Pakistan ने अफगान शरणार्थियों पर की बड़ी कार्रवाई, दो लाख फर्जी पहचान पत्र रद्द

HIGHLIGHTS

  • पाकिस्तान के गृह मंत्री शेख राशिद अहमद ( Pakistan Home Minister Sheikh Rashid Ahmed ) ने बताया कि हमारे पास 15 लाख अफगान शरणार्थियों ( Afghan Refugees ) का रिकॉर्ड है।
  • देश में करीब 8,00,000 अफगानी नागरिक अवैध रूप से रह रहे हैं, जिनमें से 2 लाख शरणार्थियों का पहचानपत्र रद्द किया गया है।

By: Anil Kumar

Updated: 03 Jan 2021, 07:38 PM IST

इस्लामाबाद। पाकिस्तान की इमरान सरकार ( Pakistan Imran Khan Government ) ने अफगानी शरणार्थियों को लेकर एक सख्त कदम उठाते हुए करीब दो लाख लोगों के कम्प्यूटरीकृत राष्ट्रीय पहचान पत्रों ( CNIC ) को रद्द कर दिया है। पाकिस्तान सरकार की ओर से अफगान शरणार्थियों ( Afghan Refugees ) पर यह बड़ी कार्रवाई है। इसम मामले में पाकिस्तान के गृह मंत्री शेख राशिद अहमद ( Pakistan Home Minister Sheikh Rashid Ahmed ) ने शनिवार को जानकारी देते हुए बताया कि हमारे पास 15 लाख अफगान शरणार्थियों का रिकॉर्ड है।

उन्होंने बताया कि इन सभी अफगानी शरणार्थियों को कानूनी मान्यता मिली हुई है। देश में करीब 8,00,000 अफगानी नागरिक अवैध रूप से रह रहे हैं। इन आठ लाख में से 2 लाख शरणार्थियों का पहचानपत्र रद्द किया गया है। शेख अहमद ने कहा कि एक ही दिन में ऑनलाइन वीजा के लिए 2,00,000 से अधिक वीजा आवेदन प्राप्त हुए हैं।

Afghanistan: पाकिस्तान का वीजा लेने पहुंचे हजारों लोग, भगदड़ मचने से 12 महिलाओं की मौत

गृह मंत्री अहमद ने आगे कहा कि देश में वीजा जारी करने में कई तरह के भ्रष्टाचार के मामले सामने आए हैं, जिससे निपटने के लिए ये कार्रवाई की जा रही है। उन्होंने कहा कि चूंकि मैनुअल प्रोसेसिंग में भ्रष्टाचार की काफी संभावना होती है, इसलिए पाकिस्तान सरकार ने वीजा ( Pakistan Visa ) के संबंध में भ्रष्टाचार की आशंकाओं को खत्म करने के लिए ऑनलाइन वीजा सेवा शुरू की गई है। वर्तमान समय में पाकिस्तान सरकार 192 देशों के नागरिकों को ऑनलाइन वीजा सुविधा दे रही है।

सेना के खिलाफ बोलने पर 72 घंटे में होगी कार्रवाई

पाकिस्तान में सेना को लेकर जारी सियासी घमासान के बीच गृहमंत्री शेख राशिद अहमद ने कहा कि सेना विरोधी टिप्पणी करने वालों के खिलाफ 72 घंटों के अंदर सख्त कार्रवाई की जाएगी। सेना को निशाना बनाने वाले लोग विदेशों के इशारे पर ऐसा कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हम अपने देश और सरकारी संस्थानों के खिलाफ इस तरह के दुष्प्रचार को खत्म करेंगे और दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करेंगे।

शेख राशिद ने आगे कहा कि विपक्षी दल लगातार प्रदर्शन कर रहे हैं और सेना के खिलाफ अपमानजनक बातें कर रहे हैं। उन्होंने विपक्ष को कड़ी चेतावनी देते हुए कहा कि सेना के खिलाफ बयान देने वालों पर 72 घंटों के अंदर कार्रवाई करेंगे।

Pakistan: बलूचिस्तान में 11 कोयला खनिकों की गोली मारकर हत्या, इमरान खान ने बताया आतंकी हमला

बता दें कि 11 दलों के संयुक्त गठबंधन पाकिस्तान डेमोक्रेटिक मूवमेंट (PDM) के शीर्ष नेताओं ने लगातार इमरान सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए आंदोलन कर रहे हैं। PDM इमरान खान से इस्तीफे की मांग करते हुए प्रदर्शन कर रहे हैं। विपक्ष ने आरोप लगाया है कि इमरान सरकार सेना की कठपुतली है। PDM प्रमुख मौलाना फजलुर रहमान ने एक दिन पहले ही कहा था कि सशस्त्र बलों ने देश को बंधक बना लिया है।

Show More
Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned