गोडवाड़ नहीं छोड़ रही टिड्डियां, किसान परेशान

-कृषि विभाग के अधिकारी व किसान कर रहे बचाव का जतन

Attack of Tiddi Dal in Pali :
-खेतों में फसलों को काफी नुकसान

By: Suresh Hemnani

Updated: 03 Jan 2020, 04:38 PM IST

पाली। Attack of Tiddi Dal in Pali : बाड़मेर, जालोर व सिरोही के बाद टिड्डियों ने पाली जिले की सीमा पर धावा बोल दिया है। पिछले सोमवार से ही टिड्डियों के दल की गोडवाड़ क्षेत्र में घुसपैठ जारी है, जिससे किसानों को खासा नुकसान हो रहा है। किसान खेतों में धुआं कर बचाव का जतन कर रहे हैं। हालांकि, कृषि विभाग [ Agriculture Department ] के अधिकारी स्प्रे का दावा तो कर रहे हैं। लेकिन, अभी तक हालात काबू में होते नजर नहीं आ रहे।

दरअसल, जिले की बाली तहसील के आमलिया व लक्ष्मणपुरा के जोड़ में टिट्डी दल ने अपना पड़ाव डाल दिया है। टिट्डी दोपहर बाद सिरोही जिले के पहाड़ी क्षेत्र में चली जाती है और सुबह वापस बाली तहसील के सीमावर्ती गांवों में आ जाती है। ऐसे में ग्रामीण अपने खेतों में ढोल व थाली बजा रहे हैं तो धुआं करके भी टिड्डियों को भगाने का जतन कर रहे हैं। इधर, कृषि विभाग के कार्मिक किसानों के साथ मिलकर खेतों की मेड़ पर स्प्रे व धुआं कर रहे हैं, लेकिन इनका पूरा सफाया नहीं हो पाया है। इसे लेकर विभागीय अधिकारियों की टीम भी गठित की है।

गेहूं, जीरा व चने में नुकसान
सिरोही जिले की सीमा से लगते गांवों में टिड्डी दल ने खेतों में गेहूं, जीरा, चना व सरसों की फसलों को नुकसान पहुंचाया है। हालांकि, किसानों ने बचाव के जतन तो किए। लेकिन, फिर भी अपनी फसलों को नहीं बचा पाए।

इधर, ट्रैक्टर माउंटेड स्प्रेयर तैयार
जिले में टिट्डी की दस्तक को लेकर कृषि विभाग के अधिकारी किसानों को सचेत कर रहे हैं तो टै्रक्टर माउंटेड स्पे्रयर तैयार करवाए हैं। साथ ही फसलों के बचाव के लिए क्लोरो पायरोफोस 20 प्रतिशत ईसी 1.2 लीटर, क्लोरो पायरिफोस 50 ईसी 480 एमएल या बेन्डियोकार्ब 80 प्रतिशत 2.92 प्रतिशत ईसी 144 एमएल का स्प्रे करने की सलाह दे रहे है।

लगातार कर रहे निगरानी
बाली तहसील के गांवों में कृषि विभाग की टीमें लगातार दौरे कर किसानों को जागरूक कर रहे हंै। खेतों में रसायनों का स्प्रे करवा रहे हैं। साथ ही खेतों की मेड़ पर धुआं कर टिट्डी दल को भगा रहे है। दोपहर बाद टिट्डी सिरोही जिले में चली जाती है और सुबह वापस बाली तहसील के गांवों में आ जाती है। टिड्डी दल का अभी तक यहां पर ही जमावड़ा है। -शंकराराम बेड़ा, उपनिदेशक, कृषि विभाग विस्तार

Suresh Hemnani
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned