पाकिस्तान: इमरान सरकार ने लॉकडाउन में दी ढील, बाजारों में उमड़ा लोगों का हुजूम

HIGHLIGHTS

  • पाकिस्तान मेडिकल एसोसिएशन ने कहा कि कोरोना को फैलने से रोकना है तो ढील को वापस लेकर संपूर्ण देश में सख्ती से लॉकडाउन लागू करना होगा
  • शनिवार को पाकिस्तान में कोरोना के रिकार्ड कुल 1991 दर्ज किए गए

By: Anil Kumar

Updated: 10 May 2020, 09:16 PM IST

इस्लामाबाद। कोरोना वायरस के खतरे के बीच पाकिस्तान ने शनिवार को लॉकडाउन में थोड़ी ढील दी। लॉकडाउन में मिली थोड़ी ढील के बाद पाकिस्तान के बाजारों में लोगों को हुजूम उमड़ पड़ा। चारों ओर सिर्फ लोग ही लोग नजर आए। किसी को भी कोरोना महामारी का डर नहीं रहा।

लोगों का यह हुजूम शनिवार को उस दिन दिखा जब देश में कोरोना के रिकार्ड मामले (कुल 1991) दर्ज किए गए। इधर कोरोना के बढ़ते मामले के मद्देनजर पाकिस्तान मेडिकल एसोसिएशन ने मांग दोहराई कि अगर कोरोना को फैलने से रोकना है तो ढील को वापस लेकर संपूर्ण और सख्त लॉकडाउन लागू करना होगा।

PM मोदी कल मुख्यमंत्रियों संग करेंगे बैठक, 17 मई के बाद लॉकडाउन पर फैसला संभव

पाकिस्तान में शनिवार से कई प्रांतों व राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में आंशिक लॉकडाउन को मई के अंत तक बढ़ाने का फैसला हुआ। साथ ही कहीं पर हफ्ते में चार दिन और कहीं पर पांच दिन, सुबह भोर के समय से शाम पांच बजे तक बाजार खोलने का फैसला किया गया। हालांकि, शापिंग कांप्लेक्स और माल पहले की ही तरह बंद रहेंगे।

9 मई से लॉकडाउन में ढील दी गई है

पाकिस्तानी मीडिया में प्रकाशित रिपोर्ट में बताया गया कि रावलपिंडा में ईद की तैयारियों के सिलसिले में लोग बड़ी संख्या में बाजारों में पहुंचे। कराची में आधिकारिक रूप से बाजार को खोलने की अनुमति सोमवार से दी गई है लेकिन इससे पहले ही शहर में चूड़ियों और जूता-जूतियों की दुकानें सज गईं और विशेषकर महिलाएं इन दुकानों पर उमड़ पड़ीं।

राष्ट्रीय राजधानी इस्लामाबाद में तो लोग दुकानों के खुलने से पहले ही इनके सामने लाइनों में लगे नजर आए। ऐसे ही दृश्य लाहौर, पेशावर और क्वेटा जैसे बड़े शहरों में भी देखने को मिले। रिपोर्ट में कहा गया है कि इन सभी जगहों पर सरकार द्वारा आवश्यक करार दिए गए सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों की धज्जियां उड़ीं।

चीनी राष्ट्रपति जिनपिंग ने WHO से कहा था Corona पर वैश्विक चेतावनी जारी करने में करें देरी

संघीय व प्रांतीय सरकारों के बीच तय हुआ था कि नौ मई से लॉकडाउन में ढील दी जाएगी, सुबह से शाम तक बाजार खुलेंगे लेकिन यह शनिवार व रविवार को नहीं खुलेंगे। नौ मई को शनिवार होने के बावजूद बाजार खुले। इस बारे में रावलपिंडी में व्यापारी नेताओं से पूछा गया कि शनिवार को तो बाजार नहीं खोलना है तो उन्होंने कहा कि 'प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा है कि दुकानें खोलो।'

coronavirus
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned