सर्द रात में आसमान से बरसी आफत, पाला पड़ने से सब्जी की फसलें तबाह, किसानों के बुरे हाल

- मौसम के बदले मिजाज ने किसानों को दिया झटका
- ओस की बूंदों से सब्जी की 75 फीसदी फसलों को नुकसान

By: Suresh Hemnani

Updated: 30 Dec 2020, 09:56 AM IST

पाली/रायपुर मारवाड़। मौसम के बदले मिजाज से सर्द रात में आसमानी कहर बरस रहा है। आम आदमी इससे बचने का जतन कर रहा है, जबकि किसानों को दोहरी मार झेलनी पड़ रही है। आसमान से गिर रही ओस की बूंदे सब्जी की फसलों को तबाह कर रही हैं। क्षेत्र में बीते दो दिनों से पड़ रहे पाले की वजह से सब्जी की 75 फीसदी फसलें तबाह हो चुकी हैं। जबकि अनाज संबधित पैदावार को इससे ज्यादा नुकसान नहीं हुआ है। जिन किसानों ने सब्जी की बुवाई कर रखी थी उन्हें खासा नुकसान पहुंचा है। जिससे वे किसान काफी दुखी हैं।

दरअसल, इस आसमानी कहर के चलते सब्जी की फसलों पर बर्फ की चादर सी बिछ रही है। कटाई के मुहाने पर पहुंच चुकी ये पैदावार अब नष्ट हो रही है। दो दिनों में टमाटर, मिर्ची, बैंगन, लौकी, मटर सहित अन्य सब्जी 75 फीसदी तक खराब हो चुकी है। किसानों ने बताया कि अब उन्हें इस सब्जी को बचाने के लिए मौसम के तेवर कम होते ही दवा का छिडकाव करना पड़ेगा। जिससे कुछ हद तक राहत मिलेगी। जबकि जो उम्मीद से आधी सब्जी ही बच पाएगी। साथ ही उन्हे बेचने के लिए 20 से 25 दिन का इंतजार करना पड़ेगा।

इन्हें ज्यादा नुकसान नहीं
कृषि सलाहकार लक्ष्मण सैनी ने बताया कि जिन किसानों ने अपने खेतो में गेंहू, चना, इसबगोल, जीरा सहित अन्य फसलों की बुवाई की थी उन्हें इस आसमानी तबाही से ज्यादा नुकसान नहीं पहुंचा है। इसके पीछे वजह है कि गेंहू सहित अन्य फसलों में अभी तक बीज नहीं पड़े हैं। इससे वे तबाही से बच गई हैं।

महंगा हो सकता है जायका
यदि मौसम के मिजाज दुबारा सामान्य नहीं हुए तो मंडी में सब्जी कम पहुंचेगी। जिससे सब्जी के दाम बढ सकते हैं। ऐसे में आम आदमी की जेब पर महंगे दाम का भार पड़ सकता है। ऐसा हुआ तो जायका महंगा हो सकता है।

weather update
Suresh Hemnani
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned