सफेद कोट पहनकर ‘मौत’ से दिन-रात लड़ रहे जांबाज

-पाली के चिकित्सा विभाग ने जिला प्रशासन के साथ मिलकर संभाल रखा है मोर्चा

Suresh Hemnani

26 Mar 2020, 02:48 PM IST

-राजीव दवे
पाली। चीन के वुहान शहर [ Wuhan city of China ] से निकला मौत का वायरस [ Corona virus ] जब से भारत में आया है, हमारे यहां के सफेद कोट पहनने वाले जांबाज [ Medical team ] दिन-रात एक कर उससे जंग लड़ रहे हैं। इस जंग में ये जांबाज ना तो थक रहे हैं और ना ही रुक रहे हैं।

पाली जिले में कोरोना के संदिग्ध सामने आने से पहले ही चिकित्सा विभाग [ medical Department ] ने प्रशासन के साथ मिलकर मोर्चा संभाल लिया था। इस रणभूमि में 421 मेडिकल ऑफिसर के साथ 100 से अधिक मेडिकल ऑफिसर मेडिकल कॉलेज के भी उतार दिए गए। इनका साथ देने के लिए पैरा मेडिकल कार्मिक भी लगाए गए। जिले में आज 1763 चिकित्सा विभाग के और 700 से अधिक मेडिकल कॉलेज के कार्मिक को कोरोना पर विजय पाने की लड़ाई लड़ रहे हैं। कोरोना वायरस संक्रमित व्यक्ति के किसी वस्तु को छूने पर भी संक्रमण फैलने का खतरा रहता है।

इस खतरे को मिटाने के लिए 500 से अधिक सफाईकर्मी जी जान से जुटे हैं। वे अपनी जान की परवाह किए बिना दिन में कई बार अस्पताल के कोने-कोने को सेनेटाइज कर रहे हैं। जिले में 168 चिकित्सकों, 622 चिकित्सा कर्मियों, 1768 आशा सहयोगिनियों को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए प्रशिक्षित किया गया है। आशा सहयोगिनियां लगातार लोगों को जागरूक कर रही है। इधर नर्सिंग विद्यार्थियों ने 8 हजार 948 घरों में जाकर लोगों में कोरोना से बचने के उपाय बताए हैं।

Corona virus
Suresh Hemnani Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned