पाकिस्तान में बढ़ता कोरोना का खतरा, पीएम इमरान बोले- अब वायरस के साथ सीख लें जीना

HIGHLIGHTS

  • इमरान खान ने देशवासियों का किया संबोधित
  • पाकिस्तान में करीब दो माह बाद शनिवार से घरेलू उड़ानें बहाल हो गई
  • पाकिस्तान में एक हफ्ते पहले पाबंदियों में ढील दी गई है

By: Anil Kumar

Published: 16 May 2020, 05:44 PM IST

इस्लामाबाद। कोरोना वायरस के खतरे से जूझ रहे पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने देश के नागरिकों को संबोधित करते हुए कहा कि अब हमें वायरस के साथ जीना सीख लेना चाहिए। उन्होंने कहा कि लोग वायरस के साथ जीने के लिए मानसिक रुप से तैयार हो जाएं। बता दें कि इस बीच पाकिस्तान में करीब दो माह बाद शनिवार से घरेलू उड़ानें बहाल हो गई।

डॉन अखबार में शनिवार को प्रकाशित खबर के अनुसार, इमरान ने टेलीविजन संबोधन में कहा, 'हमें वैक्सीन तैयार होने तक वायरस के साथ जीना होगा।' उन्होंने लॉकडाउन पर सवाल उठाते हुए पूछा कि क्या इस उपाय से वायरस का संक्रमण रुका? आंकड़ों से जाहिर होता है कि वुहान, दक्षिण कोरिया और जर्मनी में पाबंदियां हटने के बाद फिर नए मामले मिलने लगे हैं।

मुख्यमंत्री औरैया में सड़क दुर्घटना में प्रवासी कामगारों व श्रमिकों की मृत्यु पर हुए दुःखी

पीएम इमरान ने कहा, 'मैं पहले दिन से यह बात कह रहा हूं कि हम अपने यहां उस तरह के लॉकडाउन को अमल में नहीं जा सकते, जैसा विकसित देशों में लागू किया गया है।' पाकिस्तान में एक हफ्ते पहले पाबंदियों में ढील दी गई। इसी के तहत शनिवार से सीमित घरेलू उड़ानें बहाल कर दी गई। रेल सेवा और सार्वजनिक वाहनों को भी बहाल करने की तैयारी चल रही है।

38 हजार से अधिक की मौत

राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवाओं ने शनिवार को एक बयान में बताया कि पाकिस्तान में बीते 24 घंटे के दौरान कोरोना संक्रमण के 1,581 नए मामले पाए गए। इन्हें लेकर संक्रमित लोगों का आंकड़ा 38 हजार 799 हो गया है। 834 पीड़ितों की मौत हो चुकी है।

पाकिस्तान के सिंध प्रांत में सबसे अधिक संक्रिमितों की संख्या है। सिंध में अब तक 15,590 और उसके बाद पंजाब प्रांत में 14,201 लोग अब तक कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं।

coronavirus
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned