विश्व एथलेटिक्स (महिला मैराथन) : जैयशा ने तोड़ा नेशनल रिकॉर्ड

33 साल की जैयशा ने 2 घंटा 34.43 मिनट समय में रेस पूरी कर नया राष्ट्रीय रिकॉर्ड बनाया

By: जमील खान

Published: 30 Aug 2015, 04:34 PM IST

बीजिंग। भारत की जैयशा ओर्चातेरी ने रविवार को नए राष्ट्रीय रिकॉर्ड के साथ विश्व एथलेटिक्स चैम्पिनयनशिप की महिला मैराथन स्पर्धा में 18वां स्थान हासिल किया। एक अन्य भारतीय सुधा सिंह को 19वां स्थान मिला। इसके साथ इस चैम्पियनशिप में भारत का प्रतिनिधित्व समाप्त हो गया। भारत को एक भी पदक नहीं मिला।

33 साल की जैयशा ने 2 घंटा 34.43 मिनट समय में रेस पूरी कर नया राष्ट्रीय रिकॉर्ड बनाया। दूसरी ओर, 29 साल की सुधा ने 2 घंटा 35.35 मिनट में रेस पूरी की। यह उनका व्यç क्तगत श्रेष्ठ समय है।

ओलम्पिक एथलीट सुधा ने इससे पहले मैराथन का राष्ट्रीय रिकॉर्ड कायम किया था। सुधा ने एशियाई खेलों में रजत पदक जीता था। जैयशा ने पहली बार किसी वैश्विक आयोजन में हिस्सा लिया और सराहनीय प्रदर्शन किया।

इथियोपिया की मारा दिबाबा ने 2 घंटा 27.35 मिनट के साथ स्वर्ण जीता। दिबाबा ने पहली बार अपने देश को मैराथन में स्वर्ण दिलाया है। केन्या की हालेप किपराप 2 घंटे 27.36 मिनट के साथ रजत और इयुनिस किरवा ने 2 घंटे 27.39 मिनट के साथ कांस्य जीता।

दो साल पहले मॉस्को में इस स्पर्धा का स्वर्ण जीतने वाली केन्या की एडिला नेरिंगवोनी किपलागाट अपना खिताब बरकरार नहीं रख सकीं। किपलागाट ने 2 घंटे 28.18 मिनट के साथ पा ंचवां स्थान हासिल किया।

भारत ने विश्व चैम्पियनशिप के इस संस्करण के लिए कुल 17 एथलीट बीजिंग भेजे थे। इनमें से कोई भी एथलीट पदक नहीं जीत सका। ललिता बाबर ने महिलाओं की 3000 मीटर स्टेपलचेज स्पर्धा के फाइनल में आठवां स्थान हासिल करते हुए अंक अर्जित किया और यही इस चैम्पियनशिप में भारत का हासिल रहा।
जमील खान
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned