पाकिस्तान में कोरोना के मामलों से निपटने के लिए सेना की मदद लेने की तैयारी

स्वास्थ्य मामलों के विशेष सहायक डॉ फैसल सुल्तान ने बताया कि कोरोना गाइडलाइन का अनुपालन सुनिश्चित करने के लिए प्रशासन के साथ सेना की सहायता ली जाएगी।

By: Mohit Saxena

Published: 12 Jul 2021, 11:00 PM IST

इस्लामाबाद। पाकिस्तान (Pakistan) में कोरोना वायरस (coronavirus) के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। ऐसे में भीड़ को नियंत्रित करने और कोरोना गाइडलाइन को फॉलो कराने के लिए सेना की मदद लेने की तैयारी चल रही है। स्वास्थ्य मामलों के विशेष सहायक डॉ फैसल सुल्तान ने सोमवार को मीडिया से कहा कि कोरोना गाइडलाइन का अनुपालन सुनिश्चित करके संक्रमण के प्रसार को नियंत्रित करने के प्रयास हो रहे हैं। कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए सेना बुलाने की तैयारी की जा रही है।

ये भी पढ़ें: नेपाल: सुप्रीम कोर्ट ने केपी ओली को दिया झटका, शेर बहादुर देउबा को पीएम बनाने का आदेश

अप्रैल में जब देश में तीसरी लहर आई थी

उन्होंने कहा कि सेना के अलावा जरूरत के मुताबिक सभी प्रशासनिक मदद भी ली जा सकती है। यह दूसरी बार होगा जब एसओपी (SOP) को लागू करने के लिए नागरिक प्रशासन की सहायता के लिए सेना को बुलाया जा रहा है। अप्रैल में जब देश में तीसरी लहर आई थी, तब भी सेना की मदद ली गई थी।

इस दौरान पुलिस के साथ सेना के जवान भी सड़कों पर उतर आए थे। सुल्तान का कहना है कि मामलों में तेज वृद्धि से निपटने के लिए मास्क पहनना और भीड़ से बचना बहुत जरूरी है। उन्होंने कहा कि आगामी ईद की छुट्टियों में पर्यटन स्थलों की यात्रा के लिए बाहर जाने वाले पर्यटकों के लिए वैक्सीनेशन का अनिवार्य करा गया है।

50 साल से अधिक उम्र वालों को खतरा

योजना मंत्री असद उमर को देश में कोरोना वैक्सीनेशन अभियान का जिम्मा मिला है। यहां की जनता को कोरोना की दो डोज लगवाने के लिए वे प्रोत्साहित कर रहे हैं। ज्यादातर ऐसे लोगों को पहले वैक्सीन लगाई जा रही है जिनकी उम्र 50 साल से अधिक है। असद उमर देश में कोरोना वायरस को नियंत्रित करने के लिए गठित राष्ट्रीय निकाय के प्रमुख भी हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस से 50 साल से अधिक उम्र के लोगों को अधिक खतरा है।

ये भी पढ़ें: पाकिस्तान ने गृहमंत्री शेख राशिद का बयान- भारत को अब अफगानिस्तान छोड़ना पड़ेगा

संक्रमण दर में मामूली वृद्धि दर्ज करी

उन्होंने बीते रविवार को कहा था कि पाकिस्तान में इस आयु वर्ग के 56 लाख या 20.6 प्रतिशत लोगों ने वैक्सीन की कम से कम एक खुराक ली है। निकाय ने संक्रमण दर में मामूली वृद्धि दर्ज करी है। लोगों से सार्वजनिक स्थानों पर मास्क पहनने व सामाजिक दूरी बनाए रखने को कहा है।

राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा मंत्रालय के अनुसार, पाकिस्तान में बीते 24 घंटों में 1,808 नए मामले सामने आए हैं। यहां पर संक्रमितों की कुल संख्या 9,75,092 हो चुकी है। वहीं कोरोना से मरने वालों की संख्या 22,597 हो गई है।

coronavirus
Mohit Saxena
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned