ऑक्सीजन लेवल पहुंचा 37, नहीं हारी हिम्मत, जीती जंग

-पाली शहर के सुभाष नगर बी की रहने वाली कमला देवी ने कोरोना को हराया

By: Suresh Hemnani

Published: 28 May 2021, 09:14 AM IST

पाली। परिवार में अप्रेल में विवाह था। उस समय बुखार आया तो दवा ली। इसके बाद विवाह खत्म होने पर फिर तबीयत बिगडऩे पर चिकित्सक को दिखाकर दवा ली, लेकिन पांच मई को स्वास्थ्य अधिक खराब होने पर भतीजा व बच्चे बांगड़ चिकित्सालय ले गए। उस समय ऑक्सीजन लेवल 60 था। जो अस्पताल की कोविड ओपीडी में दो घंटे बाद घटकर 37 पर पहुंच गया। इसके बावजूद हिम्मत नहीं हारी और आज स्वस्थ होकर घर लौट रही हूं। यह कहना है सुभाष नगर बी की रहने वाली कमला देवी का। जो गुरुवार को कोरोना की जंग जीतकर घर लौटी।

उनके भतीजे किशन खोरवाल ने बताया कि चाचीजी को अस्पताल लाने के बाद उनको करीब दस दिन तक तो ऑक्सीजन पर ही रखा गया। इसके बाद कुछ तबीयत ठीक हुई तो इएसआइ अस्पताल भेजा। वहां खुली हवा मिली। चाची ने योग व प्राणायाम शुरू किए। इसके बाद स्वास्थ्य में तेजी से सुधार आया। इएसआइ अस्पताल बंद होने पर उनको रोटरी क्लब भवन में शिफ्ट किया गया। वहां पर रोजाना सुबह योगाभ्यास कराया गया। जिसका परिणाम आज चाची ठीक है।

इंजेक्शन नहीं लगवाए, फलों का किया सेवन
कमला देवी ने बताया कि उन्होंने रेमडेसीवीर इंजेक्शन लगाने के बावजूद कई मरीजों की वार्ड में मौत हो गई। इस पर घबरा गई और इंजेक्शन लगवाने इनकार कर दिया। भोजन में दलिया और पौष्टिक आहार लिए। किवी, एपल और पपीता खाया। भोजन नहीं खाने की इच्छा होने पर भी खाना बंद नहीं किया।

Suresh Hemnani
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned