Pakistan: इमरान सरकार के खिलाफ विपक्ष की मोर्चाबंदी, जनवरी तक PDM करेगी 12 रैली

HIGHLIGHTS

  • PDM Rally Against Imran Khan Government: PDM ने इमरान सरकार के विरोध में जनवरी तक 12 रैली करने का फैसला किया है।
  • पहली रैली कल यानी कि बुधवार (23 दिंसबर) को मरदान में एक बड़ी रैली होगी।
  • PDM ने कहा है कि 31 जनवरी को इस्लामाबाद को घेरा जाएगा।

By: Anil Kumar

Updated: 22 Dec 2020, 07:30 PM IST

इस्लामाबाद। पाकिस्तान ( Pakistan ) में सियासी घमासान जारी है और इमरान सरकार ( Imran Khan Government ) के खिलाफ विपक्ष लगातार मोर्चाबंदी करने में जुटा है। इन सबके बीच 11 विपक्षी दलों के संगठन पाकिस्तान डेमोक्रेटिक मूवमेंट (PDM) ने इमरान खान के खिलाफ विरोध का दूसर चरण एक बार फिर से शुरू कर दिया है।

PDM ने इमरान सरकार के विरोध में जनवरी तक 12 रैली करने का फैसला किया है। पहली रैली कल यानी कि बुधवार (23 दिंसबर) को मरदान में एक बड़ी रैली होगी। इसके बाद 27 दिसंबर को पूर्व प्रधानमंत्री बेनजीर भुट्टो की पुण्यतिथि पर उनके शहर लरकाना में भी PDM के तमाम बड़े नेता जुटेंगे और इमरान सरकार के खिलाफ आवाज बुलंद करेंगे।

Pakistan: मरियम नवाज समेत PDM के कई नेताओं पर मुकदमा दर्ज, विपक्ष ने इमरान सरकार को दिया अल्टीमेटम

PDM ने फैसला किया है देश के दस अन्य शहरों में बड़ी-बड़ी रैली करेंगे और फिर 31 जनवरी को इस्लामाबाद को घेरा जाएगा। इधर गृह मंत्री शेख राशिद ने एक बड़ा बयान देते हुए कहा है कि शीर्ष 20 नेताओं को जान का गंभीर खतरा है। ये सभी नेता आतंकियों के निशाने पर हैं और बार-बार ये चेतावनी दी जा रही है कि उन्हें निशाना बनाया जा सकताहै। उन्होंने कहा है कि आतंकियों के निशाने पर ज्यादातर विपक्षी दल के नेता हैं।

सियालकोट में होगी विशाल रैली

आपको बता दें कि इसी साल सितंबर में 11 विपक्षी दलों ने मिलकर प्रधानमंत्री इमरान खान को सत्ता से बेदखल करने के लिए एक पाकिस्तान डेमोक्रेटिक मूवमेंट गठबंधन बनाया था। इसके बाद से अब तक 6 बड़ी रैलियां PDM ने की है।

अब एक बार फिर विरोध का दूसरा चरण शुरू करने का फैसला किया है। इसी कड़ी में बुधवार को मरदान में एक विशाल रैली की जाएगी। इसके बाद 27 दिसंबर को लरकाना में एक रैली की जाएगी। PDM ने कहा है कि 27 जनवरी को सियालकोट में आखिरी रैली होगी। इससे पहले 10 शहरों में रैलियां की जाएंगी।

इमरान सरकार के खिलाफ विपक्ष की घेराबंदी, PDM के सांसद और विधायक दे सकते हैं सामूहिक इस्तीफा

यदि इसके बाद भी इमरान खान ने इस्तीफा नहीं दिया तो फिर 31 जनवरी को राजधानी इस्लामाबाद का घेराव करेंगे। PDM ने स्पष्ट कर दिया है कि जब तक इमरान खान प्रधानमंत्री पद से इस्तीफा नहीं दे देते हैं, तब तक इस्लामाबाद में कार्यकर्ता डटे रहेंगे।

Anil Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned