कोच ने डांटा तो हॉकी टीम के 16 खिलाड़ियों ने मुंडवा लिए सिर, कोच ने किया आरोपों से इनकार

कोच ने डांटा तो हॉकी टीम के 16 खिलाड़ियों ने मुंडवा लिए सिर, कोच ने किया आरोपों से इनकार

Mazkoor Alam | Publish: Jan, 21 2019 05:24:37 PM (IST) अन्य खेल

पश्चिम बंगाल की अंडर-19 हॉकी टीम के सारे खिलाड़ियों ने अचानक एक साथ अपने सिर मुंडवा लिए हैं। इसको लेकर कई बातें सामने आ रही है।

कोलकाता : पश्चिम बंगाल की अंडर-19 हॉकी टीम के सारे खिलाड़ियों ने अचानक एक साथ अपने सिर मुंडवा लिए हैं। इसको लेकर कई बातें सामने आ रही है। लेकिन उन सारी बातों के बीच एक बात कॉमन है कि ऐसा उन्‍होंने कोच की वजह से किया है। सामने आ रही खबरों के अनुसार कोच अपनी टीम के खिलाड़ियों के खराब प्रदर्शन की वजह से खुश नहीं थे। इसलिए उन्‍होंने डांटते हुए सिर मुंडवाने को कहा था। इसके बाद उन्‍होंने अपने सिर मुंडवा लिए। हालांकि खिलाड़ियों के सिर मुंडवाने के मामले ने जब तूल पकड़ा तो कोच आनंद कुमार ने इस मामले साफ पल्‍ला झाड़ लिया कि उनकी डांट की वजह से किशोर हॉकी खिलाड़ियों ने अपने सिर मुंडवाए हैं। उन्‍होंने कहा कि उन्‍होंने तो बस गुस्‍से में सिर मुंडवाने को कह दिया था, जबकि टीम के एक खिलाड़ी ने बताया कि उनकी टीम ने बेहतर प्रदर्शन नहीं किया, इसलिए कोच के सम्‍मान में अपना सिर मुंडवा लिया। किसी के दबाव में आकर ऐसा नहीं किया, जबकि टीम के ही एक खिलाड़ियों ने इसके विपरीत बात कही। उसने कहा कि खराब प्रदर्शन के बाद कोच चाहते थे कि सभी खिलाड़ी अपना सिर मुंडवा लें। इसलिए मजबूरन टीम के सारे खिलाड़ियों को ऐसा करना पड़ा। यहां तक कि जब एक खिलाड़ी ने ऐसा नहीं किया तो कोच आनंद कुमार ने उसे अनुशासनहीन करार दिया।

बुरी तरह हार गई थी यह टीम
बता दें कि पश्चिम बंगाल की यह अंडर 19 हॉकी टीम हाल ही में जबलपुर में आयोजित हुए बी डिविजन जूनियर नेशनल चैंपियनशिप में भाग लेकर लौटी है। क्‍वार्टर फाइनल में इस टीम का मुकाबला नामधारी एकादश से हुआ था, जिससे यह टीम 5-1 से हार गई थी। इसी हार की वजह से कोच आनंद कुमार काफी गुस्‍से में थे और उन्‍होंने खिलाड़ियों को सिर मुंडाने की सजा मुकर्रर की थी।

जीत पर भी मिली थी यही सजा
पश्चिम बंगाल अंडर 19 टीम के ही एक खिलाड़ी ने नाम न बताने की शर्त कहा कि कोच ने पूरी टीम के लिए यह सजा मुकर्रर की थी। यही सजा हमें तब भी सुनाई थी, जब पहले मैच में उनकी टीम ने गुजरात से जीत हासिल की थी। उनका मानना था कि गुजरात के खिलाफ भी उनकी टीम अच्‍छा नहीं खेली। इसके बाद जबलपुर से लौटते हुए टीम के ज्यादातर खिलाड़ियों ने बाल मुंडवा लिए थे। लेकिन मैंने ऐसा नहीं किया तो उन्‍होंने मुझे अनुशासनहीन करार दिया। हालांकि इसके बावजूद बाल मुंडवाने का उनका कोई इरादा नहीं है।

कोच ने कहा- गुस्‍से में कही थी यह बात
इस बारे में पूछे जाने पर पश्चिम बंगाल अंडर 19 हॉकी टीम के कोच आनंद कुमार ने इन आरोपों से साफ इनकार कर दिया। उन्‍होंने कहा कि नामधारी एकादश के खिलाफ उनकी टीम हाफ टाइम तक ही 3-4 गोलों से पिछड़ गई थी। इस पर उसी वक्‍त गुस्‍से में कहा था कि सबके सिर मुंडवा दूंगा, लेकिन जब 2 दिन बाद उन्‍होंने देखा कि सच में टीम के कुछ खिलाड़ियों ने सिर मुंडवा लिए हैं, तो वह हतप्रभ रह गए। कोच ने कहा कि इस पर उन्‍होंने उनसे पूछा भी तो प्‍लेयर्स ने कहा कि अच्छा नहीं खेल पाने की वजह से वह खुद से शर्मिंदा थे, इसलिए ऐसा किया।

हो सकती है कार्रवाई
बता दें कि पश्चिम बंगाल अंडर-19 हॉकी टीम में इस टूर्नामेंट के लिए 18 खिलाड़ियों का चयन किया गया था। इनमें से 16 खिलाड़ियों ने अपने सिर मुंडवा लिए हैं। जब इस बारे में साई पूर्वी क्षेत्रीय केंद्र के डायरेक्‍टर मनमीत सिंह गोइंडी से पूछा गया तो उन्‍होंने कहा कि अभी तक तो इस बात की जानकारी उन्‍हें नहीं है, लेकिन ऐसा हुआ है तो इसकी जांच कराकर उचित कार्रवाई की जाएगी।

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned