पाकिस्तान में 74 वर्ष पुराने हिंदू मंदिर में की गई तोड़फोड़

- दस से 12 लोग आए और बाहरी हिस्से में बने मंदिर के दरवाजों और सीढ़ियों पर तोड़फोड़ की, जिससे निर्माण कार्य प्रभावित हुआ।

By: विकास गुप्ता

Published: 30 Mar 2021, 08:32 PM IST

रावलपिंडी। पाकिस्तान के रावलपिंडी के पुराना किला इलाके में स्थित 74 वर्ष पुराने एक हिंदू मंदिर में कुछ अज्ञात हमलावरों ने तोड़फोड़ की है। पुलिस अधिकारियों के अनुसार, मंदिर में रविवार तड़के हुई तोड़फोड़ के खिलाफ बानी गाला थाने में मामला दर्ज किया गया है। अधिकारियों ने कहा कि मंदिर की मरम्मत की जा रही है। पिछले एक महीने से निर्माण और मरम्मत का काम चल रहा है। यह भी बताया गया कि पुनरुद्धार का काम जारी रहने के कारण मंदिर में न तो धार्मिक अनुष्ठान हो रहे थे और न ही परिसर में कोई मूर्तियां थीं।

रावलपिंडी, नॉर्दर्न जोन, इवैक्यू ट्रस्ट प्रॉपर्टी के सहायक सुरक्षा अधिकारी सैयद रजा अब्बास ने कहा, "दस से 12 लोग आए और बाहरी हिस्से में बने मंदिर के दरवाजों और सीढ़ियों पर तोड़फोड़ की, जिससे निर्माण कार्य प्रभावित हुआ।" मंदिर के प्रशासक ओम प्रकाश ने बताया कि घटना के बाद मंदिर के साथ-साथ उनके घर पर भी सुरक्षा तैनात कर दी गई है।

हिंदू मंदिर पर ताजा हमला कोई पहला मामला नहीं है, क्योंकि पिछले दिनों देश के विभिन्न हिस्सों में उपद्रवियों ने कई अन्य मंदिरों पर भी हमला किया है। पाकिस्तान के हिंदू समुदाय ने सरकार से अपने धार्मिक स्थलों की सुरक्षा सुनिश्चित करने और उन्हें अपने धार्मिक अनुष्ठान करने में सुविधा प्रदान करने का आह्वान किया है। गौरतलब है कि दिसंबर 2020 में एक मौलवी ने खैबर पख्तूनख्वा प्रांत में एक ऐतिहासिक स्थल पर हमला करने के लिए समर्थकों और अनुयायियों को भड़काया था। इसके परिणामस्वरूप सरकार को न केवल उस स्थल को सुरक्षित करने के लिए कदम उठाना पड़ा, बल्कि इसका जीर्णोद्धार भी हुआ। हिंदू अल्पसंख्यकों के प्रति व्यवहार के लिए पाकिस्तान को कई बार वैश्विक आलोचना का सामना करना पड़ा है। इन यातनाओं में हिंदुओं का जबरन धर्मातरण, अपहरण, क्रूर हमले और धार्मिक स्थलों पर हमले शामिल हैं।

विकास गुप्ता
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned