कोरोना नहीं! पुलिस के डर से 300 भगोड़े व 1700 वारंटी पाली छोड़कर भागे

- पुलिस ने की धरपकड़, 100 वारंटी हत्थे चढ़े
- कोरोना ड्यूटी के बीच वारंटियों को पकड़ने में उलझी पुलिस

By: Suresh Hemnani

Updated: 16 Apr 2021, 09:05 AM IST

पाली। मारवाड़-गोडवाड़ में इस बार कोरोना नहीं, पुलिस के डर से 300 भगोड़े व 1700 वारंटी जिला छोडकऱ भाग गए हैं। वे अज्ञात स्थानों पर हैं, पुलिस उन्हें गिरफ्तार न कर ले, इस डर से वारंटियों ने घर आना ही छोड़ दिया है। पुलिस ने स्थायी वारंटियों को पकडऩे के लिए अभियान तो छेड़ दिया, लेकिन कोरोना ड्यूटी के बीच सभी थाना पुलिस को स्थायी वारंटियों को पकडऩा मुश्किल हो गया है। पुलिस का दावा है कि इन दिनों 100 से अधिक वारंटी गिरफ्तार किए जा चुके हैं।

स्थायी वारंटी व भगोड़े पुलिस के लिए सिरदर्द
पाली में करीब 1800 स्थायी वारंटी व 369 भगोड़े हैं। इनमें से कई तो पिछले आठ दस साल से फरार है। आपराधिक घटनाओं को अंजाम देने वाले ये वारंटी व भगोड़े आमजन के लिए भी खतरनाक है। इसलिए इनकी समय पर गिरफ्तारी जरूरी है। ऐसे में पुलिस ने इनको पकडऩे की ठानी। लेकिन जैसे ही पुलिस के अभियान की इनको खबर लगी, वे जिला छोडकऱ फरार हो गए। अब पुलिस उनके घर पर दबिश दे रही है, लेकिन वे मिल नहीं रहे हैं।

वारदात करें तो तुरंत पुलिस को सूचना दें
वारंटी व भगोड़े कहीं भी वारदातों को अंजाम दे सकते हैं। पुलिस ने आमजन से अपील की है कि वे ऐसे लोगों पर नजर रखे, कहीं भी कोई वारदात करें तो तुरंत सम्बंधित थाना पुलिस को सूचना दी जाए।

26 हार्डकोर अपराधियों पर भी नजर
बड़ी वारदातों व आए दिन अपराध करने वाले 26 हार्डकोर अपराधियों पर पुलिस की नजर है। कोरोना काल में पुलिस जिले के इन हार्डकोर पर शिकंजा कसने की तैयारी में है। लूट, अपहरण, हत्या, हत्या का प्रयास जैसी वारदातों को रोकने के लिए पुलिस ने इन हार्डकोर अपराधियों पर हर माह रिपोर्ट तैयार करने को कहा गया है।

वारंटियों को पकडऩे का काम भी साथ-साथ चलेगा
कोरोना ड्यूटी पुलिस कर रही है, साथ ही वारंटियों को पकडऩे का काम भी चलेगा। पुलिस ने अभियान छेड़ रखा है। बड़ी संख्या में वारंटी गिरफ्तार भी किए हैं। - कालूराम रावत, पुलिस अधीक्षक, पाली।

Suresh Hemnani
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned