यासेर को तीसरा स्थान हासिल हुआ। उन्होंने कुल छह प्रयासों में पांचवीं बार बेहतरीन प्रदर्शन कर 14.22 मीटर की दूरी तय करते हुए कांस्य पदक पर निशाना साधा।

गोला फेंक में चीन को मिला गोल्ड-
एक अन्य भारतीय एथलीट रोहित को इस स्पर्धा में पांचवां स्थान हासिल हुआ। चीन के एनलोंग वेई ने 15.67 मीटर की दूरी तय करते हुए पहला स्थान हासिल कर स्वर्ण पदक पर निशाना साधा। कजाकिस्तान के राविल ने 14.66 मीटर की दूरी तय करते हुए रजत पदक जीता।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned