VIDEO : अतिरिक्त मुख्य सचिव व मनरेगा आयुक्त ने किया चारागाह विकास कार्यों का अवलोकन

-पाली जिले के सुमेरपुर क्षेत्र की गोचर भूमि पर अधिकारियों ने पौधरोपण कर पर्यावरण संरक्षण का किया आह्वान

Additional Chief Secretary and MNREGA commissioner inspected in pali :

By: Ramesh Sharma

Updated: 05 Sep 2019, 08:40 PM IST

पाली/सुमेरपुर/पावा। राज्य सरकार के पंचायतराज विभाग [ Panchayat Raj Department ] के अतिरिक्त मुख्य सचिव [ Additional Chief Secretary ] व नरेगा आयुक्त [ MNREGA commissioner ] ने गुरुवार को सुमेरपुर उपखण्ड [ Sumerpur Subdivision ] क्षेत्र के बांकली, नोवी व कोरटा में नरेगा योजना के तहत करवाए गए चारागाह विकास कार्यों का अवलोकन कर अधिकारियों को आवश्यक निर्देश प्रदान किए।

पंचायतीराज विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव राजेश्वरसिंह व नरेगा आयुक्त पीसी किशन गुरुवार दोपहर सुमेरपुर पहुंचे। यहां से अधिकारियों के साथ नोवी के लिए रवाना हुए। नोवी गांव में मनरेगा के तहत गोचर भूमि में करवाए गए चारागाह विकास कार्यों का अवलोकन किया। इस दौरान पंडित दीनदयाल उपाध्याय उद्यान में रोपे गए फलदार पौधों का अवलोकन किया। इससे पूर्व सरपंच मांगीलाल मालवीय ने अधिकारियों का साफा पहनाकर स्वागत किया। अधिकारियों ने गोचर भूमि के उद्यान मे पौधरोपण कर पर्यावरण संरक्षण [ Environment protection ] के लिए आगे आने का आह्वान किया।

कार्यक्रम में पाली जिला परिषद [ District Council ] के मुख्य कार्यकारी अधिकारी [ Chief Executive Officer ] हरिराम मीणा, अधिशासी अभियंता पीसी सुराणा, सुमेरपुर उपखण्ड अधिकारी राजेन्द्रसिंह सिसोदिया, विकास अधिकारी नारायणसिंह राजपुरोहित, तहसीलदार जवाहर चौधरी, सहायक अभियंता विजयआंनद व्यास, बांकली सरपंच निरजंनसिंह देवड़ा, ग्राम विकास अधिकारी निम्बाराम मीणा, गणपत मीणा, पटवारी रिडमलसिंह, जेटीए संदीप योगी समेत ग्रामीण व उपखण्ड स्तरीय अधिकारी मौजूद थे। इसके बाद अधिकारियों ने बांकली व कोरटा ग्राम पंचायत में मनरेगा योजना के तहत करवाए गए चारागाह विकास कार्यों का भी अवलोकन किया। बांकली में लगभग 4 हैक्टेयर भूमि में किए गए कार्यों की सराहना की। विकास अधिकारी ने बताया कि चारागाह विकास के तहत धामण घास भी बोई गई हैं। जिससे आने वाले समय में पशुओं के चारे की कोई परेशानी नहीं होगी।

माला देखकर एसीएस हुए मुग्ध
बांकली गांव में सरपंच निरंजनसिंह देवड़ा ने अतिरिक्त मुख्य सचिव व नरेगा आयुक्त को माला पहनाई। माला के फूलों की महक व बनावट देखकर अधिकारी मुग्ध हो गए। राजेश्वरसिंह ने कहा कि प्रदेशभर में दौरे होते हैं लेकिन एसी खुशबुदार माला पहली बार देखी। इस मौके पर उन्होंने कहा कि सुमेरपुर क्षेत्र में भूमि खूब हैं। अधिकाधिक भूमि पर चारागाह विकास करना चाहिए।

Ramesh Sharma Editorial Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned