इंडिया ओपन सुपर सीरीज के सेमीफाइनल में पहुंची सायना, सिंधू बाहर

सायना नेहवाल ने कोरिया की सुंग जी ह्यूून को हराकर योनेक्स सनराइज इंडिया ओपन सुपर सीरीज बैडमिंटन टूर्नामेंट जगह बना ली

By: भूप सिंह

Published: 01 Apr 2016, 11:31 PM IST

नई दिल्ली। गत चैंपियन और दूसरी सीड सायना नेहवाल ने पहला गेम हारने के बाद जबर्दस्त वापसी करते हुए कोरिया की सुंग जी ह्यूून को शुक्रवार को 19-21, 21-14, 21-19 से हराकर दो करोड़ रुपए की पुरस्कार राशि वाले योनेक्स सनराइज इंडिया ओपन सुपर सीरीज बैडमिंटन टूर्नामेंट के महिला एकल सेमीफाइनल में जगह बना ली लेकिन पी वी सिंधू हारकर टूर्नामेंट से बाहर हो गईं। 

सायना ने यह मुकाबला एक घंटे 23 मिनट के कड़े संघर्ष में जीता। सायना जब पहला गेम हार गई थीं तो एक समय लग रहा था कि कहीं टूर्नामेंट में एक और उलटफेर देखने को ना मिले। कल पुरुष एकल में चौथी सीड चीन के लिन डैन और टॉप सीड मलेेशिया के ली चोंग वेई हारकर बाहर हो गए थे लेकिन सायना ने अपने अनुभव का पूरा इस्तेमाल करते हुए और दर्शकों के जोरदार समर्थन से पांचवीं सीड कोरियाई खिलाड़ी को उलटफेर नहीं करने दिया।

सायना ने जहां अपना मुकाबला पहला गेम हारने के बाद जीता वहीं सिंधू पहला गेम जीतने के बाद अपना मुकाबला गंवा बैठी। सिंधू को कोरिया की बेई यिओन जू ने एक घंटे 21 मिनट में 15-21, 21-15, 21-15 से हराकर सेमीफाइनल में स्थान बना लिया। विश्व में 11वें की खिलाड़ी ङ्क्षसधू का 15वें नंबर की कोरियाई खिलाड़ी के खिलाफ 1-2 का रिकार्ड था जिसे अब बेई ने 3-1 पहुंचा दिया है।

सिंधू ने दूसरे और तीसरे गेम में लगातार गलतियां कर कोरियाई खिलाड़ी को वापसी करने का मौका नहीं दिया। बेई ने इन मौकों का पूरा फायदा उठाते हुए बढ़त बनाई और मुकाबला जीत लिया। बेई का सेमीफाइनल में चौथी सीड थाईलैंड की रत्चानोक इंतानोन के साथ मुकाबला होगा।

यहां सीरीफोर्ट स्पोर्ट्स काम्पलैक्स में दर्शकों ने लगातार सायना का उत्साह बढ़ाए रखा। हालांकि जीत हासिल करने में सायना को पसीना बहाना पड़ा। सायना का इससे पहले आठवीं रैंकिंग की सुंग के खिलाफ 5-1 का कॅरियर रिकार्ड था। कोरियाई खिलाड़ी ने मैच में शानदार शुरुआत करते हुए सायना से पहला गेम 21-19 से जीत लिया।

सायना के पास पहले गेम में 14-11 और 17-14 की बढ़त थी। लेकिन सुंग ने लगातार छह अंक लेकर 20-17 की बढ़त बनाई और फिर 21-19 पर गेम समाप्त कर दिया। दूसरे गेम में सायना ने 6-2 की बढ़त बनाने के बाद पीछे मुड़कर नहीं देखा। उन्होंने अपनी बढ़त को 13-7 और 18-9 पहुंचाते हुए यह गेम आसानी से 21-14 से जीत लिया।

निर्णायक गेम में दोनों खिलाडिय़ों के बीच जबर्दस्त संघर्ष हुआ। सुंग ने पहले 5-1 की बढ़त बनाई तो सायना ने बराबरी हासिल करने के बाद 11-7 की बढ़त बना ली। कोरियाई खिलाड़ी ने फिर लगातार छह अंक लेकर 13-11 की बढ़त बना ली। सायना ने फिर 15-15 पर बराबरी की लेकिन सुंग ने 17-15 की बढ़त बना ली। दोनों के बीच स्कोर 18-18 से बराबर हुआ। यहां सायना दो अंक लेकर 20-18 से आगे हो गईं। सुंग ने स्कोर 19-20 किया लेकिन सायना ने आखिर 21-19 पर गेम और मैच समाप्त कर दिया।

सायना का सेमीफाइनल में तीसरी वरीयता प्राप्त चीन की ली जुईरुई के साथ मुकाबला होगा जिन्होंने वांग शिजियान को एक घंटे दो मिनट में 22-20, 12-21, 21-17 से हराया। सायना और जुईरुई के बीच यह 13वीं भिड़ंत होगी। विश्व रैंकिंग में दूसरी रैंकिंग की जुईरुई का छठीं रैंकिंग की सायना के खिलाफ 10-2 का कॅरियर रिकार्ड है। 

सायना ने आखिरी बार जुईरुई को जून 2012 में इंडोनेशिया ओपन में हराया था। इस बीच मोहिता सहदेव और संजना संतोष की भारतीय जोड़ी को महिला युगल में नाओको फुकुमैन और कुरुमी योनाओ से क्वार्टरफाइनल में मात्र 27 मिनट में 8-21, 2-21 से हार का सामना करना पड़ा।

उधर पुरुष एकल वर्ग में दूसरी सीड जापान के केंतो मोमोता, पांचवीं सीड डेनमार्क के विक्टर एक्सेलसन, कोरिया के सोन वान हो और चीन के जुई सोंग सेमीफाइनल में पहुंच गए हैं। शनिवार को होने वाले सेमीफाइनल में मोमोता का मुकाबला जुई सोंग से और एक्सेलसन का मुकाबला सोन वान से होगा।
Show More
भूप सिंह Content Writing
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned