Pakistan: इमरान सरकार की खुली पोल, आतंकी हाफिज सईद जेल में नहीं बल्कि अपने घर पर है मौजूद

HIGHLIGHTS

  • पाकिस्तान सरकार ( Pakistan Government ) ने आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा ( Lashkar-e-Taiba ) के सरगना हाफिज को गुपचुप तरीके से जेल से बाहर निकाला है।
  • मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, हाफिज सईद ( Hafiz Saeed ) पाकिस्तान की जेल में सजा नहीं काट रहा है बल्कि वह लाहौर के जोहार टाउन स्थित अपने घर में मौज कर रहा है।

By: Anil Kumar

Updated: 27 Nov 2020, 05:49 PM IST

इस्लामाबाद। आतंकवाद ( Terrorism ) के पालन-पोषण और पूरी दुनिया में आतंकी घटनाओं में पाकिस्तानियों के संलिप्तता से इनकार करने वाले पाकिस्तान ( Terrorist In Pakistan ) की पोल एक बार फिर खुल गई है।

फाइनैंशियल ऐक्शन टास्क फोर्स ( FATF ) की कार्रवाई से बचने के लिए लगातार आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई का ढोंग करने वाले इमरान खान ( Imran Khan ) की कलई खुल गई है। दरअसल, बीते दिनों पाकिस्तान की एक कोर्ट ने 26/11 मुंबई हमले का मास्टर माइंड और कुख्यात आतंकी हाफिज सईद ( Global Terrorist Hafiz Saeed ) को साढ़े दस साल की सजा सुनाई थी और जेल भेज दिया था।

मुंबई हमलों का मास्टरमाइंट हाफिज सईद दोषी करार, पाक की गुजरात कोर्ट में केस हुआ शिफ्ट

लेकिन अब पाकिस्तान सरकार ने आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के सरगना हाफिज को गुपचुप तरीके से जेल से बाहर निकाला है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, हाफिज सईद पाकिस्तान की जेल में सजा नहीं काट रहा है बल्कि वह लाहौर के जोहार टाउन स्थित अपने घर में मौज कर रहा है।

खुफिया एजेंसियों की रिपोर्ट के हवाले से मीडिया रिपोर्ट्स में ये दावा किया गया है कि हाफिज सईद लाहौर के कोट लखपत जेल में बंद नहीं है। वह अपने घर पर है। वहां कड़ी सुरक्षा व्यवस्था है और उससे मिलने के लिए सिर्फ उसके खास परिचित ही आ सकते हैं।

खुफिया एजेसियों के अनुसार, हाफिज सईद अपने घर से ही आतंकी गतिविधियों को अंजाम दे रहा है। फिलहाल, इस तरह की खबरों को लेकर पाकिस्तान सरकार की ओर से कोई प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है।

आतंकी लखवी ने हाफिज से की थी मुलाकात

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के जिहाद विंग का ऑपरेशनल कमांडर जकी-उर रहमान लखवी ने पिछले महीने हाफिज सईद के घर पर उनसे मुलाकात की थी। दोनों ने आतंकवाद के लिए फंड जुटाने को लेकर चर्चा की थी।

बता दें कि जकी-उर रहमान लखवी पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने प्रतिबंध लगाया हुआ है। हाफिज सईद और लखवी दोनों 26/11 मुंबई आतंकी हमले का साजिशकर्ता है। दुनियाभर के कई आतंकी हमलो में दोनों का हाथ है।

फिर सामने आया पाकिस्तान का दोहरा रवैया, बनाए हाफिज सईद के आतंकी संगठन के दो नए फ्रंट, ये है वजह

आतंकवाद के खिलाफा कार्रवाई करने को लेकर जब पाकिस्तान पर अंतर्राष्ट्रीय दबाव बढ़ा तो आनन-फानन में पिछले साल (2019 में) जुलाई में हाफिज सईद को गिरफ्तार किया गया, हालांकि इसके बाद वह जेल से बाहर भी आ गया। इसके बाद इसी साल (2020) फरवरी में एक बार फिर से हाफिज सईद को आतंकवाद संबंधि फंडिंग को लेकर साढ़े दस साल की सजा सुनाई गई।

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned