पैरा एशियाड: भारत को मिली बड़ी कामयाबी, इस खेल में स्वर्ण, रजत और कांस्य तीनों पदकों पर जमाया कब्जा

पैरा एशियाड में आज भारतीय एथलीटों ने तब बड़ा कामयाबी हासिल की, जब खेल की एक ही स्पर्धा में स्वर्ण, रजत और कांस्य तीनों पदक भारत के झोली में आए।

By:

Updated: 11 Oct 2018, 07:52 PM IST

नई दिल्ली। जकार्ता में जारी पैरा एशियाई खेलों में गुरुवार को भारतीय एथलीटों को एक बड़ी कामयाबी मिली। भारत के एथलीटों ने आज एक इवेंट में तीनों पदकों को जीतने का कारनामा किया। जी हां, भारतीय एथलीटों ने एक ही स्पर्धा में तीनों पदकों पर कब्जा जमाया। भारतीय एथलीटों ने पुरुषों की ऊंची कूद टी-42/63 स्पर्धा में स्वर्ण, रजत और कांस्य पदक अपने नाम किए।

शरद को स्वर्ण, वरुण को रजत और थंगावेलु को कांस्य-
भारत के शरद कुमार ने इस स्पर्धा में गेम रिकॉर्ड तोड़ते हुए स्वर्ण पदक हासिल किया। इसके अलावा, रियो पैरालम्पिक खेलों के पदक विजेता वरुण सिंह भाटी ने सीजन बेस्ट प्रदर्शन करते हुए रजत पदक जीता। इस स्पर्धा का कांस्य पदक रियो पैरालम्पिक खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाले मरियप्पन थंगावेलु ने कांस्य पदक पर कब्जा जमाया।

400 मीटर रेस में रजत और कांस्य-
इसके अलावा गुरुवार को भारत ने पुरुषों की 400 मीटर रेस स्पर्धाओं में एक रजत और दो कांस्य पदक हासिल किए। पुरुषों की 400 मीटर टी-44/62/64 रेस स्पर्धा में भारत को एक रजत और एक कांस्य पदक हासिल हुआ है। इसके अलावा, 400 मीटर टी-45/46/47 स्पर्धा में एक कांस्य पदक हासिल हुआ है।

आनंदन ने गेम रिकॉर्ड तोड़ रजत जीता -
भारत के आनंदन गुनाशेखरन ने 400 मीटर टी-44/62/64 रेस स्पर्धा को 53.72 सेकेंड में पूरा करते हुए गेम रिकॉर्ड तोड़कर रजत पदक जीता। इसके अलावा, विनय कुमार ने 54.45 सेकेंड के समय में इस रेस को पूरा करते हुए अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर कांस्य पदक जीता। पुरुषों की 400 मीटर टी-45/46/47 स्पर्धा के फाइनल में संदीप सिंह मान ने 50.07 सेकेंड का समय लेकर सीजन बेस्ट प्रदर्शन करते हुए कांस्य पदक जीता।

Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned